वीडियो

क्या है इस जलपरी की हकीकत, जानकर चौंक जाएंगे आप

Was a Real Mermaid Found in India?

आप में से बहुत से लोगों ने बचपन में अपने दादा दादी या नाना नानी से जलपरियों की बहुत सी कहानियां सुनी होंगी, मगर क्या आप मानते हैं कि सच में कोई जलपरी जैसी चीज हाती है।  पानी में रहने वाली परियों को जलपरी कहा जाता है, इनका आधा शरीर मछली का और आधा इंसान का होता है | अधिकांश लोगो को लगता है कि जलपरियां बस कहानी किस्सों में ही होती हैं | कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें जलपरी जैसी चीज एक टेबल पर रखी थी और सांस ले रही थी। लोगों को यह अजीबो गरीब वीडियो इतना भाया कि लाखों लोगों ने हाथों हाथ इसे शेयर किया।

कैसा दिखता है ये जीव ?

जिस जीव को लोगो ने जलपरी का नाम दिया है, उसका सम्पूर्ण शरीर मांसल है तथा उसके स्तन भी निकले हैं और पेट की जगह पर तोंद जैसा कुछ है | इस जीव की मांसपेशियां भी साफ नजर आ रही हैं | कमर से गर्दन तक इंसानों की तरह दिखने वाले इस जीव का मुंह कुछ अलग सा है | ड्रेगन वाली फिल्मों में जैसे आकर का ड्रेगन का मुंह होता है, कुछ कुछ उससे मिलता हुआ है इस जीव का मुहं | जबकि कमर के नीचे का भाग मछलियों जैसा है | वायरल वीडियो में से एक-दो में इसे सांस लेता हुआ भी दिखाया गया है |

 

किसी कलाकार की है ये कारस्तानी

अभी तक इस कलाकार का नाम नहीं पता चल पाया है मगर इस बात की पुष्टि हो गयी है कि इस जलपरी को बनाने वाला कलाकार म्यांमार का रहने वाला है | स्थानीय खबरों के अनुसार ये मूर्ति लकड़ी और फायबर से बनी हुयी है और इसके गले में एक मोटर लगाया गया है, जब वो चलता है तो ऐसा लगता है ये सांस ले रही है, जो एक मूर्ति को असली जलपरी में तब्दील करती है | किसी प्रदर्शनी इस मूर्ति का प्रदर्शन किया गया था तथा वही से ये विडियो सर्वप्रथम वायरल हुयी थी | वीडियो को यदि ध्यान से देखेंगे तो पता चल जायेगा कि इस जलपरी को किसी शीशे के कैबिन में रखा गया है | सोशल मीडिया पर इस विडियो को लेकर तील का ताड़ बनाया गया, चूँकि मूर्ति सांस ले रही थी तो यकीन दिलाना और आसान हो गया कि यह सच की जलपरी है |

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें
Title: was a real mermaid found in india

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *