गोल्ड लोन (Gold Loan) देने वाली कंपनियों को लेकर आरबीआई (RBI) की ढुलमुल नीति समझ से परे है। इन कंपनियों की विकास दर देखकर आप चौंक जाएंगे। मूथूत फाइनेंस (Muthoot Finance) और मनप्पुरम गोल्ड (Manappuram gold ) जैसी कंपनियों के दफ्तर गली गली में खुल गए हैं। ये कंपनियां किस […]

का वर्षा जब कृषि सुखाने। जब समय पर कोई काम नहीं हो तो उस काम के होने का क्या मतलब? आजकल हमारे वित्तीय संस्थानों (financial institutions) को भी नियामकों से कुछ ऐसी ही शिकायत है। वित्तीय संस्थान (financial institutions) बाजार की जरूरतों के मद्देनजर नए-नए तरह के वित्तीय उत्पाद (financial […]

सटोरिया (Speculator) शब्द सुनते ही हम चौकस हो जाते हैं। शेयर बाजार (Share Market) सटोरिए (Speculator) की गिरफ्त में है, यह बोलकर हम अपने घाटे का ठीकरा सटोरिए (Speculator) के सर पर फोडऩे की कोशिश करते हैं। कभी किसी सटोरिए (Speculator) के अमीर बनने की खबर से सटोरिया (Speculator) बनने […]

यदि आप शेयर बाजार (Share market) में निवेश (Invest) करते रहे हैं तो आर्थिक व व्यावसायिक खबरों के महत्व से भली भांति परिचित होंगे। इन खबरों के अचानक प्रकट हो जाने से आपको कई बार फायदा तो कई बार नुकसान भी उठाना पड़ा होगा। इन खबरों पर हमारा आपका कोई […]

शेयर बाजार (Share Market) में पैसा लगाने वाले निवेशकों  (Investors ) को इन दिनों नई तकनीक से चुनौती मिलने लगी है। तकनीक से लैस विदेशी संस्थागत निवेशक, घरेलू संस्थागत निवेशक और कुछ समृद्ध संस्थागत निवेशक तकनीकी के प्रयोग से बिजली की गति से शेयर बाजार (Share Market) में खरीद फरोख्त […]

जब कभी शेयर बाजार (Share Market) में मंदी का दौर शुरू होता है, निवेश के लिए मन ललचाने लगता है। शेयर बाजार (Stock Market) को लेकर भय और लालच की यह मन:स्थिति बहुत हद तक रिटेल निवेशकों तक सीमित है। म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) के फंड मैनेजर्स (Fund Manager), एचएनआई  […]

जब कभी आप उपभोग की वस्तुएं खरीदने जाते हैं, कई दुकानों पर उसी सामान का दाम पता करते हैं, गारंटी (Gaurentee) व वारंटी (warranty) की तुलना करते हैं, डेलिवरी फ्री (Delivery Free)  में होगी या उसके लिए अलग से पैसा देना होगा जैसी बातों की चर्चा करते हैं। कई दुकानों […]

कई बार ऐसी स्थितियां आती हैं जब आपका निवेश (Investment) या तो ठहर जाता है या उसमें गिरावट आने लगती है। शेयर (Share) की कीमत को नियंत्रित करना या उसके मूल्यों में गिरावट का सटीक अनुमान लगाना किसी के लिए भी मुश्किल है। ऐसी दशा में आपके पास दो परंपरागत […]

जब आपका बच्चा दसवीं में जाता है और उसे साइंस व आट्र्स में से कोई खास स्ट्रीम चुनना होता है तो आप किससे पूछते हैं? आप किसी अनुभवी अघ्यापक से मशविरा करते हैं, उसके क्लास टीचर से सलाह लेते हैं, बच्चे की रुचि का पता लगाते हैं और बच्चे की […]