1024x768 Normal 0 false false false EN-US X-NONE HI LatentStyleCount="267"> UnhideWhenUsed="false" QFormat="true" Name="Normal"/> UnhideWhenUsed="false" QFormat="true" Name="heading 1"/> UnhideWhenUsed="false" QFormat="true" Name="Title"/> UnhideWhenUsed="false" QFormat="true" Name="No Spacing"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Light Shading"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Light List"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Light Grid"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium Shading 1"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium Shading 2"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium List 1"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium List 2"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium Grid 1"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium Grid 2"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium Grid 3"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Dark List"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Colorful Shading"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Colorful List"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Colorful Grid"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Light Shading Accent 1"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Light List Accent 1"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Light Grid Accent 1"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium Shading 1 Accent 1"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium Shading 2 Accent 1"/> UnhideWhenUsed="false" Name="Medium List 1 Accent 1"/>

  • ड्रगी ने राष्ट्रपति से मुलाकात करने बाद अपने मंत्रिमंडल की सूची दी
  • वह यूरोपीय सेंट्रल बैंक के पूर्व प्रमुख रह चुके हैं
  • फाइव स्टार मूवमेंट का उन्हें समर्थन प्राप्त हुआ

रोम, 13 फरवरी (एजेंसी)। अर्थशास्त्री मारियो ड्रेगी का देश के राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद इटली के अगले प्रधानमंत्री के रूप में पदभार संभालना आधिकारिक तौर पर सुनिश्चित हो गया और उन्हें शनिवार को प्रधानमंत्री पद की शपथ दिलाई जाएगी। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार श्री ड्रगी ने राष्ट्रपति से शुक्रवार को मुलाकात करने बाद अपने मंत्रिमंडल की सूची दी, जिसे बाद में स्वीकार कर लिया गया। वह यूरोपीय सेंट्रल बैंक के पूर्व प्रमुख रह चुके हैं। श्री ड्रगी का कद उस समय और बढ़ गया जब संसद के सबसे बड़े समूह फाइव स्टार मूवमेंट का उन्हें समर्थन प्राप्त हुआ और सभी राजनीतिक दल उनके समर्थन के लिए आगे आए। सरकार को अगले हफ्ते विश्वास मत का सामना करना है, जो महज औपचारिकता है।

इटली अभी भी कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहा है और साथ साथ दशकों से अपने सबसे खराब आर्थिक संकट से भी जूझ रहा है। इसलिए पिछली सरकार के गिरने से देश को यूरोपीय संघ के कोरोनो रिकवरी फंडों खर्च करने के लिए भी असमंजस में डाल दिया है। देश में कोरोना संक्रमण से 93 हजार से अधिक काल के गाल में समा गए हैं। इटली विश्व को छठा देश है जहां कोरोना के संक्रमण से सबसे अधिक मौत हुई है।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें