स्वास्थ्य

लंबी जिंदगी के लिए आठ गुणसूत्र

वैज्ञानिकों ने आठ ऐसे जींस खोज निकाले हैं, जो लंबी और तंदुरूस्त जिंदगी के सूत्र साबित हो सकते हैं। किंग्स काॅलेज लंदन में चल रहे इस शोध के दौरान वैज्ञानिकों ने शरीर में होने वाले आठ जेनेटिक बदलावों का अध्ययन किया। ये उस हार्मोन के उत्पादन को नियत्रिंत करता है जो बुढ़ापे और उसके साथ आने वाली बीमारियों से जुड़ा हुआ है। वैज्ञानिकों का मानना है कि डीएनए संरचना में बदलाव लाकर उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को कंट्रोल किया जा सकता है। ये जीन्स शरीर में काफी मात्रा में पाए जाने वाले और कई कामों के लिहाज से बेहद अहम डीहाईड्रोपेनड्रोस्टेरोन सल्फेट स्टेराॅयड के स्तर में नियंत्रित करते हैं। अगर इस स्टेराॅयड में परिवर्तन किया जा सके, तो उम्र बढ़ने की प्रक्रिया की रफ्तार कम की जा सकती है। टीम लीडर डाॅ. गुआंडू झाई कहते हैं कि खोज से शोधकर्ताओं को यह पता करने में आसानी होगी कि उम्र के मामले में डीएचईएएस का क्या रोल है डाॅ. झाई बताते हैं कि बदलाव या जीन थेरेपी के जरिए हम उम्र बढ़ने की प्रक्रिया और उससे जुड़ी बीमारियों को नियत्रिंत कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें
Title: gene linked to long life | In Category: स्वास्थ्य  ( health )

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *