शिवाय के हर सीन में मैं रो पड़ी सायशा


नई दिल्ली: हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में बड़े कलाकारों के बच्चों के डेब्यू करने की होड़ लगी है. इस भीड़ को चीरती हुई 19 वर्षीया सायशा सैगल फिल्म ‘शिवाय’ से अपनी फिल्मी पारी की शुरुआत करने जा रही हैं. सायशा गैर फिल्मी माहौल में पली-बढ़ी हैं, लेकिन उन्होंने शुरू में ही ठान लिया था कि उनकी मंजिल का रास्ता इसी इंडस्ट्री से होकर गुजरता है. वह ‘शिवाय’ को दिल से जुड़ी हुई फिल्म बताते हुए कहती हैं कि ‘फिल्म इतनी भावुकतापूर्ण है कि मैं इसके हर सीन में रोई हूं.’

सायशा ने ‘शिवाय’ से पहले एक तेलुगू फिल्म भी की है. उन्होंने फिल्म से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर दिल खोलकर बात की. यह पूछने पर कि उन्हें यह फिल्म कैसे मिली? उन्होंने बताया, ‘अजय सर ने मेरी तस्वीरें देखी थीं. मैं इसके बाद उनसे मिलने गई. दर्जनभर स्क्रीन टेस्ट से गुजरने के बाद फिल्म के लिए चुनी गई. दिलचस्प यह है कि मैंने अपने 17वें जन्मदिन पर यह फिल्म साइन की थी.’ इस फिल्म में सायशा अनुष्का नाम की लड़की का किरदार निभा रही हैं. यह पूछने पर कि वह फिल्म में अपने किरदार को किस तरह देखती हैं, उन्होंने बताया, ‘फिल्म में मेरा किरदार काफी भावुक है. मैं इसमें अनुष्का नाम की लड़की का किरदार निभा रही हूं जो बहुत ही खुले खयालात की लड़की है. उसका अपने पिता के साथ मजबूत जुड़ाव है.’

यह पूछने पर कि एक अभिनेता और निर्देशक के तौर पर अजय के साथ काम करना का अनुभव कैसा रहा, जवाब में सायशा ने कहा, ‘अजय एक अभिनेता के तौर पर शानदार तो हैं ही, लेकिन निर्देशक के तौर पर उनकी स्फूर्ति और दृष्टिकोण गजब का है. वह परफेक्शन में यकीन करते हैं. उन्होंने फिल्म के लिए 18 से 20 घंटे लगातार काम किया है.’ सायशा इंडस्ट्री के दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार और सायरा बानो की नातिन हैं, लेकिन उनके घर का माहौल गैर फिल्मी रहा है. गैर फिल्मी माहौल के बीच उन्होंने इंडस्ट्री से जुड़ने का फैसला कब किया? पूछने पर वह कहती हैं, ‘मैं फिल्मी माहौल में पली-बढ़ी नहीं हुई हूं. मेरा ध्यान बचपन से ही पढ़ाई पर रहा, लेकिन दिल में अभिनेत्री बनने की चाह मुझे इंडस्ट्री में खींच लाई.’

यह पूछने पर कि फिल्म का कोई एक खास दृश्य, जिससे वह खासी प्रभावित हुई हों या जो उनके दिल को छू गया है. सायशा कहती हैं, ‘आप यकीन नहीं करेंगे. मैं फिल्म के हर दृश्य में रोई हूं. इस फिल्म में ग्लिसरीन का बिल्कुल भी इस्तेमाल नहीं किया. लेकिन हां, एक दृश्य है जो मेरे दिल के बहुत करीब है. फिल्म के अंत में हवाईअड्डे का एक सीन है जिसने मुझे अंदर तक झकझोर कर रख दिया था.’ फिल्म की शूटिंग हिमालय और बुल्गारिया में हुई है. सायशा ने बताया, ‘इतने ठंडे स्थानों पर शूटिंग करना अपने आप में एक चुनौती थी. मुझे याद है कि हम लोग शूट करते थे और फिर हीटर के आसपास इकट्ठे हो जाते थे.’

सायशा की पहली फिल्म शुक्रवार को रिलीज होने जा रही है. वह अपने सुनहरे भविष्य की कामना करते हुए कहती हैं, ‘मैंने सोचा लिया है कि मुझे हर तरह की फिल्में करनी हैं. किसी खास विधा (जॉनर) की फिल्मों में बंधकर नहीं रहना है. अच्छे निर्देशकों के साथ काम करने की इच्छा है, ताकि उनसे काफी कुछ सीख पाऊं.’

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *