इस मंदिर में भगवान शिव को पानी में किया जाता है कैद, जिससे भरपूर हो बारिश


भारत में भगवान शिव के अनेक शिवालय है, परन्तु एक ऐसा शिवालय भी है  जहां भगवान शिव को ही पानी में कैद कर के रखा जाता है ।

जैसा कि आज कल सावन का महिना चल रहा है, जिसे शिव का महीना भी माना जाता है । चारो तरफ का वातावरण शिवमय होता है | इस महीने में लोग भगवान शिव के मंदिर में शिवलिंग का जलाभिषेक करते हैं | मगर एक मंदिर ऐसा भी है जहां पर शिव भक्त शिव का जलाभिषेक नहीं करते, उल्टा शिवलिंग को पूरी तरह से पानी में डुबा देते हैं।

lingam-1

मध्य प्रदेश के श्योपुर के क्षेत्र के सोंईकलां कस्बे में 100 वर्ष से भी ज्यादा पुराना शिवालय स्थित है | यहाँ की विशेषता यह है कि स्थानीय लोग प्रतिवर्ष सावन के पहले सोमवार को मंदिर के शिवलिंग को पानी में डुबा देते हैं । लोगो के अनुसार अच्छी पैदावार तथा सही बारिश के लिए भगवान शिव के इस मंदिर को पानी से भर दिया जाता है। सिर्फ शिवलिंग ही नही साथ में  नंदी की प्रतिमा को भी पानी में डुबो दिया जाता है। यदि बारिश का स्तर अच्छा होता है तभी  इस मंदिर के जल को सावन माह में ही निकाला जाता है | अगर बारिश सही तरह से न हो तो  इस मंदिर में जल ऐसे ही भरे रहने देते है। अत: ऐसा कहा जा सकता है कि भगवान शिव से सही पैदावार और बारिश की कामना के लिए स्थानीय लोग ऐसा कार्य करते हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें

Leave a Reply