Uncategorized - बड़ी खबरें

Uncategorized

मुंशी प्रेमचंद की प्रसिद्ध हिंदी कहानी मां

आज बन्दी छूटकर घर आ रहा है। करुणा ने एक दिन पहले ही घर लीप-पोत रखा था। इन तीन वर्षो में उसने कठिन तपस्या करके जो दस-पॉँच रूपये जमा कर रखे थे, वह सब पति के सत्कार और स्वागत की तैयारियों में खर्च कर दिए। पति के लिए धोतियों का नया जोड़ा लाई थी, नए […]
Uncategorized

कथाकार मुंशी प्रेमचंद की प्रसिद्ध कहानी 'खुदी'

मुन्नी जिस वक्त दिलदारनगर में आयी, उसकी उम्र पांच साल से ज्यादा न थी। वह बिलकुल अकेली न थी, माँ-बाप दोनों न मालूम मर गये या कहीं परदेस चले गये थे। मुत्री सिर्फ इतना जानती थी कि कभी एक देवी उसे खिलाया करती थी और एक देवता उसे कंधे पर लेकर खेतों की सैर कराया […]
Uncategorized

कथाकार मुंशी प्रेमचंद की प्रसिद्ध कहानी 'नादान दोस्त'

केशव के घर में कार्निस के ऊपर एक चिड़िया ने अण्डे दिए थे। केशव और उसकी बहन श्यामा दोनों बड़े ध्यान से चिड़ियों को वहां आते-जाते देखा करते । सवेरे दोनों आंखे मलते कार्निस के सामने पहुँच जाते और चिड़ा या चिड़िया दोनों को वहां बैठा पातें। उनको देखने में दोनों बच्चों को न मालूम […]
Uncategorized

प्रेमचंद की हिंदी कहानी 'आधार'

सारे गॉँव मे मथुरा का सा गठीला जवान न था। कोई बीस बरस की उमर थी । मसें भीग रही थी। गउएं चराता, दूध पीता, कसरत करता, कुश्ती लडता था और सारे दिन बांसुरी बजाता हाट मे विचरता था। ब्याह हो गया था, पर अभी कोई बाल-बच्चा न था। घर में कई हल की खेती […]
Uncategorized

Elementor #6958

साहित्य सुभद्रा कुमारी चौहान की कविता: राखी की चुनौती खुलासा टीम June 13, 2018 बहिन आज फूली समाती न मन में । तड़ित आज फूली समाती न घन में ।। घटा है न झूली देखो कैसे खड़ा हिमालय : सोहन लाल द्विवेदी May 11, 2018 जां निसार अख्तर की गजल:  ज़रा-सी बात पे हर रस्म […]