Term Insurance खरीदने से पूर्व जान लें इन बातों को

Things You Must Keep In Mind When Buying Term Insurance Plan in hindi

Things You Must Keep In Mind When Buying Term Insurance Plan in hindi

क्या कभी आपने टर्म इन्श्योरेन्स (Term Insurance) खरीदने से पूर्व किसी प्रकार का कोई सर्वे किया है, जैसे कि इन्श्योरेन्स (Insurance) को खरीदने से पूर्व खुद का मूल्य आंकलन। वैसे तो जिंदगी अनमोल है, परन्तु आने वाले बुरे वक़्त या परिवार को सुरक्षित रखने के लिए हमे बीमा (Policy) जरूर खरीदना चाहिये, जिसके चलते यदि कोई अनहोनी घट जाए तो आपके परिवार की कुछ तो मदद हो सके । किसी की कमी को ये पैसा पूरा नहीं कर सकते, परन्तु उनको आर्थिक सहायता (Financial help) मिल जाए यही बीमा कि पालिसी (Insurance Policy) होती है।

आपको बता दें कि इस बात का ज्ञान सिर्फ कमाने वाले इंसान को ही नहीं, बल्कि उस पर आश्रित रहने वाले लोगो को भी होना चाहिए। ताकि किसी प्रकार की मुसीबत होने पर वो सही दिशा में सही कदम उठा सके।


मान लो कि यदि कमाने वाले के साथ किसी प्रकार की कोई घटना हो जाती है तो ऐसे में उस पर आश्रित इंसान को यदि सही जानकारी है तो कम से कम वो आपके द्वारा करवाए गए बीमे (Insurance Policy) का सही प्रयोग तो कर सकता है अत: अपने साथ साथ अपने परिवार को भी वित्तीय ज्ञान (Financial knowledge) जरुर दें । क्या होता है लोन (What is Loan) जानिए विस्तार से।

मान लीजिये आप किसी बाज़ार में कोई वस्तु लेने गए हैं ऐसे में उस वस्तु का भाव उस पर लगे टैग या उस पर लिखी कीमत से लगाते हैं, क्या आपको पता है कि ठीक उसी प्रकार से आप अपनी जिंदगी की कीमत भी तय कर सकते हैं ? जिसके लिए सबसे जरुरी है खुद की कीमत की गणना करना,  जब आप ये गणना कर लें उसके बाद ही टर्म इन्श्योरेन्स (Term Insurance) खरीदने की कोशिश करें।

अब सवाल आता है कि हम अपनी ज़िन्दगी की कीमत की गणना कैसे करें? तो आपको बता दें कि जो आपकी आमदनी और खर्च है, आप उसका हिसाब लगा कर उसे अपने सेवानिवृत्ति (Retirement) में बचे वर्षों से गुणा कर दें तो आपको मोटे मोटे तौर पर अपने जीवन की कीमत का अंदाज़ा लग जायेगा ।

आपको शायद यह बात बड़ी अजीब सी लगी हो, चलिए आपको आसान तरीके से समझाते है। मान लीजिये वर्तमान में आप 6 लाख रुपये सालाना कमा रहे हैं, जबकि अभी आपकी उम्र मात्र 35 वर्ष है। चूँकि आपकी सेवानिवृत्ति (Retirement) की उम्र 60 वर्ष है, तो अभी आपको 25 वर्ष और अभी नौकरी करनी है, अत: ऐसे में ऐसे इंसान को 1.20 करोड़ रूपयों का बीमा (Policy) लेना चाहिये। यदि आप गृह ऋण (Loan) लेने के इच्छुक है तो टर्म इन्श्योरेन्स (Term Insurance)  की रकम में इसे भी जरुर जोड़ ले |

एक बात सदैव याद रखें कि जीवन की सही कीमत जानने के लिए वर्तमान और भविष्य में होने वाले खर्चों का अनुमान लगाना बेहद जरूरी है। चूँकि जीवन अनमोल है, फिर भी वक़्त वक़्त पर आप जीवन की कीमत का अंदाज़ा लगाते रहें ताकि आपको भी पता चलता रहे कि कही आपने जो बीमा लिए है उसमे कही कोई कमी तो नहीं रह गयी। आपका एक छोटे और बेहद महत्वपूर्ण निर्णय आपके आज ही नही बल्कि कल को भी सुरक्षित कर सकता है।

पॉलिसी बीच में बंद कराना चाहते हैं तो रखें इन बातों का ध्यान

सिप से करे शेयर बाजार में इन्वेस्ट और कमाएं मुनाफा

क्रेडिट कार्ड के ये फायदे जानकर आप रह जाएंगे हैरान

Read all Latest Post on अर्थ जगत arth jagat in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें
Title: before buying term insurance know these things in Hindi  | In Category: अर्थ जगत arth jagat

Next Post

How to invest in art paintings : कला में निवेश की कला

Wed Aug 7 , 2019
How to invest in art & paintings in hindi कई दशकों तक अच्छी कलाकृतियों (Great paintings) की बात शुरू होते ही अंतरराष्ट्रीय कलाकारों (International Artist) की बात शुरू हो जाती थी। लेकिन पिछली शताब्दी के आखिरी दशक में स्थितियां बदलीं और भारतीय कलाकारों (Indian Artist) को भी वैश्विक कला पटल […]
How to Invest in Art – Types, Pros & Cons, Buying & Selling

All Post


Leave a Reply

error: खुलासा डॉट इन khulasaa.in, वेबसाइट पर प्रकाशित सभी लेख कॉपीराइट के अधीन हैं। यदि कोई संस्था या व्यक्ति, इसमें प्रकाशित किसी भी अंश ,लेख व चित्र का प्रयोग,नकल, पुनर्प्रकाशन, खुलासा डॉट इन khulasaa.in के संचालक के अनुमति के बिना करता है , तो यह गैरकानूनी व कॉपीराइट का उल्ल्ंघन है। यदि कोई व्यक्ति या संस्था करती हैं तो ऐसा करने वाला व्यक्ति या संस्था पर खुलासा डॉट इन कॉपी राइट एक्त के तहत वाद दायर कर सकती है जिसका सारे हर्जे खर्चे का उत्तरदायी भी नियम का उल्लघन करने वाला व्यक्ति होगा।