विज्ञान

कहां से आया रोबोट, जानिए रोबोट के बारे में विस्तार से

आपने शायद रोबोट को देखा हो, फिल्मों में या असल जिंदगी में। रोबोट के बारे में तरह तरह की जानकारियां भी तरह तरह की मैगजीन और अखबारों में पढ़ी होंगी, पर क्या आप जानते हैं कि रोबोट कहां से आया और वास्तव में इसका इतिहास क्या है, चलिए आज खुलासा डॉट इन में रोबोट से जुड़े अनेक प्रकार के तथ्य हम आपको विस्तार से बताएंगे।

आप को जानकर हैरानी होगी रोबोट को लेकर अभी तक कोई सटीक परिभाषा ईजाद नहीं हुई है। इसके कार्य, संरचना और कई अन्य चीजों में इतनी विविधता पाई जाती है कि रोबोट को परिभाषित करना थोड़ा मुश्किल है। लेकिन कुछ साइंस पत्रिकाओं और वेबसाइट के अनुसार रोबोट एक प्रकार की मशीन है जो एक या एक से अधिक कार्यों को तेज गति और सटीक तरह से स्वचालित रूप से कर सकती है।

रोबोट के बारे में ऐसी आश्चर्यजनक बातें जिन्हें जानकर आप हैरान रह जाएंगे  information about robot in hindi language

रोबोट जो घर के साफ सफाई और रखरखाव के कार्य में प्रयोग होते हैं

उदाहरण के तौर पर घरेलू रोबोट जो घर के साफ सफाई और रखरखाव के कार्य में प्रयोग होते हैं और इनसे आदमी के जीवन का काम बहुत आसान हुआ है। विदेशों में यह घरों की साफ-सफाई, भूकंप के बाद मलबे में दबे इंसानों को ढूंढने का काम और कारखानों में कई ऐसे कामों को अंजाम देता है जो हैरान कर देने वाले होते हैं।

रोबोट का पौराणिक इतिहास

आपको जानकर हैरानी होगी कई प्राचीन कथाओं और पौराणिक धर्मग्रंथों में भी रोबोट जैसी चीजों का जिक्र मिलता है। यूनान के देवता हिफैस्टास के द्वारा बनाए गए यांत्रिक दास और नोरसे की कथाओं में मिट्टी के बनाए हुए दानव के उदाहरण आजकल के रोबोट से काफी मिलते जुलते हैं।

अगर भारत की बात करें तो रामायण में भी रोबोट से मिलती जुलती संरचना का उदाहरण मिलता है। जैसे जब रावण वध के बाद श्रीराम जी अयोध्या वापस आए और उन्होंने सीता को वनवास दिया तो सीता जी महर्षि वाल्मीकि के आश्रम में रहीं। एक दिन जब सीता जी किसी काम से बाहर गईं तो अपने पुत्र लव को साथ ले गईं। महर्षि वाल्मीकि ने जब देखा कि आश्रम में लव उपस्थित नहीं है तो उन्हें बड़ी चिंता हुई। उन्हें लगा कि लव को शायद कोई जंगली जानवर उठा कर ले गया है और ऐसे में अगर सीता के लौटने पर उसे लव नहीं मिला तो वह व्याकुल हो जाएगी। इसी चिंता के कारण महर्षि वाल्मीकि ने कुश से एक नए बालक का निर्माण किया जो हूबहु लव की तरह दिखाई देता था। बाद में सीता के आने पर उस बालक का नाम कुश रखा गया।

The 800-year-old Cutaway अलजाजरी द्वारा बनाई गई स्वचालित मशीनें Graphics of Ismail Al-Jazari

The 800-year-old Cutaway अलजाजरी द्वारा बनाई गई स्वचालित मशीनें Graphics of Ismail Al-Jazari

एक अन्य कहानी के अनुसार अलजजारी, एक मुस्लिम अविष्कारक ने कई प्रकार की स्वचालित मशीनों का निर्माण किया, जिनमें से कुछ मशीनें पानी से चलती थी और कुछ रोबोट्स की तरह कार्य करती थीं। इन्होंने 1206 में एक किताब लिखी जिसमें इन्होंने 100 ऐसे यांत्रिक उपकरणों का वर्णन किया जो खुद अपना कार्य करती थीं।

लियोनार्डों द विंची के रोबोट Image from "Leonardo da Vinci's robots" - The research

लियोनार्डों द विंची के रोबोट Image from "Leonardo da Vinci's robots" - The research

आपको जानकर आश्चर्य होगा मशहूर चित्रकार लियोनार्डो द विन्ची ने 1494 में मानव की तरह दिखने वाले ऐसे रोबोट की परिकल्पना की थी। सन 1940 में जब दोबारा विन्ची की पुस्तिकाओं की खोज की गई तो ऐसे कई प्रकार के चित्र मिले जिन्हें लियोनार्डों द विंची के रोबोट के नाम से जाना गया, ये अपने आप बैठ सकते थे अपने जबड़े हिला सकते थे और अपनी बाहें भी हिला सकते थे।

वास्तिवक रोबोट का इतिहास

वास्तविक रूप से सबसे पहले रोबोट बनाने का श्रेय स्पेरी जायरोस्कोप को जाता है। यह सन 1913 में बना था। पर आम लोगों के बीच इसका प्रदर्शन 1932 में पहली बार लंदन रेडियो में हुआ। करीब 30 साल बाद पहली बार एक अमेरिकन कंपनी ने रोबोट को बेचने की योजना बनाई और धीरे-धीरे कंपनियों ने मजदूरों की छंटनी कर रोबोट को काम पर बहाल करना शुरू कर किया।

पहली घटना 1980 में हुई जब एक मोटरकार कंपनी ने 200 मजदूरों की छंटनी कर 50 रोबोट को काम पर रखा था। रोबोट लोगों को वाकई बड़ी काम की चीज लगी। पूमा नाम का एक रोबोट तो कारखाने की मशीनों का नट बोल्ट कस और खोलने में भी सक्षम था।

बाद में चिकित्सा क्षेत्र में लोगों ने रोबोट की खूबी को पहचानते हुए 'मल्वांग' नाम के ऐसे रोबोट का निर्माण कर डाला जो कृत्रिम अंगुलियों द्वारा कंप्यूटर पर कैंसर की रसौलियों का पता लगा सकता था। आज रोबोट की दुनिया काफी विकसित हो चुकी है। कभी स्वचालित मशीनों के रूप में ' ओटोमैन' कहे जाने वाले रोबोट अब परमाणु रिएक्टर, अग्निशमन दस्ते और समुद्री गोताखोरी में अपनी भूमिका बखूबी अंजाम दे रहे हैं।

कितने तरह के होते हैं रोबोट

विगत सौ सालों से भी अधिक से वैज्ञानिकों के लिए रोबोट शोध का विषय है। वर्तमान समय में रोबोट अलग अलग क्षेत्रों में बढ़िया तरीके से काम में लाए जा रहे हैं। चूंकि भिन्न भिन्न क्षेत्रों में रोबोट से लिए जा रहे काम भी पूरी तरह अलग अलग हैं इसी के आधार पर रोबोट को कुछ प्रकार में वर्गीकृत किया गया है।

  • औद्योगिक रोबोट : इस तरह के रोबोट का इस्तेमाल बड़ी बड़ी फैक्टिरयों और कारखानों में किया जाता है, जहां औद्योगिक रोबोट भारी सामानों की हैंडलिंग, पेटिंग और वेल्डिंग का कार्य आसानी से कर पाते हैं।
  • घरेलू रोबोट : आज के दौर में जब लोगों के पास समय का अभाव है ऐसे में घरेलू रोबोट ने लोगों के जीवन को काफी हद तक आसान किया है। यह घर के रोजमर्रा के काम जैसे वैक्यूम क्लीनर, सीवर की सफाई और घर के ऐसे छोटे बड़े काम जिसमें काफी समय खर्च होता है करने में सक्षम होता है।
  • मेडिकल रोबोट : बड़े बड़े अस्पतालों में कई तरह के मेडिकल कार्य और सर्जरी में इस प्रकार के रोबोट्स की मदद ली जाती है। ये अपना काम अच्छी तरह से करने में दक्ष होते हैं।
कितने तरह के होते हैं रोबोट How many type of robots

तरह तरह के रोबोट जिनके काम के बारे में जानकर रह जाएंगे हैरान

  • सेवा रोबोट : इस तरह के रोबोट्स विभिन्न प्रकार के छोटे बड़े काम जिनका उन्हें निर्देश दिया जाए तत्काल प्रभाव से कर देते हैं।
  • सैन्य रोबोट : आज के दौर में कई देशों ने इस तरह के रोबोट का निर्माण किया है जिनका इस्तेमाल सेना में किया जाता है, इस प्रकार के रोबोट का प्रयोग युद्ध के दौरान किया जाता है जिससे अपनी देश की मानव सेना को कम से कम नुकसान पहुंचे। इस तरह के रोबोट कई तरह के हथियार चलाने में सक्षम होते हैं।
  • मनोरंजन रोबोट: इस प्रकार के रोबोट मनोरंजन का कार्य करते हैं इन्हें इंटरेक्टिक रोबोट भी कहा जाता है जो व्यवहार और शिक्षा की क्षमता रखते हैं।
  • अंतरिक्ष रोबोट : यह एक प्रकार का रोबोटिक हथियार है जो इंसान के नियंत्रण में रहता है, इसका उपयोग उपग्रहों को लांच करने में ओर अंतरिक्ष में स्टेशन का निर्माण करने में किया जाता है।

किलर रोबोट

जानिए क्या होता है किलर रोबोट What is the killer robots mean

किलर रोबोट जिसके निर्माण के साथ ही उठने लगी इसके विरोध में आवाजें

यह एक ऐसा हथियार है जो टारगेट को खुद व खुद निशाने पर लेकर खत्म कर देता है। कई देशों में इस तरह के रोबोट को लेकर शोध किए गए हैं। लेकिन बहुत सारे देश के वैज्ञानिक लगातार इस तरह के रोबोट पर रोक लगाने की मांग कर रहे हैं। वैज्ञानिकों का मानना है कि इस तरह के रोबोट पूरी मानव जाति के लिए खतरा हो सकते हैं।

कीट रोबोट जो उड़ सकता है

वैेस तो रोबोटि्क्स में रोज नए नए प्रयोग प्रयोग हो रहे हैं। इसी कड़ी में हार्वर्ड विश्ववविद्यालय के वैज्ञानिकों में एक ऐसे रोबोट को बनाने का दावा किया है जो आकार में एक कीट के साइज का है और ये उड़ भी सकता है। यह रोबोट काफी चालाक और तेज है। कीट रोबोट कार्बन फाइबर से बनाया गया है। इसका वजन एक ग्राम के बराबर है।

अमेरिका के वैज्ञानिक द्वारा बनाए गए इस रोबोट के पास एक तरह की सुपर फास्ट इलेक्ट्रॉनिक मांसपेशियां हैं। ये मांसपेशियां इसके पंखों को गति प्रदान करती हैं और रोबोट को उड़ने में ताकत देती हैं। वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि इस तरह के रोबोट का इस्तेमाल बचाव कार्यों में किया जा सकता है।

कौन है सोफिया रोबोट Who is sofia robot do you know

सोफिया ह्यूमनॉयड रोबोट जिनके बारे में जानकर दुनिया हो गई हैरान

चलिए आपने रोबोट के बारे में काफी जानकारी हासिल कर ली अब आपको मिलवाते हैं एक ऐसी रोबोट से जो दिखने और बात करने में एकदम इंसानों जैसी है, जी हां इसका नाम है सोफिया रोबोट। इस रोबोट का निर्माण हांगकांग की एक कंपनी हेनसन किया है। कंपनी के फाउंडर डा डेविड हेनसन ने इसे खुद तैयार किया है । इंसानों जैसी दिखने वाली सोफिया ने दुनिया भर में काफी लोकिप्रयता हासिल की है।

सोफिया को तैयार करने वाले डा हेनसन बताते हैं कि सोफिया की त्वचा को फरवर नाम की एक रबड़ से तैयार किया है जिससे उसकी त्वचा काफी हद तक इंसानों से मिलती जुलती है। सोफिया की शक्ल हद तक हॉलीवुड की मशहूर अदाकारा ऑड्री हेपबर्न की तरह बनाई गई है।
हेनसन का मानना है कि जल्द ही यह रोबोट इंसान के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करती दिखाई देंगी। कहीं ये शिक्षिका की भूमिका में काम करेंगी तो कई रिसपेशन संभालेंगी। सोफिया की वजह से कितनी ही जगह मानव का काम और आसान हो जाएगा।
हेनसन के मुताबिक सोफिया न सिर्फ आंख झपक सकती है बल्कि आप से बातें भी कर सती हैं और यह 62 तरह की भावनाएं अपने चेहरे पर लाने में सक्षम हैं। सोफिया भौंहें, मुंह और गर्दन को भी मूव कर सकती है।
जानकार हैरानी होगी कि सोफिया को सऊदी अरब ने अपनी नागरिका भी प्रदान कर दी है। सऊदी अरब की नागरिकता मिलने के बाद सोफिया ने स्टेज पर सभी को सम्बोधित करते हुए कहा कि ‘इस अनूठी विशिष्टता के लिए मैं बहुत सम्मानित और गर्व महसूस करती हूं’.

सोफिया एनबीसी चैनल के मशहूर शो ‘दा टुनाइट शो स्टारिंग जिम्मी फैलन’ में भी अपनी झलकियाँ दिखला चुकी है. जहां, सोफिया ने शो के होस्ट को जोक सुनाया और रॉक, पेपर एंड सीज़रस् गेम खेलकर लोगों को चौंका दिया.
साल 2017 में सोफिया ने भारत की भी यात्रा की। साल 2017 में मुंबई में आयोजित टेक फेस्ट में जब सोफिया भारतीय वेशभूषा में मंच पर आईं तो हजारों लोगों ने तालियों से उनका स्वागत किया। सोफिया ने जब मंच से हिंदी में लोगों से बात की तो सब लोग एक बार तो हतप्रभ रह गए।

ब्राहम लिंकन को जानते हैं क्या आप
महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन के बारे में जानकर चौंक जाएंगे आप
सत्यार्थ प्रकाश के रचियता दयानंद सरस्वती के बारे में रोचक जानकारी
अपने खाए हुए साम्राज्य को दोबारा हासिल किया था हुंमायू ने

 

Read all Latest Post on विज्ञान science in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें
Title: information about robot in hindi language in Hindi  | In Category: विज्ञान science

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *