नवरात्रि 2016: नौ दिनों में होती है मां के अलग अलग रूपों की पूजा


सनातन धर्म में नवरात्र माता भगवती की पूजा अर्चना करने का श्रेष्ठ समय होता है। पूरे भारत में नवरात्रि विशेष हर्षोल्लास से मनाया जाता है। पुराणों में भी नवरात्र की महिमा का बखान किया गया है। यूं तो वर्ष भर में चार नवरात्रें चैत्र, आषाढ़, आश्विन और माघ महीने की शुक्ल प्रतिपदा से नवमी तक नौ दिन के होते हैं, परंतु प्रसिद्धि में चैत्र और आश्विन के नवरात्र ही मुख्य माने जाते हैं। इनमें भी देवीभक्त आश्विन के नवरात्र अधिक करते हैं। इनको यथाक्रम वासन्ती और शारदीय नवरात्र भी कहते हैं। इनका आरम्भ क्रमश: चैत्र और आश्विन शुक्ल प्रतिपदा से होता है।

नवरात्रों के इन पावन दिनों में भक्त हर दिन मां के अलग अलग रूपों की पूजा करते हैं, जो किसी भी जातक को शांति, सुख और समृद्धि प्रदान करती हैं।

जानते हैं मां के इन नौ रूपों के बारे में विस्तार से :

[masterslider id=”36″]

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें

Leave a Reply