होली का त्यौहार आने वाला है और हम सबने उसके लिए कमर भी कस ली है। मगर क्या आपको होली मनाने का सही तरीका पता है । क्या आप जानते है कितने प्रकार की होली होती है । यह मौज-मस्ती व मनोरंजन का त्योहार है और सभी इसे बड़े ही […]

Saraswati aarti in hindi : मां सरस्वती की आरती ॐ जय सरस्वती माता, मैया जय सरस्वती माता। सद्‍गुण वैभवशालिनी, त्रिभुवन विख्याता ॥ जय. ॥ चंद्रवदनि पद्मासिनी, द्युति मंगलकारी। सोहे हंस-सवारी, अतुल तेजधारी ॥ जय. ॥ बाएं कर में वीणा, दूजे कर माला। शीश मुकुट-मणि‍ सोहे, गले मोतियन माला ॥ जय. […]

Shri ram aarti : श्री राम की आरती जगमग जगमग ज्योति जली है। राम आरती होने लगी है॥1॥ भक्ति का दीपक प्रेम की बाती। आरती करें संत दिन राती॥2॥ आनंद की सरिता उभरी है। जगमग जगमग ज्योति जली है॥3॥ कनक सिंघासन सिया समेता। बैठें राम होएं चित चेता॥4॥   बाएं […]

Rudraksha benefits in hindi : रुद्राक्ष (Rudraksha) दो शब्दों के मिलने से बना है जिसमें पहला शब्द है रुद्र (Rudra) और दूसरा है अक्ष (aksh)। रुद्र का अर्थ होता है शिव और अक्ष का अर्थ है आंसू। यही वजह है कि माना जाता है कि रुद्राक्ष की उत्पत्ति भगवान रुद्र […]

Garuda purana in hindi : संसार के विभिन्न धर्मों में मान्यता है कि इंसान की मृत्यु के बाद उसकी आत्मा आगे का सफर तय करती है, जहां उसके कर्मों के हिसाब से उसे फल प्राप्त होते हैं। सनातन धर्म में तो इस विषय पर पूरा एक पुराण है जिसका नाम […]

जगमग जगमग जोत जली है, मोहन आरती होन लगी है Jag Mag Jag Mag jyote jali hain Mohan Aarti Hon Lagi Hai जगमग जगमग जोत जली है, मोहन आरती होन लगी है। पर्वत खोली का सिंहासन, जाह पे मोहन लाते आसन।। वो मंदिर में देते भाषण, कला मोहन की बोहोत […]

जय शीतला माता, मैया जय शीतला माता, आदि ज्योति महारानी सब फल की दाता।। जय शीतला माता… रतन सिंहासन शोभित, श्वेत छत्र भ्राता। ऋद्धिसिद्धि चंवर डोलावें, जगमग छवि छाता।। जय शीतला माता… [wp_ad_camp_2] विष्णु सेवत ठाढ़े, सेवें शिव धाता। वेद पुराण बरणत पार नहीं पाता।। जय शीतला माता.. इन्द्र मृदंग […]

जय पार्वती माता, मैया जय पार्वती माता ब्रह्म सनातन देवी ,शुभ फल की दाता। ऊँ जय पार्वती माता.. अरिकुल पद्मा विनासनी, जय सेवक त्राता जग जीवन जगदम्बा, हरिहर गुण गाता। ऊँ जय पार्वती माता.. सिंह को वाहन साजे, कुंडल है साथा देव वधु जहं गावत, नृत्य कर ताथा। ऊँ जय […]

Hanuman aarti hindi : श्री हनुमान जी की आरती आरति कीजै हनुमान लला की। दुष्ट दलन रघुनाथ कला की।। जाके बल से गिरिवर कांपै। रोग-दोष जाके निकट न झांपै।।अंजनी पुत्र महा बलदाई। संतन के प्रेम सदा सहाई।। आरति कीजै हनुमान लला की… दे बीरा रघुनाथ पठाये। लंका जारि सिया सुधि […]

आरती बालकृष्ण की कीजे। अपना जनम सफल करि लीजे।। श्री यशोदा का परम दुलारा। बाबा की अखियन का तारा ।। गोपिन के प्राणन का प्यारा। इन पर प्राण निछावर कीजे।। आरती बालकृष्ण की कीजे… बलदाऊ का छोटा भैया। कान्हा कहि कहि बोलत मैया।। परम मुदित मन लेत वलैया। यह छबि […]