अक्सर हम सपनो में मृत इंसान को देखते है  पर उनके सपनो में आने का मतलब समझ नहीं पाते तथा उनके आने के कारण से हमेशा अनजान रहते हैं। मृत व्यक्ति हमारे सपने में क्यों आया है, हम कभी समझ ही नहीं पाते | कुछ सपने ऐसे भी होते हैं जो काफी डरावने और भयानक होते हैं तथा इन्हें देखते हुए कई बार हमारी चीख तक निकल जाती है, ऐसे सपनों को नकारात्मक सपने कहते हैं। कई बार सपनों में मृत लोग कुछ करते या कहते दिखाई पड़ते हैं, जो किसी के मृत परिजन भी हो सकते हैं परन्तु मृत लोगों के सपने में आने के कारण आज भी अनसुलझा रहस्य ही है । परामनोवैज्ञानिक ने इस क्षेत्र में कई प्रकार खोज की है और अपने-अपने तथ्य समाज के सामने रखें हैं।

A Secret to the Dead People's Dream

शास्त्रों के अनुसार जो भी मानव शरीर में आया है, उसकी मृत्यु भी अवश्य होगी,  परन्तु आत्मा हमेशा अस्तित्व में रहती है। गीता में भी आत्मा की अमरता का संदेश दिया गया है | मगर सवाल यह है कि जब लोग मृत्यु को पा लेते हैं तब उसके बाद वे हमारे सपने में क्यों आते हैं ?  शास्त्र में इस बारे में लिखा हैं कि जब हमारे किसी परिजन की मौत हो जाती है, तब हम उसको लंबे समय तक याद करते हैं और दुखी होते हैं, जिससे मृतक को हमारा संदेश मिलता है और वह सपने के माध्यम से हमारे सामने आ जाता है | अगर कोई मृतक व्यक्ति बार-बार सपने में दिखाई दे रहा है तो स्थिति काफी सोचनीय हो सकती है। इस स्थिति से निकलने के जानना जरुरी है कि आखिर मृत व्यक्ति सपने में बार-बार क्यों आ रहें हैं। इस प्रकार की स्थिति के उभरने के लिए शास्त्रों में कई प्रकार के कर्मकांड भी बताए गए हैं। यदि आपकी इच्छा हो तो किसी पंडित से इस प्रकार के कर्मकांड आप करा कर इस स्थिति से उभर सकते हैं। सपने में किसी भी मृतक का आना, कुछ कहना, कुछ देना या कुछ लेना इन सभी के अलग अलग अर्थ होते हैं, इसलिए आप किसी विद्वान से अपने ऐसे सपने के बारे में सलाह ले सकते हैं और मृतक के संदेश को समझ सकते हैं।

टांगीनाथ धाम जहां आज भी करते हैं परशुराम निवास

बारिश कराने के लिए यहां किया जाता है शिव भगवान को पानी में कैद

काली हल्दी का प्रयोग बदल देगी किस्मत

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें