उत्‍तरांचल


गर्मियों की छुट्टियों में ठंडी जगहों पर जाने से बेहतर क्‍या होगा। ऐसे में दिल्‍ली वालों के लिए उत्‍तरांचल ही वह जगह है जहां आपको सबसे ज्‍यादा मजा आएगा। ऋषिकेश के अलावा यमुनोत्री, गंगोत्री, केदारनाथ, ब्रदीनाथ, ऑली जोशीमठ आदि की सैर की जा सकती है।
यमुनोत्री-गंगोत्री- चंपासर गलेश्यिर से कुछ ही दूरी पर स्थित यमुनोत्री में यमुना नदी का मंदिर है। मंदिर के सामने दिव्‍य शिला है, जिसका बहुत महात्‍मय है। यमुनोत्री जाने के लिए ऋषिकेश से बस की सुविधा है। यहां से धरासु, बरकोट, सयाना चट्टी, हनुमान चट्टी और फूल चट्टी होते हुए यमुनोत्री पहुंचा जा सकता है। इसी तरह धरासू से उत्‍तरकाशी, भटवारी, गंगोनी, हरसिल, लंका होते हुए गंगोत्री पहुंचा जा सकता है।
केदारनाथ- बद्रीनाथ- यहां के मंदिर मई से नवंबर के बीच खुलते हैं। यहां के लिए ऋषिकेश से बस सेवा ली जा सकती है। गौरीकुंड तक बस और फिर 14 किमी ट्रेक करके बद्रीनाथ पहुंचा जा सकता है। पवनहंस अगस्‍तयमुनि और केदारनाथ के लिए हेलीकॉप्‍टर सेवा भी संचालित करता है। बद्रीनाथ की यात्रा के दौरान सिखों के पवित्र धार्मिक स्‍थल हेमकुंड स‍ाहिब भी जाया जा सकता है।

ऑली-जोशीमठ
जोशीमठ पहुंचने के लिए हरिद्वार से 282 किमी की दूरी को बस द्वारा पूरा किया जा सकता है। कौडियाला, देवप्रयाग से नंदप्रयाग, चमोली और फिर जोशीमठ, इस पूरे सफर के साथ आप फूलों की घाटी सड़क मार्ग से 19 किमी और तपोवन सड़क मार्ग से 14 किमी भी जाया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें

Leave a Reply