• ज्योतिष में सूर्य को ग्रहों का राजा माना गया है
  • सूर्य की कृपा के बिना मान-सम्मान प्राप्त नहीं हो सकता
  • सूर्य खराब होने पर अनेकों समस्याओं का सामना करना पड़ता है

New Delhi 11 जून (एजेंसी) सूर्य को जल चढ़ाने के अनेकों लाभ ज्योतिष शास्त्र में बताए गए हैं। ज्योतिष में सूर्य को ग्रहों का राजा माना गया है। सूर्य की कृपा के बिना व्यक्ति को समाज में उचित मान-सम्मान प्राप्त हो ही नहीं सकता। सूर्य उदय के समय सूर्य को अर्घ्य देना चाहिए। ज्योतिषाचार्य नवल किशोर के अनुसार अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में सूर्य खराब हो तो उसे अनेकों समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अगर कुंडली में सूर्य खराब हो तो व्यक्ति को अधिक मेहनत करने पर धनलाभ नहीं होता, न ही उसे नौकरी में कोई तरक्की मिलती, इसके अलावा उसे घर में भी उचित मान-सम्मान प्राप्त नहीं होता। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को अपने सूर्य को ठीक रखना चाहिए। इसके लिए सबसे जरूरी है सूर्य को जल चढ़ाना। तो आइए जानते है सूर्य को जल चढ़ाने के लाभ –

सूर्य को जल चढ़ाने से होता है भाग्य मजबूत

अगर आपका भाग्य आपका साथ नहीं देता। आपको अपने भाग्य की वजह से बार-बार असफलताओं का मुहं देखना पड़ता है तो आप प्रत्येक दिन सूर्य को रोली और लाल फूल डालकर जल चढ़ाएं इससे न केवल आपका भाग्य मजबूत होगा, बल्कि आपकी सफलताओं में आ रही सभी रूकावटें भी दूर होंगी। सूर्य को रोज जल चढ़ाने से आपके भाग्य में तो मजबूती होगी ही साथ ही लोगों की बीच आपका मान-सम्मान भी बढेगा। लोग आपके प्रति निष्ठा का भाव रखेंगे और आपकी सभी बातों को भी मानेंगे।

सूर्य को जल चढ़ाने से मिलता है मान-सम्मान

समाज में प्रत्येक व्यक्ति को मान-सम्मान चाहिए। लेकिन अगर आपको समाज में उचित मान-सम्मान की प्राप्ति नहीं होती तो आपको प्रत्येक दिन सूर्य को जल चढ़ाना चाहिए। इससे आपका व्यक्तितव प्रभावशाली होगा। शक्तिशाली व्यक्तितव के लोगों का एक ही अलग ही प्रभाव होता है। जिससे लोग आपकी बातों को सुनेगें और मानेंगे। सूर्य को जल चढ़ाने से आपको उच्च पद की भी प्राप्ति होती है। जिसकी वजह से भी आपको मान-सम्मान की प्राप्ति होती है। प्रभावशाली होने की वजह से ही घर परिवार में आपकी काफी इज्जत होती है।

सूर्य को जल चढ़ाने से मिलता है समस्याओं से छुटकारा

जो लोग प्रत्येक दिन सूर्य को जल चढ़ाते हैं। उन पर सूर्य देव हमेशा अपनी कृपा बनाए रखते हैं। सूर्य देव को जल अर्पण करने से मन की एकाग्र शक्ति बढ़ती है। जिससे व्यक्ति का मन इधर-उधर नहीं भटकता है। इससे व्यक्ति अपनी जटिल से जटिल समस्याओं का हल आसानी से निकाल लेता है। ऐसे में व्यक्ति अपनी समस्याओं को ज्यादा गंभीरता से नहीं लेता। सूर्य को जल चढ़ाने का एक और फायदा भी होता है और वह यह है कि इससे सीखने की क्षमता बढ़ जाती है। जिससे कौशल क्षमता का विकास होता है।

सूर्य को जल चढ़ाने से मिलता है स्वास्थय लाभ

अगर आपका स्वास्थय ठीक नहीं रहता तो प्रत्येक दिन सूर्य को जल अर्पण करें इससे आप जल्दी ही स्वस्थ हो जाएंगे। सूर्य को जल चढ़ाने से सिर दर्द जैसी समस्या खत्म होती है साथ ही अगर आप अनिद्रा से पीड़ित है तो सूर्य को जल चढाने से आपकी यह समस्या भी खत्म हो जाएगी। ज्योतिष शास्त्र में सूर्य को हड्डियों का कारक भी माना जाता है। अगर आप हड्डियों के रोगों से पीड़ित है या आपकी हड्डियों में दर्द रहता है तो आपको प्रत्येक दिन सूर्य को जल अवश्य चढ़ाना चाहिए। इससे आपकी यह परेशानी भी दूर हो जाएगी।

सूर्य को जल चढ़ाने से पिता से रिश्ता होता है मजबूत

अगर आप और आपके पिता के बीच संबंध अच्छे नहीं हैं या आप दोनों के आपस में एक दूसरे से विचार नहीं मिलते आए दिन आपके और आपके पिता के बीच में झगड़ा होता रहता है तो आप प्रत्येक दिन सूर्य को जल अर्पण करें। क्योंकि ज्योतिष में सभी ग्रहों को किसी न किसी रिश्ते से जोडा गया है। ज्योतिषशास्त्र में सूर्य को पिता का कारक माना गया है। सूर्य को जल चढाने से न केवल आपके और आपके पिता के संबंध अच्छे होंगे बल्कि आपके पिता आपकी बात सुनेंगे भी। पिता के साथ संबंध सुधारने के लिए यह सबसे आसान उपाय है।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें