• संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए मूलभूत एहतियात बरतती हैं
  • शिशुओं के उनसे संक्रमित होने का खतरा न के बराबर
  • हमारे अध्ययन का निष्कर्ष उन महिलाओं को आश्वस्त करता है

न्यूयॉर्क। हाल में मां बनीं कोरोना वायरस से संक्रमित महिलाओं के लिए एक बड़ी राहत की खबर है कि यदि वे संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए मूलभूत एहतियात बरतती हैं, तो उनके शिशुओं के उनसे संक्रमित होने का खतरा न के बराबर है।

एक अध्ययन में यह दावा किया गया है। इसमें कहा गया है कि आवश्यक एहतियात बरतकर संक्रमित महिलाएं बिना किसी डर के अपने शिशुओं को स्तनपान भी करा सकती है।

पत्रिका ‘जेएएमए पीडिएट्रिक्स’ में प्रकाशित अध्ययन में अमेरिका के ‘न्यूयॉर्क प्रेस्बिटेरियन हॉस्पिटल’ में 13 मार्च, 2020 से 24 अप्रैल,2020 तक की अवधि में पैदा हुए संक्रमित महिलाओं के 101 नवजात शिशुओं को शामिल किया गया।

अध्ययन की सहलेखिका एवं अमेरिका स्थित ‘कोलंबिया यूनिवर्सिटी इर्विंग मेडिकल सेंटर’ की चिकित्सक सिंथिया गैम्फी-बैनरमैन ने कहा, ‘‘हमारे अध्ययन का निष्कर्ष उन महिलाओं को आश्वस्त करता है, जो कोविड-19 से संक्रमित हैं और मां बनने वाली हैं।

अध्ययन में पाया गया है कि यदि शिशु के जन्म के दौरान और उसके बाद, मास्क पहनने और शिशु को स्तनपान कराते या गोद में उठाते समय स्तन एवं हाथ संबंधी स्वच्छता सुनिश्चित करने समेत संक्रमण रोकने के लिए मूलभूत कदम उठाए जाते हैं, तो नवजात को संक्रमित होने से बचाया जा सकता है।’’

इसमें कहा गया है कि शिशुओं को संक्रमण से बचाने के लिए अस्पताल कर्मियों ने सामाजिक दूरी का पालन किया, मास्क पहने, संक्रमित मांओं को निजी कक्षों में रखा और उन महिलाओं को अस्पताल से जल्द छुट्टी दे दी गई, जिनमें बच्चे को जन्म देने के बाद स्वास्थ्य संबंधी कोई जटिलता नहीं थी।

अध्ययन के अनुसार, केवल दो शिशु कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए, लेकिन उनमें भी बीमारी के कोई लक्षण नहीं थे।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें