• संक्रमण के 190 नए मामले सामने आये

  • संक्रमितों की संख्या 4788 हो चुकी है

  • चीन पाकिस्तान को वेंटिलेटर, पीपीई और अन्य उपकरण मदद के रूप में दे रहा है

इस्लामाबाद, 11 अप्रैल (एजेंसी)। पाकिस्तान में कोरोना संक्रमण के मामले दिन-ब-दिन बढ़ते ही जा रहे है, सूत्रों के अनुसार ये संख्या अब  4,788 हो गयी हैं, तो दूसरी तरफ पाकिस्तान की मदद के लिए चीन चिकित्सा सहायता भेज रहा है। पाकिस्तान (Pakistan) में पहले ही इस वायरस से  71 लोगों की मौत हो चुकी है, जिनकी संख्या में भी इजाफा होने के आसार नज़र आने लगे है । राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय  के अनुसार पाकिस्तान में पिछले 24 घंटे में संक्रमण से पांच लोगों की मौत होने की पुष्टि की गयी है।

संक्रमण के 190 नए मामले सामने आये

शनिवार को कुल मामलों की संख्या बढ़ कर 4,788 हो गई जिनमें संक्रमण के 190 नए मामले हैं। अब तक 71 लोगों की मौत हो चुकी है। पचास लोगों की हालत नाजुक है वहीं 762 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। आंकडों के अनुसार पंजाब में 2,336, सिंध में 1,214, खैबर-पख्तुनख्वा में 656, बलोचिस्तान में 220, गिलगित-बाल्टिस्तान में 215, इस्लामाबाद में 215 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में संक्रमण के 34 मामले हैं। इस बीच चीन पाकिस्तान की सहायता के लिए और चिकित्सा सामग्री भेज रहा है।

चीन पाकिस्तान को वेंटिलेटर, पीपीई और अन्य उपकरण मदद के रूप में दे रहा है

चीन में पाकिस्तान की राजदूत नगमाना हाशमी ने बताया कि पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) का विशेष विमान चीन से चिकित्सा से जुड़े सामान ले कर आ रहा है। दो दिन में यह दूसरा विमान है जो यहां चिकित्सा सहायता ले कर आ रहा है। हाशमी नेबताया कि पीआईए का विशेष विमान 50 वेंटिलेटर, पीपीई और अन्य उपकरण ले कर चेंग्दू से इस्लामाबाद के लिए आज रवाना हो गया। विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को अधिकारियों के साथ एक बैठक करके अन्य देशों में फंसे अपने नागरिकों को वापस लाने के तरीकों पर विचार विमर्श किया। प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लोगों से अधिकारिक दिशानिर्देशों का पालन करने की अपील की है।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें