shiv bhagawan - बड़ी खबरें

धर्म कर्म

सावन को ही क्यों कहा जाता है शिव का महीना

ये तो सभी जानते हैं कि सावन का माह शिव पुजन के लिए सबसे उपयुक्त समय होता है। जहां एक ओर सावन में भक्त कांवर लाकर अपने भोले पर जल चढ़ाते हैं, वहीं कई लोग इसी माह को रूद्राभिषेक और शिव की कई तरह की साधनाओं के लिए सबसे सही समय बताते हैं। पौराणिक धर्मग्रंथों […]
धर्म कर्म

दारिद्र्य दहन शिव स्तोत्र के पाठ से मिलती है अथाह सम्पत्ति

शास्त्रों के अनुसार सांसारिक सुखों का आधार शिव ही हैं तथा शिव की उपासना से तन, मन व धन से जुडी कामनाओं में आने वाली बाधाओं दूर हो जाती है अत: स्थिर लक्ष्मी की प्राप्ति   के लिए सावन के महीने में दारिद्रय दहन स्तोत्र का पाठ अवश्य करना चाहिए | शास्त्रों के अनुसार दरिद्रता एक […]
धर्म कर्म

देवों के देव महादेव की अाराधना का महीना है सावन

श्रावण मास में शिव पूजन का विशेष फल बतलाया गया है। शास्त्रों में भी इस माह का विशेष बताया गया है। शास्त्रों के अनुसार सावन माह शिव का माह है इस महीने में भगवान विष्णु पाताल लोक में रहते हैं और सारी सृष्टि का पालन भगवान शिव ही देखते हैं। इसलिए इन दिनों भगवान शिव […]
धर्म कर्म

Sawan month 2018: सावन माह में इस वर्ष हैं खास योग, शिव पूजन से होगा विशेष लाभ

सावन का महीना भगवान शिव को अतिप्रिय है तथा शिव भक्तों को भी सावन का बेसब्री से इन्तजार रहता है। 19 वर्षो के बाद इस साल सावन में कुछ खास योग बन रहा है। ज्योतिषाचार्य एवं अग्नि अखाड़े के साधक पंडित श्री चंद्रशेखर शास्त्री बताते हैं कि इस साल सावन माह में रोटक व्रत लग रहा […]
धर्म कर्म

क्यों लिपटे रहते हैं भगवान शिव के गले में वासुकि नाग

नागलोक के राजा वासुकि, भगवान शिव के परम भक्त थे तथा पुराणों के अनुसार सर्वप्रथम शिवलिंग की पूजा का प्रचलन भी नाग जाति के लोगों ने ही शुरू किया था। भगवान शिव ने वासुकि की भक्ति से प्रसन्न होकर उन्हें अपने गणों में शामिल कर लिया था और भगवान शिव  के साथ हमेशा के लिए […]