भगवान शिव जिन्हें कोई भोले बाबा कहता है, तो कोई नील कंठ, कोई उन्हें महाकाल कहता है तो कोई प्रलयंकारी, वे कभी इतने भोले हैं कि भांग और धतूरे के भोग से प्रसन्न हो जाते हैं और कभी उनका प्रकोप कामदेव को पल में जलाकर भस्म कर देता है। भगवान शिव को विश्वास का प्रतीक माना गया है क्योंकि उनका अपना चरित्र अनेक विरोधाभासों से भरा हुआ है। जहां वे खुद बैल पर सवार होते हैं वहीं मां दुर्गा का वाहन शेर है, उनके गले में सर्पों की माला होती है वहीं उनके पूत्र कार्तिकेय का वाहन मोर है और गणेश जी का वाहन चूहा। वे अकेले ही ऐसे देवता हैं जो लिंग के रूप में पूजे जाते हैं। शिवलिंग पर दूध चढ़ाने का विशेष महत्व माना गया है, ऐसा क्यों है आइये खुलासा डॉट इन में जानते हैं कि क्यों शिवलिंग पर दूध चढ़ाया जाता है और भगवान शिव को दूध अत्यंत प्रिय क्यों है।

[wp_ad_camp_2]

भगवान शिव पर क्यों चढ़ाया जाता है दूध  Why do Hindus offer cow milk to Lord Shiva
Why do Hindus offer cow milk to Lord Shiva

विष्णु पुराण के अनुसार जब अमृत पाने के लिए देवताओं और असुरों ने समुद्र मंथन किया, तो उस समुद्र मंथन से तरह तरह की चीजें निकली जिन्हें देवताओं और दानवों ने आपस में परस्पर आपसी सहमति से बांट ली, लेकिन अमृत निकलने से पूर्व समुद्र मंथन से (हलाहल) घातक विष निकला। पूरी पृथ्वी पर विष के कारण व्याकुलता छा गयी,  चारों ओर त्राहिमाम मच गया। ऐसे में सभी देवों ने भगवान् शिव से विषपान करने की प्रार्थना की।

[wp_ad_camp_2]

भगवान शिव पर क्यों चढ़ाया जाता है दूध  Why do Hindus offer cow milk to Lord Shiva
भगवान शिव पर क्यों चढ़ाया जाता है दूध Why do Hindus offer cow milk to Lord Shiva

भगवान् शिव ने जब विषपान किया तो विष के कारण उनका गला नीला होने लगा ऐसे में सभी देवों ने उनसे विष की घातकता को कम करने के लिए शीतल दूध का पान करने के लिए कहा। इस पर भी भोलेनाथ ने दूध से उनका सेवन करने की अनुमति मांगी, दूध से सहमति मिलने के बाद शिव ने उसका सेवन किया,  जिससे विष का असर काफ़ी कम हो गया तथा बाकी बचे विष को सर्पों ने पिया, यहीं वजह है कि अधिकांश सांप ज़हरीले होते है। इस तरह समुद्र मंथन से निकले हलाहल विष से सृष्टि की रक्षा की जा सकी। शिव के शरीर में जाकर विष के अनिष्टकारी प्रभाव को कम करने के कारण दूध भगवान् शिव को अत्यंत प्रिय है, यही कारण है कि शिवलिंग पर दूध जरूर चढ़ाया जाता है।

[wp_ad_camp_2]

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें