• फिल्मों को बैंक से फाइनेंस करवाने का कॉन्सेप्ट शुरू किया था घई ने 
  • 16 फ़िल्मों में से 13 फिल्म बॉक्स-ऑफिस पर ब्लॉक-बस्टर हिट हुयी
  • राजकपूर के बाद सुभाष को इंडस्ट्री का दूसरा शोमैन कहा जाता है

मुंबई 24 जनवरी (एजेंसी) बता दे कि बॉलीवुड के जाने-माने एक्टर-निर्माता-निर्देशक सुभाष घई आज यानी कि 24 जनवरी को 76 साल के हो गए हैं । सुभाष का जन्म 24 जनवरी, 1945 को नागपुर, महाराष्ट्र में हुआ था। सुभाष घई बचपन से एक एक्टर बनना चाहते थे, पर उनके भाग्य में एक शानदार निर्देशक के रुप में स्थापित होना लिखा था। उनका निर्देशन इतना कमाल का था कि राजकपूर के बाद उन्हें इंडस्ट्री का दूसरा शोमैन कहा जाने लगा। बता दे कि सुभाष घई ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत एक अभिनेता के रूप में की थी। एफटीआईआई (FTII) पुणे से फिल्म और अभिनय की ट्रेनिंग लेने के बाद सुभाष घई मुंबई हीरो बनने आये थे और उन्होंने उमंग और गुमराह जैसी फिल्मों में बतौर अभिनेता नजर भी काम किया, मगर अभिनय में वो खुद को जमा नहीं पाये और डायरेक्शन में आ गए। सुभाष घई ने हिंदी फिल्म इंडस्ट्री को कालीचरण, विश्वनाथ, कर्ज, विधाता, हीरो, मेरी जंग, कर्मा, राम लखन, सौदागर, खलनायक, परदेस और ताल जैसी यादगार टाइमलेस म्यूजिकल फ़िल्में दी हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पुणे में पढ़ाई के दौरान एफटीआईआई में एक कल्‍चरल इवेंट हुआ, जिस दौरान पहली बार सुभाष घई और रेहाना की मुलाकात हुई। दोनों के बीच पहले दोस्ती और फिर प्यार हुए। दोनों के अलग-अलग धर्म का होने के कारण उनके परिवार-वालों को शादी पर आपत्ति थी। दोनों किसी के आगे झुके नहीं और 1970 में दोनों ने शादी कर ली। इसके बाद रेहाना ने धर्म परिवर्तन किया और मुक्‍ता बन गईं। बाद में सुभाष घई ने मुक्‍ता आर्ट्स प्रोडक्‍शन कंपनी की शुरुआत की। साल 1978 में जब सुभाष ने अपने बड़े भाई की बेटी मेघना को गोद लिया, हालाँकि 2000 में सुभाष घई और मुक्‍ता को खुद की संतान हुई, जिसका नाम उन्होंने मुस्‍कान घई रखा है।

बता दे कि सुभाष घई ने अपने करियर में करीबन 16 फ़िल्में लिखीं और निर्देशित की, जिनमे से 13 फिल्म बॉक्स-ऑफिस पर ब्लॉक-बस्टर हिट साबित हुई। इतना ही नहीं, साल 2006 में उन्हें सामाजिक फिल्म इकबाल के लिए राष्ट्रीय सम्मान से भी पुरस्कृत किया गया। इन दिनों सुभाष घई विसलिंग वूड्स नाम से एक एक्टिंग इंस्टीट्यूट चला रहे हैं, जो किदुनिया के टॉप 10 फिल्म स्कूलों में से एक माना जाता है। इस एक्टिंग स्कूल में वे नए कलाकारों को अभिनय और फिल्म निर्माण की ट्रेनिंग दे रहे हैं। सुभाष घई बॉलीवुड के पहले ऐसे प्रोड्यूसर हैं, जिन्होंने अपनी फिल्म ताल के ज़रिए फिल्म इंश्योरेंस पॉलिसी की शुरुआत की। फिल्मों को बैंक से फाइनेंस करवाने का कॉन्सेप्ट शुरू करने का श्रेय भी उन्हीं को जाता है। इसके अलावा सुभाष घई अपनी फिल्मों में कई नयी अभिनेत्रियों को ब्रेक देकर उन्हें स्टारडम दिलाने के लिए भी जाने जाते हैं, जिनमे जैकी श्रॉफ (एक्टर), रीना रॉय, मीनाक्षी, माधुरी दीक्षित, मनीषा कोइराला और महिमा चौधरी जैसी अभिनेत्रियों का नाम शामिल है।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें