• दो पहिया वाहन में हाई सिक्योरिटी प्लेट लगवाने वालों की बुकिंग 146255 तक पहुंची
  • कलर कोड स्टीकर के लिए 304262 आवेदकों ने वेबसाइट पर ऑनलाइन बुकिंग के लिए आवेदन किया

नई दिल्ली, 20 जनवरी (एजेंसी)। दिल्ली में हाई सिक्योरिटी नंबर रजिस्ट्रेशन प्लेट (एचएसआरपी) और कलर कोड स्टीकर लगवाने को लेकर दस दिन के अंदर स्लॉट उपलब्ध होने का दावा किया जा रहा है। एचएसआरपी की बुकिंग को लेकर आंकड़ा साढ़े पांच लाख के करीब पहुंच गया है। वहीं, जनवरी के आखिर तक होम डिलीवरी करने वाले कर्मियों की संख्या एक हजार हो जाएगी।

यह भी पढ़ें : IPL 2021 : राजस्थान से कप्तान स्मिथ को तो पंजाब ने मैक्सवेल को टीम से बाहर किया

एचएसआरपी और कलर कोड स्टीकर की बुकिंग लेने वाली कंपनी से मिले आंकड़ों के अनुसार, दो पहिया वाहन में एचएसआरपी लगाने को लेकर 146255 बुकिंग प्राप्त हुई हैं। जबकि चार पहिया वाहन के लिए 389204 आवेदकों ने बुकिंग की है। वहीं, सिर्फ कलर कोड स्टीकर के लिए 304262 आवेदकों ने वेबसाइट पर ऑनलाइन बुकिंग के लिए आवेदन किया है। करीब 11 लाख व्यवसायिक और निजी चार पहिया वाहनों पर कलर कोड स्टीकर लगने हैं।

यह भी पढ़ें : बुलंदशहर में लिव-इन रिलेशनशिप में रहने वाले प्रेमी युगल की शादी जिले के एसएसपी ऑफिस में कराई

कंपनी के प्रवक्ता के अनुसार एक नवंबर से 31 दिसंबर के बीच यह आंकड़ा 452069 था। जनवरी के शुरुआती 11 दिनों में यह आंकड़ा बढ़कर 535459 तक पहुंच गया, यानि 11 दिन के अंदर 83390 लोगों ने वेबसाइट पर आवेदन किया। इसमें पहले की तुलना में कई गुना सुधार हुआ है।

यह भी पढ़ें : दिल्ली स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट में सेल्फी प्वाइंट का उद्घाटन

मौजूदा समय में 750 कर्मी होम डिलीवरी को पूरा करने में जुटे हैं। जिनकी संख्या को जनवरी आखिर तक बढ़ाकर एक हजार कर दिया जाएगा। उधर, परिवहन विभाग के अनुसार अभी हाल ही में तीन दिन तक एचएसआरपी को लेकर चालान भी किए गए थे। जिसका मुख्य उद्देश्य लोगों को जागरूक करना था। वहीं, भविष्य में एचएसआरपी और कलर कोड स्टीकर के संबंध में इसी तरह से जागरूक भी करेंगे।

यह भी पढ़ें : Shri Ram Temple Ayodhya : अयोध्या में बन रहा भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर राष्ट्र मंदिर के रूप में भी जाना जायेगा

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें