कहां से आई बिल्ली


क्या आप जानते हैं कि बिल्ली एक ऐसा जीव है जिसे ब्रिटेन और अमेरिका में सबसे ज्यादा पाला जाता है। शायद ही विश्व का कोई ऐसा महाद्वीप हों जहां पर जंगली या घरेलू बिल्‍िलयां न पाई जातीं हों। बिल्ली अच्छी और बुरी दोनों हैं, यह एक ऐसा जीव है जो अपने मालिक की आज्ञाओं का पालन करता है। लाखों वर्ष से विकास की एक चरम प्रक्रिया ने इस जंगली जानवर को पालतु बनाया है।
गौरतलब है कि 4000 ई.पू. मिश्र के लोग बड़े-बड़े घरों में अनाज का भंडारण करते थे। उनकी प्रमुख समस्या चूहों से उस अनाज के भंडार की रक्षा करना था। उस समय तक चूहों से अनाज की रक्षा करने के लिए उन लोगों के पास कोई युक्ति नहीं थी। मिश्रवासियों को जब यह पता चला कि जंगली बिल्ली को पालतु बनाकर वे अपने अनाज के भंडारों की चूहों आदि जैसे जीवों से हिफाजत कर सकते हैं तो उन्होंने इस जंगली बिल्लियों को घरों में पालना शुरू किया। जल्द ही जंगली बिल्‍लयां मिश्रवासियों के घर के सदस्य की तरह उनके परिवार में रम गई।
यह बिल्‍लयों और आदमजाति की दोस्ती की शुरूआत थी। इसी प्रक्रिया के मद्देनजर मिश्रवासियों ने बिल्‍लयों की हत्या पर पाबंदी लगाई और उनके शिकार करने पर दंड का प्रावधान रखा। उन्होंने बिल्‍लयों को अपने धार्मिक चिन्हों में भी जगह दी और उसकी मृत्यु के पश्चात उसके शव की ममी बनाने की प्रक्रिया भी शुरू की। एक लम्बे समय तक मिश्र से बिल्ली को किसी अन्य जगह ले जाने पर रोक थी इसलिए कुछ लोगों ने तस्करी के जरिए इसे एशिया और यूरोप के अन्य देशों में भी भेजा। धीरे-धीरे मिश्र में बिल्लियों की संख्‍या बढ़ने लगी और मिश्रवासियों ने इसे रोम में बेचना शुरू किया। 18 वीं शताब्दी के अंत तक बिल्ली एक पालतु जीव बन गई।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *