फिल्म समीक्षा

Sanju : sanju movie review in hindi: रणबीर कपूर की दमदार प्रस्तुति

रणबीर कपूर अब तक जिस सही मौके की तलाश कर रहे थे, आखिरकार उन्हे वो मिल ही गया, यदि फिल्म संजू को देखकर आप भी यहीं कहे तो ये बात शत-प्रतिशत सही है। फिल्म संजू के रिलीज होने के बाद पूरे भारत में लोगों की जुबान पर कोई नाम है तो वो सिर्फ रणबीर कपूर का नाम और उनके काम का ज़िक्र है। “नोट दो तरह के होते हैं, पहला खरा जिसे आप जितना भी खींच लो उसका कुछ नहीं बिगड़ता और दूसरा खोटा, जो कि जरा सा भी खींचने पर फट जाता है” अगर फिल्म के इस डायलॉग को ही फिल्म का सार मान लिया जाए तो गलत न होगा।

फिल्म की कहानी में ऐसा कुछ नया नहीं है, शायद आपने अखबारों में संजय दत्त के बारे में पढ़ा हो, मगर आप यदि इस मूवी को देख संजू बाबा के बारे में बनी अपनी राय को बदलने के लिए तैयार हो जायेंगे। फिल्म में कुछ काल्पनिक पात्र भी जोड़े गए हैं, जो कहानी की डिमांड थे और आपको इससे बेहतर फिल्म आने वाले कई हफ़्तों तक कोई दूसरी नहीं मिलने वाली। फिल्म हँसाती भी है और रुलाती भी है।

रणबीर कपूर ने आख़िरकार साबित कर ही दिया कि उनकी रगों में भी कपूर खानदान का ही खून दौड़ रहा है। संजू के किरदार में रणबीर कपूर इतना फबे हैं कि कहीं कहीं पर आपको रणबीर नहीं बल्कि संजय दत्त नज़र आयेंगे। परेश रावल सुनील दत्त के किरदार में जबरदस्त लगे हैं और इन दोनों के इमोशनल रिलेशनशिप ने तो जैसे फिल्म में जान ही डाल दी हो ।

नरगिस के रोल में मनीषा कोइराला, अमेरिकी दोस्त कमलेश के रोल विकी कौशल और संजू के ड्रगिस्ट दोस्त जुबिन के रोल में जिम सरभ ने कमाल कर दिया हैं। मान्यता के रोल में दीया मिर्जा और राइटर विनी के रोल में अनुष्का शर्मा भी अपने किरदार के हिसाब से अच्छी लगी हैं।

फिल्म का गीत हर मैदान फतह पहले ही लोगों की जुबा पर चढ़ चुका है। कुल मिलाकर इस हफ्ते आप इस फिल्म को बिलकुल मिस न करे।

वीडियो में देखिए मूवी रिव्यू

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें
Title: sanju movie review the ranbir kapoor starrer is a tamer version of the real life hellraiser

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *