एक रहस्यमय किला जो श्राप के कारण बन गया भूतों का किला

bhangarh-fort-1

राजस्थान के अलवर जिले में स्थित भानगढ़ के किले को “भूतो का भानगढ़” (most haunted bhangarh fort ) भी कहा जाता है, जो तीन तरफ़ से पहाड़ियों से सुरक्षित है। 1573 में इस क़िले का निर्माण आमेर के राजा भगवंत दास ने बनवाया था। लगभग 300 वर्षों तक आबाद रहने वाला विक्रम संवत 1722 में हरिसिंह के गद्दी संभालने के बाद अपनी चमक खोने लगा । उस समय औरंगजेब के शासन का था और उसके दबाव में आकर हरिसिंह के दो बेटों ने मुस्लिम धर्म अपना लिया और अपना नाम बदलकर मोहम्मद कुलीज एवं मोहम्मद दहलीज के नाम से रहने लगे । औरंगजेब की शासन पर पकड़ ढीली होने लगी है तथा दोनों भाई भी शासन चलाने में कमजोर थे, इस परिस्थिति का पूरा फायदा जयपुर के महाराजा सवाई जय सिंह ने उठाया और भानगढ़ किले( bhangarh fort)पर कब्ज़ा कर लिया |

bhangarh fort haunted stories in hindi


भानगढ़ की राजकुमारी रत्नावती इतनी खुबसूरत थी कि उनके रूप की चर्चा पूरे देश में हुआ करती थी और देश के हर कोने के राजकुमार उनसे विवाह करने की इच्छा रखते थे। एक बार राजकुमारी रत्नावती अपनी सखियों के साथ बाजार में एक इत्र की दुकान पर इत्रों को हाथों में लेकर उसकी खुशबू ले रही थी। दुकान से थोड़ी दूरी पर काले जादू का महारथी सिंधु सेवड़ा नाम का व्यक्ति खड़ा होकर राजकुमारी को गौर से देख रहा था। सिंधु सेवड़ा राजकुमारी के रूप पर ऐसा मोहित हुआ कि उसने राजकुमारी को अपने वश में करने की ठान ली। उसने राजकुमारी पर तंत्र प्रयोग किया।

भारत में हैं खजानों का भंडार पर आज तक बना हुआ है रहस्य

बताया जाता है कि राजकुमारी ने जिस इत्र की बोतल को पसंद किया उसने राजकुमारी के वशीकरण के लिए उस बोतल पर काला जादू कर दिया लेकिन किसी तरह से राजकुमारी को इस राज के बारे में पता चल गया और राजकुमारी ने इत्र की बोतल तोड़ दी | जिसके बाद तांत्रिक सिंधु सेवड़ा की मौके पर ही मौत हो गयी तथा मरते मरते तांत्रिक ने श्राप दिया कि इस किले में रहने वालें सभी लोग जल्दी ही मर जायेंगे और वो दोबारा जन्म ने लेंगे तथा उनकी रूह ताउम्र इसी किले में भटकती रहेंगी।

bhangarh fort haunted stories in hindi

यहाँ भूत होने की बात प्रमाणित है | किले के अंदर केवल खंडहर हो चुके महल में ही भूत रहते है | महल की सीढ़ियों के बिलकुल पास भोमिया जी का स्थान है , जिसके कारण भूत महल से नीचे नहीं आते है । इसलिए रात के समय किले के परिसर में रहा जा सकता है परन्तु महल के अंदर रात में नहीं जाना चाहिए।

इन हैकरों ने दुनिया में मचा दिया आतंक

ASI द्वारा खुदाई में इस शहर के  प्राचीन ऐतिहासिक स्थल होने के पर्याप्त सबूत मिले हैं, फिलहाल इस किले की देख रेख भारत सरकार द्वारा की जा रही है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण  (ASI), इंडिया की टीम किले के चारों तरफ मौजूद रहती हैं तथा उन्होंने हिदायत दी है कि सूर्यास्त के बाद इस इलाके में प्रवेश वर्जित है।

bhangarh fort haunted stories in hindi

भानगढ़ का किला( bhangarh fort)पूरी तरह से खंडहर में तब्दील हो चुका है, जबकि भानगढ़ के सारे के सारे मंदिर सही है मगर अधिकतर मंदिरो से मूर्तिया गायब है। सोमेश्वर महादेव मंदिर में जरूर शिवलिंग अभी भी मौजूद  है, जिसमे सिंधु सेवड़ा तांत्रिक के वंशज ही पूजा पाठ कर रहे है |


वो बड़े आविष्कार जो सबसेे पहले हुए भारत में उसके बाद दुनिया ने उन्हें अपनाया

अगर भानगढ़ जाना हो तो सावन के महीने ( जुलाई -अगस्त ) में जाना चाहिए क्योकि तीन तरफ से अरावली की पहाड़ियो से घिरे इस किले में मानो बहार आ जाती है और यदि सोमेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी से भानगढ़( bhangarh fort)का इतिहास सुनना हो तो आप सोमवार के दिन जाए क्योंकि पुजारी जी सोमवार को पूरा दिन मंदिर में रहते है बाकी दिन तो सुबह पूजा करके वापस चले जाते है।

विश्व के दस सबसे खूबसूरत महल जिन्हें देखकर हैरान रह जाएंगे आप

 


 

 


Read all Latest Post on खासखबर khaskhabar in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें
Title: bhangarh fort haunted stories hindi in Hindi  | In Category: खासखबर khaskhabar

Next Post

Judwaa 2 review : दाल में तडके की कमी

Fri Oct 6 , 2017
Judwaa 2 Movie Review in Hindi जब एक ही कहानी को बार बार घुमाया जाए तो उसमे मनोरंजन के नये तडके लगने की आस दर्शको के मन में जागृत होना लाज़मी है | सबसे पहले 1992 में जैकी चैन (Jackie Chan) इस कहानी को लेकर अपने दीवानों के लिए इस […]
Judwaa 2 Movie Review: Varun Dhawan, Jacqueline Fernandez, Taapsee Pannu Starrer Judwaa 2 review in HindiJudwaa 2 Movie Review: Varun Dhawan, Jacqueline Fernandez, Taapsee Pannu Starrer Judwaa 2 review in Hindi

All Post


Leave a Reply

error: खुलासा डॉट इन khulasaa.in, वेबसाइट पर प्रकाशित सभी लेख कॉपीराइट के अधीन हैं। यदि कोई संस्था या व्यक्ति, इसमें प्रकाशित किसी भी अंश ,लेख व चित्र का प्रयोग,नकल, पुनर्प्रकाशन, खुलासा डॉट इन khulasaa.in के संचालक के अनुमति के बिना करता है , तो यह गैरकानूनी व कॉपीराइट का उल्ल्ंघन है। यदि कोई व्यक्ति या संस्था करती हैं तो ऐसा करने वाला व्यक्ति या संस्था पर खुलासा डॉट इन कॉपी राइट एक्त के तहत वाद दायर कर सकती है जिसका सारे हर्जे खर्चे का उत्तरदायी भी नियम का उल्लघन करने वाला व्यक्ति होगा।