क्या आपको पता है चीन की दीवार की ये विशेष बात


क्या आप जानते है विश्व के 7 आश्चर्यों में से एक  चीन की दीवार को पूरा करने में कई सदियां लग गई थी। चीन की दीवार के बारे में ऐसे ही कई तथ्य है जिनके बारे में बहुत कम लोग जानते है :

  1. चीन की दीवार का निर्माण राजा किन शिहुआंग ने 2800 साल पहले यानि की 7वीं शताब्दी में शुरू करवाया था तथा इसके निर्माण में करीब दो हजार साल लग गए थे।
  2. एक अनुमान के अनुसार इन दो हज़ार सालो में 20 से 30 लाख लोगों ने अपना पूरा जीवन इस दीवार के निर्माण में लगा दिया था।
  3. 19वीं शताब्दी में इसका दीवार का नाम ग्रेट वॉल ऑफ चाइना रखा गया इससे पहले इसे रमपंत, परपल फ्रॉंट्रियर, अर्थ ड्रैगन नाम से जाना जाता था |
  4. इस दीवार उन हिस्सों को जो इससे जुड़े हुए नहीं है, अगर जोड़ दिया जाए तो इसकी कुल लम्बाई 8848 किलोमीटर हो जाएगी, जो अपने आप में कृतिमान है तथा इस दीवार की अधिकतम ऊंचाई 35 तक है।
  5. इस दीवार में कई निरिक्षण मीनारें भी बनवाई गयी थी जहाँ से दुश्मनों पर नजर रखी है ।
  6. दुनिया का सबसे लंबा कब्रिस्तान भी इस दीवार को ही कहा जाता हैं क्योंकि दीवार के निर्माण में जो लोग असावधानी बरतते थे, उन्हें इसकी दीवार की नींव में दफना दिया गया था।
  7. चीन की दीवार की अधिकतम ऊंचाई 35 तक है।
  8. 1211 में चंगेज खान ने इस दीवार को तोड़कर चीन पर हमला किया था।
  9. दीवार में लगे पत्थरों को जोड़ने में चावल के आटे का इस्तेमाल किया गया था ।
  10. यह एक मात्र मानव निर्मित ऐसी आकृति है जिसे आकाश से से देखा जा सकता है।
  11. दीवार विश्व की दूसरी सबसे लम्बी दीवार भारत में स्तिथ कुम्भलगढ़ की दीवार है।
  12. दीवार इतनी चौड़ी है कि उस पर एक साथ 5 घोड़े या 10 लोग पैदल चल सकते हैं।
  13. हर साल लगभग एक करोड़ पर्यटक चीन की दीवार को देखने आते है |
  14. चीन की दीवार कोस्थानीय भाषा में ‘वान ली छांग छंग’ कहा जाता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें

Leave a Reply