वीडियो

एक वीडियो में देखें, स्वर्ण मंदिर में मिलने वाले लंगर की हकीकत

दुनियां में शायद ही कोई ऐसा शख्स हो जिसे स्वर्ण मंदिर या गोल्डन टेम्पल का नाम न सुना हो | हर कोई ज़िन्दगी में एक बार इसे देखने की तमन्ना जरूर रखता है | इस गुरूद्वारे का नाम है श्री हरिमन्दिर साहिब, चूँकि इस गुरूद्वारे का अधिकांश भाग खासकर इसके गुम्बद पर स्वर्ण का कार्य कराया गया है अत: इसे स्वर्ण मंदिर के नाम से प्रसिद्धि मिली | You Tube की दुनिया में एक वीडियो ऐसा भी उपलब्ध है, जिसमे इस गुरूद्वारे में होने वाली एक दिन पूरी प्रक्रिया को दिखाया गया है | यहाँ हर धर्म के अनुयायियों को आने की अनुमति है | वीडियो में यहाँ मिलने वाले प्रसाद और उसे बनाने के तरीके को भी दिखाया गया है | यहाँ आने वाले लोगो को खिलाये जाने वाले लंगर के लिए कैसे और उन्हें किस तरह से लंगर उपलब्ध कराया जाता है, यह भी इस वीडियो में दिखाया गया है | वीडियो में बार बार स्वर्ण मंदिर के अंदर और बाहरी हिस्सों की तस्वीर भी दिखाईं गयीं हैं, जिन्हें देखकर प्रतीत होता है कि स्वर्ण मंदिर जितना मनमोहक है, रात में उसकी तारीफ के शब्द नहीं मिल पाते |

यहाँ चलने वाला लंगर 24 घंटे चलता रहता है और प्रतिदिन तक़रीबन 40 हजार लोग लंगर का प्रसाद ग्रहण करते हैं। पूरा अमृतसर शहर स्वर्ण मंदिर के चारों तरफ ही बसा हुआ है और यहाँ से ही नहीं बल्कि विदेश से भी यहाँ लोग दर्शन हेतु आते हैं और सब यहाँ लंगर ही ग्रहण करते हैं । यहाँ के प्रसाद और लंगर की बात ही कुछ और होती है, जिसका कारण आप वीडियो देखेंगे तो खुद ही जान जायेंगे।

 

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *