“16 somwar vrat vidhi - बड़ी खबरें

धर्म कर्म

क्यों लिपटे रहते हैं भगवान शिव के गले में वासुकि नाग

नागलोक के राजा वासुकि, भगवान शिव के परम भक्त थे तथा पुराणों के अनुसार सर्वप्रथम शिवलिंग की पूजा का प्रचलन भी नाग जाति के लोगों ने ही शुरू किया था। भगवान शिव ने वासुकि की भक्ति से प्रसन्न होकर उन्हें अपने गणों में शामिल कर लिया था और भगवान शिव  के साथ हमेशा के लिए […]
धर्म कर्म

क्यों रखते है श्रावण के सोमवार का व्रत, जानिये

श्रावण मास के सोमवारों में शिव जी की आरती के साथ पूजा कर व्रत रखने का विशेष महत्त्व है। भगवान शिव जी भी इस माह व्रत रखने वाले अपने भक्तों से प्रसन्न होते है अत: शिव भक्तों के लिए इस माह में व्रत रखना बेहद शुभदायी और फलदायी होता हैं। श्रावण मास के सोमवार को […]
धर्म कर्म

सोलह सोमवार व्रत कब और कैसे करें शुरू

कोई भी व्रत (Fast) शुरू करने से पूर्व उसके प्रारम्भ मास, पक्ष, तिथि तथा विधि का ज्ञान होना अतिआवश्यक होता है । श्रावण माह में महादेव शिव की पूजा-अर्चना करने का विशेष महत्व होता है क्योकि सोलह सोमवार के व्रत श्रावण के प्रथम सोमवार से प्रारम्भ हो जाते है, जिन्हें रखने पर व्रती को विशेष […]
धर्म कर्म

सोलह सोमवार के व्रत में भोजन का भी होता  विशेष महत्व

Solah Somvar vrat food : सोमवार व्रत के दौरान भोजन का भी विशेष महत्व होता है, आइए खुलासा डॉट इन में जानते हैं कि श्रावण मास में सोलह सोमवार के व्रत के दौरान कैसा भोजन लेना चाहिए। सोलह सोमवार के व्रत (Somvar Vrat) का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है अत: इस व्रत में अविवाहित […]
धर्म कर्म

सावन माह शिव व शिवलिंग का महत्व

आखिर क्यों सावन माह में शिव, सोमवार और शिवलिंग का महत्व बढ़ जाता है ? दरअसल भगवान शिव को सावन मास, सोमवार तथा शिवलिंग ये तीनों अतिप्रिय है। जुलाई या अगस्त के महीने से सावन मास आरम्भ होता है, जिसके चलते इन महीना में अनेक महत्वपूर्ण त्योहार जैसे — ‘हरियाली तीज’, ‘रक्षा बन्धन’, ‘नाग पंचमी’  […]
धर्म कर्म

दस गुना ज्यादा लाभ मिलता है सावन माह में महामृत्युंजय मंत्र के जप से

महामृत्युंजय मंत्र : ॐ ह्रौं जूं सः। ॐ भूः भुवः स्वः। ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्‌। उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात्‌। स्वः भुवः भूः ॐ। सः जूं ह्रौं ॐ॥   महामृत्युंजय मंत्र जपने से अकाल मृत्यु को टाला जा सकता है, परन्तु श्रावण मास में महामृत्युंजय मंत्र का जाप 10 गुना अधिक फलदायी हो जाता है । […]
धर्म कर्म

सोमवार व्रत की सोलह विशेष बातें, जो बदल देंगी जीवन

सोलह सोमवार की सोलह विशेष बातें श्रावण के महीने में जब हर तरफ बम बम की गूंज सुनाई देती है, ऐसे में महादेव के भक्तों के लिए सोमवार का व्रत विशेष फलदायी होता है। जहां इस व्रत को करने से कुंवारे लोगों को अपना मनचाहा वर प्राप्त होता है वहीं शिव भक्तों को इस व्रत […]
धर्म कर्म

सोलह सोमवार व्रत कथा | Somvar Vrat Katha In Hindi

पुराणों में देवाधिदेव महादेव शिव शंकर को हजारों नाम से परिभाषित किया गया है। कहीं ये सिर्फ बेलपत्र, भांग और धतूरे से खुश हो जाने वाले भोले बाबा हैं तो कहीं, समुद्र से निकले अथाह विष को पीने वाले नीलकंठ, सृष्टि के प्रलय के समय ये प्रलयंकर का रूप लेते हैं और जब प्रसन्न होकर […]
धर्म कर्म

सावन को ही क्यों कहा जाता है शिव का महीना

ये तो सभी जानते हैं कि सावन का माह शिव पुजन के लिए सबसे उपयुक्त समय होता है। जहां एक ओर सावन में भक्त कांवर लाकर अपने भोले पर जल चढ़ाते हैं, वहीं कई लोग इसी माह को रूद्राभिषेक और शिव की कई तरह की साधनाओं के लिए सबसे सही समय बताते हैं। पौराणिक धर्मग्रंथों […]
धर्म कर्म

दारिद्र्य दहन शिव स्तोत्र के पाठ से मिलती है अथाह सम्पत्ति

शास्त्रों के अनुसार सांसारिक सुखों का आधार शिव ही हैं तथा शिव की उपासना से तन, मन व धन से जुडी कामनाओं में आने वाली बाधाओं दूर हो जाती है अत: स्थिर लक्ष्मी की प्राप्ति   के लिए सावन के महीने में दारिद्रय दहन स्तोत्र का पाठ अवश्य करना चाहिए | शास्त्रों के अनुसार दरिद्रता एक […]