kumbh - बड़ी खबरें

धर्म कर्म

क्या होता है सिंहस्थ कुंभ, कैसे होता कुंभ का निर्धारण

सागर मंथन के बाद जब देवताओं और असुरों को चैदहवें रत्न के रूप में अमृत की प्राप्ति हुई तो उस पर अधिकार जमाने के लिए होड़ लग गई। इस मौके पर शची-देवराज पुत्र जयंत अमृत कलश को लेकर भागने लगा। उसे पकड़ने के लिए असुर भी दौड़े। इस छीना झपटी में अमृत की कुछ बूंदे […]