Coronavirus : माइक पोम्पियो ने तालिबान नेताओं से की मुलाकात, अफगानिस्तान की सहायता राशि में कटौती

Mike Pompeo meets Taliban leaders, cuts Afghanistan's aid
  • तालिबान से मिलने वाले अमेरिकी सरकार के अब तक के सबसे बड़े नेता
  • अपने सभी 13,000 सैनिकों को वापस बुलाने का उसका लक्ष्य
  • उनकी नाकामी ने अमेरिका-अफगान संबंधों को नुकसान पहुंचाया है

दोहा, 25 मार्च (एजेंसी)। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने अफगानिस्तान के शीर्ष नेताओं के बीच मतभेद नहीं सुलझने के बाद अपनी यात्रा के दौरान अफगानिस्तान सरकार को मिलने वाली अमेरिकी सहायता राशि में कटौती करने के साथ साथ तालिबान नेताओं से मुलाकात कर सबको चौंका दिया।इस मुलाकात के बाद वो तालिबान से मिलने वाले अमेरिकी सरकार के अब तक के सबसे बड़े नेता बन चुके हैं। सूत्रों के अनुसार पोम्पिओ 29 फरवरी को तालिबान के साथ समझौते पर हस्ताक्षर करने के लिये दोहा पहुंचे थे लेकिन तब तालिबान नेताओं से उन्होंने मुलाकात नहीं की थी।

उनकी नाकामी ने अमेरिका-अफगान संबंधों को नुकसान पहुंचाया है

पोम्पिओ ने अफगानिस्तान में लंबे समय से चल रहे युद्ध को खत्म करने के लिए तालिबान और अमेरिका के बीच हुए ऐतिहासिक समझौते को बनाए रखने के लिये अमेरिका लौटने के दौरान कतर पहुंचकर सबको चौंका दिया।  पोम्पिओ ने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी और उनके चिर प्रतिद्वंद्वी अब्दुल्ला अब्दुल्ला के बीच सहमति नहीं बनने को लेकर निराशा व्यक्ति की। अमेरिकी विदेश मंत्री ने काबुल में इन दोनों नेताओं से मुलाकात की थी। पोम्पिओ ने एक बयान में कहा कि उनकी नाकामी ने अमेरिका-अफगान संबंधों को नुकसान पहुंचाया है और दुखद बात यह है कि इसने अफगान, अमेरिकियों और गठबंधन भागीदारों की तौहीन की है, जिन्होंने इस देश के नए भविष्य के निर्माण के लिये संघर्ष में अपना जीवन और धन कुर्बान किया है।

अपने सभी 13,000 सैनिकों को वापस बुलाने का उसका लक्ष्य

पोम्पिओ ने कहा कि अमेरिका तत्काल सहायता राशि में एक अरब अमेरिकी डॉलर की कटौती कर रहा है और 2021 में भी वह एक अरब अमेरिकी की सहायता राशि की कटौती करेगा। उन्होंने कहा कि अमेरिका आगे भी सहायता राशि में कटौती करने पर विचार करेगा। उन्होंने कहा कि अमेरिका अफगानिस्तान से अपने सैनिकों को वापस बुलाने की योजना पर आगे बढ़ेगा और अगले साल तक अफगानिस्तान से अपने सभी 13,000 सैनिकों को वापस बुलाने का उसका लक्ष्य है। अधिकारियों ने बताया कि पोम्पिओ ने कतर के अल-उदेद एयर बेस में तकरीबन एक घंटे तक तीन तालिबान नेताओं के साथ मुलाकात की, जिसमें मुल्ला बरादर भी शामिल था। पूर्व में जेल में बंद रहा बरादर तालिबान का मुख्य वार्ताकार बन गया है।

Read all Latest Post on अंतरराष्ट्रीय international in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें
Title: mike pompeo meets taliban leaders cuts afghanistans aid in Hindi  | In Category: अंतरराष्ट्रीय international

Next Post

Lockdown : ब्रिटेन में चल रही है खचाखच भरी ट्रेनें, लॉकडाउन पर सवाल

Wed Mar 25 , 2020
किसी जरूरतमंद व्यक्ति की देखभाल या मदद के लिए तथा काम के सिलसिले में आने-जाने की इजाजत होगी जो लोग निर्माण क्षेत्र से जुड़े हैं, वे काम पर जा सकते हैं लंदन, 25 मार्च (एजेंसी)। जहाँ कई देशों में लॉकडाउन की परिस्थितियों से दो चार होना पड़ रहा है, वहीँ […]
Trains running in Britain, packed, question on lockdown

All Post