• कोराना महामारी के कारण इस साल सैलफोन बनाने वाली बड़ी कंपनियों की सेल में हो सकती है गिरावट
  • ग्राहक बड़े पैमाने पर वेतन में कटौती और डगमगाती अर्थव्यवस्था से परेशान
  • बड़ी सेलफोन कंपनियों की त्यौहारी सीजन की पूरी तैयारी

नई दिल्ली। ग्राहकों का भरोसा निचले स्तर पर है और आर्थिक स्थिति सामान्य नहीं है। ऐसे में देश के तेजी से बढ़ते स्मार्टफोन बाजार को ऐसी चुनौती से जूझना पड़ रहा है, जैसा पहले कभी नहीं हुआ। ग्राहक बड़े पैमाने पर छटनी, वेतन में कटौती और डगमगाती अर्थव्यवस्था के संकट से जूझ रहे हैं, ऐसे में विनिर्माता इस साल त्योहारी सीजन में कारोबार कम रहने का अनुमान लगा रहे हैं।

उद्योग के सूत्रों के मुताबिक सैमसंग (Samsung), ऐपल (Apple), श्याओमी (Xiaomi mobile), वन प्लस (One plus) और ओप्पो (Oppo Mobile) सहित अन्य प्रमुख ब्रांडों ने शुरुआती झटकों का प्रबंधन कर लिया है और अपना स्थानीय उत्पादन 60 प्रतिशत तक बहाल कर लिया है, लेकिन उन्हें अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में बिक्री में 20 से 25 प्रतिशत की कमी का सामना करना पड़ सकता है। सितंबर के अंत से शुरू हो रहे सत्र के लिए आपूर्ति शृंखला और उनकी स्टॉकिंग की कवायद से संकेत मिलता है कि सुस्ती बनी हुई है।

मौजूदा तिमाही (जुलाई-सितंबर) परंपरागत रूप से अहम होती है क्योंकि सभी प्रमुख कारोबारी त्योहारी सप्ताह में बंपर बिक्री की संभावना में भंडारण करते हैं। 2015 से इस तिमाही में शिपमेंट नई ऊंचाइयों पर पहुंच जाती है।  बहरहाल इस साल संकेत मिल रहा है कि शिपमेंट पिछले साल के रिकॉर्ड 4.7 करोड़ यूनिट की तुलना में शिपमेंट 25 प्रतिशत कम है।  देश के स्मार्टफोन बाजार में शीर्ष कारोबारी श्याओमी इंडिया के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘यह साल चुनौतियों से भरा रहा और मई के दौरान कुल मिलाकर आपूर्ति शृंखला बाधित रही। बहरहाल हम अपने आपूर्तिकर्ताओं व फैक्टरियों के साथ मिलकर कड़ी मेहनत कर रहे हैं, जिससे कि इस दीपावली में एमआई पसंद करने वाले और अपने उपभोक्ताओं के लिए पर्याप्त मात्रा में स्मार्टफोन उपलब्ध करा सकें।’

वित्त वर्ष 21 की पहली दो तिमाही में बिक्री में आई कमी की भरपाई के लिए हैंडसेट दिग्गज कोई कमी नहीं छोडऩा चाहते हैं। एक समय बाजार में अग्रणी रही सैमसंग ने पहले ही गैलेक्सी नोट 20 सीरीज का एमआई10 पेश कर दिया है। प्रतिस्पर्धी श्याओमी ने भी प्रीमियम सेग्मेंट (45,000 रुपये से ऊपर की कीमत) में सैमसंग, ऐपल और वन प्लस को चुनौती दे दी है। प्रवक्ता के मुताबिक कंपनी इस सेग्मेंट में नया फोन उतारने की ओर बढ़ रही है।

वहीं चीनी दिग्गज ओप्पो भी फाइंड एक्स-2 के माध्यम से चुनौती देने को तैयार है। वन प्लस 8टी और नॉर्ड100 मॉडलों के माध्यम से अपने हमले तेज कर रही है।

आपूर्ति संबंधी ब्यवधानों के कारण ऐपल ने अपने नए आईफोन 12 सीरीज की पेशकश टाल दी है। उद्योग के जानकारों का कहना है कि देरी के बावजूद उसे सैमसंग से नुकसान नहीं उठाना पड़ेगा। सूत्रों के मुताबिक ऐपल अक्टूबर की शुरुआत में ऐपल नया आईफोन पेश करने वाली है। उसके बाद नवरात्रि, दुर्गापूजा और दीपावली की त्योहारी खरीद होनी है।टेकआर्क के प्रमुख विश्लेषक फैसल कावोसा ने कहा, ‘ऐपल के अपने प्रशंसक हैं वे आईफोन ही खरीदेंगे। इका कोई मतलब नहीं है कि फोन कब लॉन्च होता है।’

कारोबार दुरुस्त करने के लिए फर्में त्योहार के सीजन में अपने मध्य से सेमी प्रीमियम (15,000 रुपये से 30,000 रुपये तक के फोन) पर ध्यान केंद्रित करेंगी। आईडीसी में शोध निदेशक नवकेंदर सिंह ने कहा कि अन्य वर्षों के विपरीत इस बार ग्राहक ज्यादा धन खर्च करने से बचेंगे। ऐसे में महंगे फोन की बड़े पैमाने पर बिक्री कठिन होगी, जैसा कि पहले के सीजन में होता था।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें