Kaila Devi Temple History & Story in Hindi : जिला करौली, राजस्थान में स्थित कैला देवी मन्दिर (Kaila Devi temple) हिन्दुओं की आस्था का केंद्र है, जो कि अरावली की पहाड़ियों में कालीसील नदी के तट पर स्थित है। आपको बता दें कि कालीसील नदी, बनस नदी की उपनदी है । यह मंदिर देवी कैला (Kaila) अर्थात दुर्गा देवी (Durga Maa) को समर्पित है तथा इसका निर्माण राजपूत शासकों ने करवाया था, जो कि उत्तर भारत के प्रमुख शक्तिपीठ (Shaktipeeth) में से एक है। आइए खुलासा डॉट इन में जानते हैं कैला देवी मंदिर के बारे में विस्तार से।

ख्वाजा गरीब नवाज जहां होती है हर मुराद पूरी

सफ़ेद संगमरमर और लाल पत्थर से बने इस मंदिर का आंगन बहुत बड़ा है तथा यहाँ चांदी की चौकी पर स्वर्ण छतरियों के नीचे दो प्रतिमाएं हैं, जिनमे से बाईं ओर रखी प्रतिमा का मुंह कुछ टेढ़ा है, यही कैला मइया की प्रतिमा है तथा इसके बगल में रखी प्रतिमा चामुंडा देवी की है। कैला देवी (Kaila Devi) की आठ भुजाएं हैं। इसके अतिरिक्त मंदिर के आँगन में भैरों को समर्पित एक छोटा सा मंदिर भी है तथा  यहाँ एक हनुमान मंदिर (Hanuman Mandir) भी स्थित हैं, जिसे स्थानीय लोग ‘लंगुरीया’ कहकर पुकारते हैं ।

Kaila Devi Temple History & Story in Hindi
Kaila Devi Temple History & Story in Hindi

कहा जाता है कि माता कैला देवी (Kaila Devi) के एक परम भक्त ने माँ के दर्शन करने के बाद वहां जल्दी लौट आने का कहके चला गया था, मगर वो कभी लौट के नहीं आया और माता आज भी अपने उस भक्त के इंतजार में है तथा उसी दिशा में देख रही है, जिस तरफ से वो भक्त गया था और यही कारण है कि माँ का मुह आज भी टेढ़ा है ।

तमिलनाडु का गोल्डन टेम्पल जहां लगा है 1500 किलो सोना

चैत्र माह यानी कि मार्च-अप्रैल के महीने में इस मंदिर में वार्षिकोत्सव का आयोजन किया जाता है। यहाँ आने वाले अधिकांश भक्त मध्य प्रदेश, राजस्थान और उत्तर प्रदेश राज्यों के निवासी होते हैं । चैत्र मास में कई किलोमीटर की पदयात्रा और कड़क दंडवत करते हुए श्रद्धालु अपनी आस्था का परिचय देते हैं ।

Kaila Devi Temple History & Story in Hindi
Kaila Devi Temple History & Story in Hindi

कहा जाता है कि द्वापर युग में कंस की कारागार में उत्पन्न हुई कन्या ही कैला देवी है, जिन्हें  राक्षसों के सर्वनाश कर समाज की रक्षा के लिए एक तपस्वी ने पुकारा था और उस दिन के बाद से यहाँ आने भक्तों की सभी मुरादे पूरी होती हैं। यहाँ पूरे साल भक्तो की भीड़ माँ के दर्शन के लिए आती है ।

 

Kaila Devi Yatra – Jai Karauli Maa राजस्थान के कैला देवी मंदिर का ऐसा रहस्य, जिसे सुनते ही हो जाएंगे दंग | Mystery of Kaila Devi mandir

 

 

इन मंदिरों में प्रवेश करने से डरते हैं लोग

टांगीनाथ धाम जहां परशुराम आज भी करते हैं निवास

एक ऐसा हनुमान मंदिर जहां आज भी गूंज रही है रामधुन

 

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें