Mumbai, 01 अक्टूबर (एजेंसी)। गुरुवार को घरेलू वायदा बाजार में सोना छह महीने और चांदी एक साल के निचले स्तर पर गिरकर पहुंची। एमसीएक्स पर सोना वायदा 0.46 फीसदी गिरकर करीब छह माह के निचले स्तर, 45859 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। वहीं, चांदी 3.5 फीसदी (2100 रुपये) लुढ़कर 58,490 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई। हालांकि, खबर लिखे जाने तक दोनों कीमती धातु सुधार के साथ एमसीएक्स पर ट्रेड कर रहे थे।

वहीं, वैश्विक बाजार में मजबूत डॉलर के चलते सोना करीब एक माह के निचले स्तर पर पहुंच गया। फेडरल रिजर्व चेयर जेरोम पॉवेल के भाषण से पहले निवेशक सतर्क रहे। हाजिर सोना 0.5 फीसदी गिरकर 1,741.90 डॉलर प्रति औंस हो गया। अरेमिरी ट्रेजरी यील्ड चगातार चौथे दिन बढ़कर तीन माह से ज्यादा समय के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। डॉलर इंडेक्स 0.24 फीसदी बढ़ा, जिससे अन्य मुद्रा के धारकों के लिए सोना महंगा हुआ। अन्य कीमती धातुओं में चांदी 1.2 फीसदी गिरकर 22.35 डॉलर प्रति औंस पर रही और प्लैटिनम 0.5 फीसदी गिरकर 975.23 डॉलर पर था। गौरतलब है कि अगस्त में सोने के अधिक आयात के बावजूद, भारत में सोने की भौतिक मांग कमजोर रही। घरेलू डीलरों को उम्मीद है कि आने वाले त्योहारी सीजन में और ग्राहक आएंगे।

ये भी पढ़े : फिर से सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रही हैं रानू मंडल

अगले 10 दिन में बड़ी गिरावट की आशंका

आईआईएफएल सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसीडेंट (करेंसी व एनर्जी रिसर्च) अनुज गुप्ता ने हिन्दुस्तान को बताया कि सोने-चांदी की कीमत में अगले 10 दिनों में बड़ी गिरावट आने की आशंका है। इस महीने की एक्सपायरी अक्तूबर के पहले हफ्ते में है। उस दिन तक सोना 45,000 प्रति 10 ग्राम से नीचे पहुंच सकता है। चांदी की कीमत में 54000 प्रति किलो तक देखने को मिल सकती है। हालांकि, वह सबसे बेहतरीन मौका होगा निवेश करने के लिए। निवेशक उस मौके का फायदा उठाकर त्योहारी सीजन में अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

उच्चतम मूल्य से 10000 रुपये से अधिक सस्ता सोना

सोना अपने उच्चतम मूल्य से 10000 रुपये से अधिक सस्ता हो चुका है। 7 अगस्त 2020 को सोने की कीमत 56264 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गई थी, जबकि चांदी की कीमत 76 हजार के आंकड़े को पार कर गया था। वहीं, सर्राफा बाजार की बात करें तो इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन की वेबसाइट के अनुसार गुरुवार दोपहर सोने का भाव 45,959 रुपये प्रति 10 ग्राम पर था।

घरेलू सर्राफा बाजार में गिरावट

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गुरुवार को सोना 154 रुपये की गिरावट के साथ 44,976 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया। चांदी भी 1,337 रुपये गिरकर 57,355 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई। सर्राफा कारोबारियों ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में जारी गिरावट का असर घरेलू सर्राफा बाजार पर देखने को मिला।

सिल्वर ईटीएफ को हरी झंडी मिली

पूंजी बाजार नियामक सेबी ने सिल्वर ईटीएफ को मंजूरी दे दी है। इस मंजूरी के बाद आप आप म्‍यूचुअल फंड के जरिए चांदी में भी निवेश कर सकते हैं। अभी तक मार्केट में गोल्‍ड ईटीएफ का विकल्प था, लेकिन अब निवेशकों को सिल्वर ईटीएफ का भी ऑप्‍शन मिलने जा रहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि सिल्वर ईटीएफ का बहुत अच्‍छा रिस्‍पांस मिलेगा। निवेशकों को अब अपने पोर्टफोलियो को डायवर्सिफाइड निवेश का मौका मिलेगा।

कैसे काम करेगा सिल्वर ईटीएफ

जानकारों का कहना है कि गोल्ड ईटीएफ की तर्ज पर ही सिल्वर ईटीएफ काम करेगा। अभी तक विकसित बाजारों में, एसेट मैनेजमेंट कंपनियां एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड लॉन्च करती हैं जो चांदी की कीमतों को दो तरह से ट्रैक करती हैं। कुछ फंड हाउस डेरिवेटिव्स में निवेश करते हैं। वहीं कुछ फिजिकल चांदी खरीदते हैं। भारत में म्यूचुअल फंड्स को गोल्ड ईटीएफ के लिए फिजिकल गोल्ड खरीदना पड़ता है। ठीक इसी तरह सिल्वर ईटीएफ के लिए फंड हाउस को फिजिकल सिल्वर खरीदना होगा।

होंगे ये फायदे

अब निवेशक चांदी भी स्टॉक एक्सचेंज पर ट्रेड कर सकेंगे। सिल्वर ईटीएफ एनएसई और बीएसई में लिस्ट होंगे। इससे निवेशकों को डेरिवेटिव्स (चांदी वायदा) के अलावा ईटीएफ में भी निवेश का मौका मिलेगा। चांदी न केवल कीमती धातु है, बल्कि इसके कई औद्योगिक उपयोग भी हैं। इसका इस्तेमाल इलेक्ट्रॉनिक सामान और इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण में होता है।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें