आलेख मनोरंजन

2017 की वो फिल्में अगर आप ने नहीं देखीं तो किया बड़ा नेक काम

इसे बॉलीवुड का दुर्भाग्य ही कहेंगे कि 2017 में सफल फिल्मो की गिनती न के बराबर है | जहाँ छोटे बजट की ‘न्यूटन’,  ‘बरेली की बर्फी’ जैसी फ़िल्मो ने तारीफे लूटी, तो दूसरी तरफ बड़े स्टार कास्ट और बजट वाली फिल्मे औंधे मुंह गिर गयी | 2017 में कुछ बड़े बजट की फिल्मे तो ऐसी थी जिन्हें देखकर सिर्फ सर दर्द ही हो सकता है | चलिए आपको 2017 में आयी ऐसी फिल्मे बता रहे है जिन्हें भूलकर भी न देखे |

begamjaan

बेग़म जान 

07 अप्रैल 2017 को सृजित मुखर्जी द्वारा निर्देशित फिल्म आई बेगम जान, जिसमे विद्या बालन, इला अरुण, नसीरुद्दीन शाह, रजित कपूर, गौहर खान, आशीष विद्यार्थी, चंकी पाण्डेय और विवेक मुशरान जैसे मंझे हुए कलाकार थे | फिल्म का ट्रेलर बाज़ार और मंडी जैसी संवेदनशील फिल्मो की याद दिलाता था, मगर जब लोगो ने फिल्म देखी तो खुद को ठगा हुआ महसूस किया | बेग़म जान 2015 में बनी शानदार बंगाली फिल्म ‘राजकाहिनी’ का रीमेक थी, जो कि एक ब्लाक बस्टर थी | बंगाली में फिल्म का निर्देशन सृजित मुखर्जी ही ने किया और इस फिल्म से हिंदी सिनेमा में एंट्री कर रहे थे | सशक्त कहानी, मंझे हुए डायरेक्टर और जानदार कलाकारों के बावजूद फिल्म में कही कुछ कमी रह गयी जिसके चलते दर्शक ने इस फिल्म को एक सिरे से नकार दिया |

2017 movie bollywood movie who destoryed your mood

भूमि

मैरी कॉम से तारीफ लूट चुके निर्देशक ओमंग कुमार 22 सितंबर 2017 को फिल्म लेकर आये, नाम था भूमि | मुख्य भूमिका में संजय दत्त, अदिति राव हैदरी और शरद केलकर जैसे बेहतरीन कलाकार होने के बावजूद फिल्म को किसी ने पूछा तक नहीं | इस फिल्म के लिए तमाम क्रिटिक्स की एक ही राय थी कि ये साल की सबसे बेकार फिल्मों में से एक है | फिल्म को संजय दत्त को कमबैक बोलकर भी प्रचार किया गया मगर निर्देशक भूल गए कि संजय दत्त या तो अब मल्टीस्टारर फिल्मे में ही अच्छे लगते है या साइड हीरो के रोल में | ऊपर से एक लाइन की कहानी को 2 घंटे तक खीचना ही इस फिल्म को ले डूबा |

 

maxresdefault-2

सिमरन

15 सितंबर 2017 को सिटीलाइट फ्रेम हंसल मेहता की सिमरन जिसमे मुख्य भूमिका में कंगना रानौत थी | कंगना ने हर बार अपनी एक्टिंग से अपने चाहने वालो का मनोरंजन किया है तो दूसरी तरफ  ‘शाहिद’, ‘सिटी लाइट्स’ और ‘अलीगढ़’ जैसी फ़िल्में बनाने वाले हंसल मेहता | ‘क्वीन’ और ‘तनु वेड्स मनु रिटर्न्स’ में तारीफे लूटने वाली कंगना ही पूरी फिल्म में एकलौता ट्रंप कार्ड था, मगर कमज़ोर कहानी वाली ये फिल्म सब कुछ ले डूबी | फिल्म को चलाने के लिए कंगना ने स्टंट भी किया और रिलीज से पहले हृतिक पर इल्जामो की बौछार कर दी मगर सब बेकार साबित हुआ |

download

सरकार – 3

पिछले कई वर्षो से बॉलीवुड डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा से एक बेहतरीन फिल्म की आश लगाये बैठा है तो वर्मा ने भी लोगो की अग्नि-परीक्षा लेने की ठान रखी है, जिसके चलते वो 21 मई 2017 को फिल्म सरकार 3 लेकर आये, जिसमे अमिताभ बच्चन, जैकी श्रॉफ, मनोज बाजपेयी और यामी गौतम जैसे बॉलीवुड के नामचीन कलाकार थे | दिन-ब-दिन वर्मा की फिल्मो के गिरते स्टैण्डर्ड ने इस फिल्म को साल की सबसे बड़ी सर दर्द के तौर पर दर्शको के सामने पेश किया हालाँकि वो ऐसा पहले कई बार कर चुके है | मगर उन्होंने बॉलीवुड कई मास्टरपीस फिल्मे भी दी है और यही कारण है कि लोग बार बार वर्मा से उम्मीद करते है, यकीनन इस फिल्म को देखने वाले ये गलती कभी नहीं करेंगे |

 

maxresdefault-1

बादशाहो

अजय देवगन, इमरान हाशमी, विद्युत जामवाल, ईशा गुप्ता और इलियाना डी’क्रूज़ की उपस्थिति वाली बादशाहों 01 सितंबर 2017 को दर्शको के बीच आई जिसका निर्देशन मिलन लुथरिया ने किया था | फिल्म को पीरियड ड्रामा बनाना है या थ्रिलर या दोनो, यही कशमकश इस फिल्म को ले डूबी | जो कहानी कागजों पर अच्छी और सुहावनी लगती है, वो सुनहरे पर्दे पर बेदम निकली | न तो पीरियड ड्रामा वाला फील था, न ही थ्रिलर का रोमांच कुछ था तो कलाकारों का बार बार अपनी सिग्नेचर लाइन को दोहराना | मिलन लुथरिया और अजय देवगन ने कई हिट फिल्मे दी है मगर ये बात यहाँ भी काम नहीं आई | भारत में अचानक हिट हुई नुसरत साहब की कव्वाली ‘रश्क-ए-क़मर’ भी लोगों को सिनेमा हॉल तक खींच लाने में नाकाम रही |

maxresdefault

ट्यूबलाइट

23 जून 2017 को कबीर ख़ान द्वारा निर्देशित ट्यूबलाइट दर्शको के बीच आई, जिसमे सलमान ख़ान, सोहेल ख़ान, ओम पुरी और  मुहम्मद जीशान अय्यूब जैसे कलाकार थे |  दर्शको को सलमान और कबीर से एक बार फिर बजरंगी भाईजान जैसे किसी इमोशनल ड्रामे की उम्मीद थी| पहला दिन पहला शो हाउसफूल रहने वाली यह फिल्म दूसरे शो में ही ठंडी हो गयी | कई लोगो ने फिल्म देखने के विचार को कैंसिल कर और कोई प्रोग्राम बना लिया तो वांटेड के बाद से लगातार सुपरहिट फिल्म देने वाले सलमान के लिए यह फिल्म किसी बुरे सपने जैसी थी | सशक्त कहानी होने के बावजूद इस कमज़ोर फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर नुकसान भी उठाया |

jab-harry-met-sejal-movie-dialogues

जब हैरी मेट सेजल

रॉकस्टार फेम इम्तियाज़ अली जब शाहरुख़ ख़ान और  अनुष्का शर्मा को लेकर फिल्म बना रहे थे, तो दर्शको की फिल्म से कुछ ज्यादा ही उम्मीद बंध गयी थी | 4 अगस्त 2017 को फिल्म जब हैरी मेट सेजल रिलीज हुयी तो मानो एक बार फिर जनता को ठगा हुआ सा महसूस हुआ | फिल्म में कहानी कम और गीतों की भरमार फिल्म को और बोझल बना रही थी | इम्तियाज़ और शाहरुख़ का जादू यहाँ कुछ कमाल करेंगे ऐसा सोचने वाले दर्शको को सबसे बड़ा झटका लगा | शाहरुख़ ने इम्तियाज़ को उनके करियर की सबसे ख़राब फिल्म दे दी |

 

 

 

 

Read all Latest Post on आलेख bollywood_article in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें
Title: 2017 movie bollywood movie who destoryed your mood in Hindi  | In Category: आलेख bollywood_article

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *