“16 somwar vrat vidhi - बड़ी खबरें

धर्म कर्म

क्यों रखते है श्रावण के सोमवार का व्रत, जानिये

श्रावण मास के सोमवारों में शिव जी की आरती के साथ पूजा कर व्रत रखने का विशेष महत्त्व है। भगवान शिव जी भी इस माह व्रत रखने वाले अपने भक्तों से प्रसन्न होते है अत: शिव भक्तों के लिए इस माह में व्रत रखना बेहद शुभदायी और फलदायी होता हैं। श्रावण मास के सोमवार को […]
धर्म कर्म

सोलह सोमवार व्रत कब और कैसे करें शुरू

कोई भी व्रत (Fast) शुरू करने से पूर्व उसके प्रारम्भ मास, पक्ष, तिथि तथा विधि का ज्ञान होना अतिआवश्यक होता है । श्रावण माह में महादेव शिव की पूजा-अर्चना करने का विशेष महत्व होता है क्योकि सोलह सोमवार के व्रत श्रावण के प्रथम सोमवार से प्रारम्भ हो जाते है, जिन्हें रखने पर व्रती को विशेष […]
धर्म कर्म

सोलह सोमवार के व्रत में भोजन का भी होता  विशेष महत्व

सोलह सोमवार के व्रत का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है अत: इस व्रत में अविवाहित कन्याएं मनवांछित वर की कामना, तो विवाहित महिलाएं जीवन में सुख, शांति व समृद्धि की कामना के साथ इस व्रत को रखती है । भगवान शिव की आराधना के लिए किये जाने वाला यह उपवास यदि सावन माह के […]
धर्म कर्म

सावन माह शिव व शिवलिंग का महत्व

आखिर क्यों सावन माह में शिव, सोमवार और शिवलिंग का महत्व बढ़ जाता है ? दरअसल भगवान शिव को सावन मास, सोमवार तथा शिवलिंग ये तीनों अतिप्रिय है। जुलाई या अगस्त के महीने से सावन मास आरम्भ होता है, जिसके चलते इन महीना में अनेक महत्वपूर्ण त्योहार जैसे — ‘हरियाली तीज’, ‘रक्षा बन्धन’, ‘नाग पंचमी’  […]
धर्म कर्म

दस गुना ज्यादा लाभ मिलता है सावन माह में महामृत्युंजय मंत्र के जप से

महामृत्युंजय मंत्र : ॐ ह्रौं जूं सः। ॐ भूः भुवः स्वः। ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्‌। उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात्‌। स्वः भुवः भूः ॐ। सः जूं ह्रौं ॐ॥   महामृत्युंजय मंत्र जपने से अकाल मृत्यु को टाला जा सकता है, परन्तु श्रावण मास में महामृत्युंजय मंत्र का जाप 10 गुना अधिक फलदायी हो जाता है । […]
धर्म कर्म

सोमवार व्रत की सोलह विशेष बातें, जो बदल देंगी जीवन

सोलह सोमवार की सोलह विशेष बातें श्रावण के महीने में जब हर तरफ बम बम की गूंज सुनाई देती है, ऐसे में महादेव के भक्तों के लिए सोमवार का व्रत विशेष फलदायी होता है। जहां इस व्रत को करने से कुंवारे लोगों को अपना मनचाहा वर प्राप्त होता है वहीं शिव भक्तों को इस व्रत […]
धर्म कर्म

सोलह सोमवार व्रत कथा | Somvar Vrat Katha In Hindi

सोलह सोमवार व्रत कथा पौराणिक कथाओं के अनुसार एक बार भगवान भोलेनाथ माता पार्वती के साथ धरती लोक के  भ्रमण के लिए निकले । भ्रमण करते हुए भोलेनाथ और माँ पार्वती अमरावती नगर के ऊपर से गुजर रहे थे तो उन्हें वहां एक विशाल और सुंदर मंदिर दिखाई पड़ा । माता पार्वती के मन में […]
धर्म कर्म

सावन को ही क्यों कहा जाता है शिव का महीना

ये तो सभी जानते हैं कि सावन का माह शिव पुजन के लिए सबसे उपयुक्त समय होता है। जहां एक ओर सावन में भक्त कांवर लाकर अपने भोले पर जल चढ़ाते हैं, वहीं कई लोग इसी माह को रूद्राभिषेक और शिव की कई तरह की साधनाओं के लिए सबसे सही समय बताते हैं। पौराणिक धर्मग्रंथों […]
धर्म कर्म

दारिद्र्य दहन शिव स्तोत्र के पाठ से मिलती है अथाह सम्पत्ति

शास्त्रों के अनुसार सांसारिक सुखों का आधार शिव ही हैं तथा शिव की उपासना से तन, मन व धन से जुडी कामनाओं में आने वाली बाधाओं दूर हो जाती है अत: स्थिर लक्ष्मी की प्राप्ति   के लिए सावन के महीने में दारिद्रय दहन स्तोत्र का पाठ अवश्य करना चाहिए | शास्त्रों के अनुसार दरिद्रता एक […]
धर्म कर्म

देवों के देव महादेव की अाराधना का महीना है सावन

श्रावण मास में शिव पूजन का विशेष फल बतलाया गया है। शास्त्रों में भी इस माह का विशेष बताया गया है। शास्त्रों के अनुसार सावन माह शिव का माह है इस महीने में भगवान विष्णु पाताल लोक में रहते हैं और सारी सृष्टि का पालन भगवान शिव ही देखते हैं। इसलिए इन दिनों भगवान शिव […]