सटोरिया बनने की कला


सटोरिया शब्द सुनते ही हम चौकस हो जाते हैं। शेयर बाजार सटोरिए की गिरफ्त में है, यह बोलकर हम अपने घाटे का ठीकरा सटोरिए के सर पर फोडऩे की कोशिश करते हैं। कभी किसी सटोरिए के अमीर बनने की खबर से सटोरिया बनने की हसरत हममें भी जग जाती है। सटोरिया मतलब सट्टा लगाने वाला। वह दांव लगाता है, जोखिम उठाता है। कभी सोच समझकर तो कभी बिना सोचे समझे। कभी पैसा बनाता है तो कभी पैसा गंवाता भी है। क्या कोई ऐसा तरीका है जिससे हम सटोरिए की तरह मुनाफा तो कमाएं पर उसकी तरह पैसा गंवाना न पड़े। शेयर बाजार में बहुत सारे ऐसे रास्ते हैं जिनसे ऐसा करना संभव है। आइए हम दांव लगाने की कुछ ऐसी ही कलाबाजियों की चर्चा करते हैं।

आप स्वीकार करें या नहीं पर शेयर बाजार में इंट्रा डे ट्रेडिंग करने का लोभ संवरण करना मुश्किल होता है। अधिकांश ब्रोकर इंट्रा डे के लिए अच्छा खासा मार्जिन भी उपलब्ध करा देते हैं। पर इंट्रा डे में रिस्क काफी होता है। यदि आपने एक लाख रुपए देकर बीस लाख का माल उठा लिया है तो घाटा भी उसी हिसाब से होगा। पर एक ऐसा तरीका है जिससे आप इंट्रा डे में जोखिम उठाए बगैर कमा सकते हैं। मान लीजिए एसबीआई का रिजल्ट आने वाला है। आपको उम्मीद है कि रिजल्ट बढिय़ा आएगा। आपने एक लाख रुपए के एवज में मार्जिन पर बीस लाख रुपए का एसबीआई खरीद लिया। यदि रिजल्ट खराब आया और स्टॉप लॉस ट्रिगर हो गया तो आपको घाटा उठाना पड़ेगा। पर यदि आप शेयर की संख्या के बराबर उसी स्टॉक का पुट ऑप्शन खरीद लें तो न केवल आपका घाटा रुक जाएगा बल्कि आपका दांव गलत होने पर भी आपको फायदा होगा। एक उदाहरण लेते हैं। आपके एकाउंट में दो लाख रुपए हैं और आप २००० रुपए के हिसाब से एसबीआई के १०० शेयर खरीदने की स्थिति में हैं। आपके ब्रोकर ने इंट्रा डे मार्जिन उपलब्ध कराया और आपने एसबीआई के १००० शेयर खरीद लिए। जब एसबीआई का रिजल्ट आया तो दांव उल्टा पड़ गया और उसके शेयर टूटकर १९०० रुपए के हो गए। आपने १९७५ रुपए पर स्टॉप लॉस लगाया हुआ था, फिर भी आपको २५ हजार रुपए का घाटा उठाना पड़ा।  इस तरह के जोखिम से बचने के लिए आपको एसबीआई के १९०० स्ट्राइक  के पुट खरीद लेने चाहिए। कितना पुट खरीदें? आपने जिस स्तर पर स्टॉप लॉस लगाया हुआ हो उस हिसाब से संभावित घाटे की गणना कर लीजिए। उपरोक्त उदाहरण में यह राशि २५ हजार रुपए है। आप १२००० रुपए का १९०० स्ट्राइक प्राइस का पुट उसी समय खरीदिए जिस समय आप इंट्रा डे पीजीशन ले रहे हों। इसमें भी १५ फीसदी का स्टॉप लॉस लगा दीजिए। यदि आपका इंट्रा डे वाला दांव उल्टा पड़ा तो पुट न केवल आपको हानि से बचाएगा बल्कि मुनाफा भी कमा कर देगा। इसी तरह यदि आप इंट्रा डे में शार्ट पोजीशन लें तो जोखिम से बचने के लिए कॉल ऑप्शन खरीदें।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *