• भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या  हुई 107
  • कोरोना वायरस से भारत में अब तक दो लोगों की मौत
  • कोरोना के 93 मामलों में 31 मामले ऐसे हैं जिनमें मरीजों की आयु 60 वर्ष से अधिक

नई दिल्ली, 15 मार्च (एजेंसी)। देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 23 नए मामलों के सामने आने के बाद अबतक 107 मामलों की पुष्टि हुई है जिनमें नौ डिस्चार्ज किए गए मरीज और दो मौतों के मामले भी शामिल हैं। केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के विशेष सचिव संजीव कुमार ने देश में कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए केन्द्र सरकार की तैयारियों के बारे में रविवार को यहां पत्रकारों को बताया कि पिछली अपडेट से लेकर अब तक 23 मामलों का पता चला है और अब देश में कोरोना के 107 मामलों की पुष्टि हुई है। इनमें से नौ डिस्चार्ज किए गए मरीज और दो मौत के मामले भी शामिल हैं।

महाराष्ट्र से 17, तेलंगाना से दो, राजस्थान से एक और केरल से तीन मामले मिले हैं। कोरोना के 93 मामलों में 31 मामले ऐसे हैं जिनमें मरीजों की आयु 60 वर्ष से अधिक थी। इनमें दो मौत के मामले भी हैं जो अन्य बीमारियों से ग्रसित थे। इन सभी मामलों में संपर्क व्यक्तियों की ट्रेसिंग काफी सख्ती से की जा रही है और अभी तक 4000 से अधिक संपर्क व्यक्तियों को निगरानी में रखा गया है। उन्होंने बताया कि देश में लोगों में कोरोना संक्रमण को लेकर जो बैचेनी फैल रही है उसका निराकरण करने के लिए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(एम्स) दिल्ली ने 24 घंटों काम करने वाली हेल्पलाइन शुरू की है और इसका मोबाइल नंबर 9971876591 है और यह चिकित्सकों द्ववारा चलाई जा रही है।

श्री कुमार ने बताया कि सभी भारतीयों के लिए कोरोना का पहला और दूसरा कन्फर्मेटरी टेस्ट को पूरी तरह निशुल्क कर दिया गया है और देश में कोरोना की पर्याप्त टेस्टिंग क्षमता मौजूद है तथा अभी तक प्रतिदिन कुल क्षमता का केवल 10 प्रतिशत ही इस्तेमाल किया गया है।

करतारपुर गुरुद्वारा यात्रा स्थगित

कोरोना वायरस के मद्देनजर पाकिस्तान स्थित करतारपुर गुरुद्वारा के लिए श्रद्धालुओं की यात्रा और रजिस्ट्रेशन को आज आधी रात के बाद एहतियातन अस्थायी तौर स्थगित कर दिया गया है। गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार कोराना वायरस के फैलाव को रोकन और नियंत्रित करने के उद्देश्य से एहतियात के तौर पर धार्मिक यात्रा पर 16 मार्च से रोक लगा दी गयी है । यह रोक अगले आदेश तक के लिए लगायी गयी है। सरकार ने कोरोना वायरस के मद्देनजर नेपाल, भूटान, बंगलादेश तथा म्यांमार के लिए सड़क मार्ग से आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया है। इन देशों के लिए सड़क यातायात 15 मार्च से अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। भारत और बंगलादेश के बीच चलने वाली यात्री ट्रेनों के संचालन को भी 15 मार्च से 15 अप्रैल या अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। नेपाल तथा भूटान की सीमा पर आवाजाही दोनों देशों के नागरिकों लिए नहीं, तीसरे मुल्क के नागरिकों के लिए प्रतिबंधित रहेंगी। मंत्रालय ने कहा है कि सीमाओं पर लगने वाले हाट को भी अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। इन हाट बाजारों में सीमा से जुड़े दोनों देशों के लोग आते-जाते हैं।

दिल्ली में कोरोना वायरस से मृत महिला के बेटे की हालत स्थिर

कोरोना वायरस संक्रमण के कारण पश्चिमी दिल्ली में जिस 68 वर्षीय महिला की मौत हुई थी उसके बेटे की हालत स्थिर है और सफदरजंग अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि जनकपुरी निवासी 46 वर्षीय व्यक्ति को शुक्रवार को राम मनोहर लोहिया अस्पताल से सफदरजंग अस्पताल में स्थनांतरित किया गया था। उन्होंने बताया कि शनिवार को सेहत में सुधार होने पर उसे गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) से पृथक वार्ड में स्थानांतरित किया गया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया, ‘‘ वह आईसीयू से बाहर है और उसकी हालत स्थिर है। वह बिस्तर पर नहीं है।’’

उन्होंने बताया कि वह निगम बोध घाट पर चिकित्सकों की निगरानी में उसकी मां का अंतिम संस्कार हुआ जिसमें वह शामिल नहीं हो सका। सूत्रों ने बताया कि इस व्यक्ति ने पांच फरवरी से 22 फरवरी के बीच स्विट्जरलैंड और इटली की यात्रा की थी और 23 फरवरी को भारत लौटा था। उन्होंने बताया कि शुरुआत में उसमें संक्रमण के लक्षण नहीं पाए गए थे लेकिन कुछ दिन बाद उसे बुखार और खांसी की शिकायत हुई एवं सात मार्च को राम मनोहर लोहिया अस्पताल को इसकी सूचना दी गई। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी ने बताया, ‘‘ निर्धारित प्रक्रिया के तहत उसके पूरे परिवार की जांच की गई और उसे एवं मां को बुखार और खांसी की शिकायत होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया।’’ उन्होंने बताया कि उसे सांस लेने की गंभीर समस्या होने पर ऑक्सीजन सहयोग पर रखा गया।’’ अधिकारी ने बताया कि इस व्यक्ति की मां मधुमेह और उच्च रक्तचाप से भी पीड़ित थी।

आठ मार्च को उनका नमूना लिया गया और जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई और अगले दिन उनकी सेहत और बिगड़ गई जिसके बाद उन्हें गहन चिकित्सा कक्ष में भर्ती किया गया। उन्होंने बताया कि सांस लेने में परेशानी होने के बाद महिला को जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया। हालांकि, कई अन्य परेशानियों की वजह से 13 मार्च को राम मनोहर लोहिया अस्पताल में उनकी मौत हो गई। गौरतलब है कि महाराष्ट्र में 12 नये मरीजों के साथ देश में रविवार तक कोरोना वायरस से संक्रमण के 107 मामलों की पुष्टि हो चुकी है जबकि इनमें से दो लोगों की मौत हुई है।

इटली से लाए गए 218 लोगों को आईटीबीपी के पृथक केंद्र में ले जाया गया

इटली से रविवार को भारत लाए गए 218 भारतीयों को दक्षिण पश्चिम दिल्ली के छावला इलाके में आईटीबीपी के पृथक केंद्र में ले जाया गया है। इनमें अधिकतर विद्यार्थी हैं।एअर इंडिया की मिलान से आई उड़ान सुबह नौ बजकर 45 मिनट पर इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पहुंची। इस उड़ान में आए समूह में 211 छात्र हैं और शेष भारतीय नागरिक हैं। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के एक प्रवक्ता ने कहा, “मिलान से लाए गए सभी 218 लोगों को दक्षिण पश्चिम दिल्ली के छावला में हमारे पृथक केंद्र में ले जाया जा रहा है। वे पृथक रहने की प्रक्रिया के तहत एक पखवाड़े तक वहां रहेंगे।”इससे पहले इस केंद्र में चीन के वुहान से निकाल के लाए गए भारतीयों और विदेशियों के दो समूहों को रखा गया था। इनमें कुल 518 लोग शामिल थे।प्रवक्ता ने कहा कि आईटीबीपी केंद्र में पहले की तरह ही डॉक्टर, पैरामेडिकल टीम और अन्य स्टाफ होगा। साथ ही, उनके लिए खाने, मेडिकल परीक्षण और इनडोर मनोरंजन की सुविधा होगी।

 

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें