Cricket celebrities who got married in 2017 : युं तो साल 2017 में बहुत सी घटनाएं हुईं, कुछ अच्छी और कुछ खराब। कुछ ऐसी जिन्होंने हमारे दिल पर ऐसे घाव दिए जो जीवन शायद न भरें, पर इस बीते हुए साल कुछ ऐसी घटनाएं भी घटी जो किक्रेट के खिलाड़ियों […]

आज कल फ़िल्मी जगत में एक खबर खूब चर्चाओ में है कि सूबेदार जोगिंदर सिंह बायोपिक के लिए गिप्पी ग्रेवाल ने पहले 10 किलो वजन कम किया तथा उसके बाद 25 किलो वजन बढ़ाया था | इस फिल्म में एक सैनिक का अदम्य साहस और एक किसान की जिंदगी देखने […]

आज के दौर में सत्ता के लिए लोग धर्म के नाम पर, जाति के नाम पर लोगों को बांटने की कोशिश कर रहे हैं, और कुछ मौका परस्त लोग सिर्फ अपने को फायदा पहुंचाने के लिए मजहब के नाम पर और कभी जाति के नाम पर दंगे भड़काने में भी […]

Major Crimes That Stunned the Nation in 2017 : वैसे तो छोटे या बड़े अपराध हर साल ही होते हैं। लोग इनमें से कुछ को भूल जाते हैं लेकिन कुछ घटनाएं कितना भी वक्त बीतने के बाद भी लोगों के दिलो दिमाग पर हावी रहती हैं। बीते हुए साल में […]

एक शोध के अनुसार यदि ग्लोबल वार्मिंग की समस्या दिन-ब-दिन ऐसी ही बढ़ती रही तो आने वाले समय में भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश के अधिकांश हिस्से पर जन-जीवन के लिए एक बड़ा खतरा पैदा हो जाएगा। मैसेचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के शोधकर्ताओं ने अपने शोध में यह पता लगाया है […]

वर्ष 2017 जा चूका है, और वर्ष 2018 ने दस्तक दे दी है, मगर 2017 में कई लोग ऐसे भी थे जो इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह गए और शायद ही कोई अब उनकी जगह भर पाए | ये ऐसे लोग होते है जो अपनी ज़िंदगी में […]

कुछ लोगो का मानना है कि जैनों के 24वें तीर्थंकर वर्धमान महावीर के बाद श्रीमद राजचंद्र ही जैनों के 25वे तीर्थंकर थे | गाँधी जी इनसे बहुत प्रभावित थे, जिस कारण वो इनसे अध्यात्मिक विषयों पर विचार-विमर्श व पत्राचार किया करते थे | लक्ष्मीनंदन व रायचंद से राजचंद्र तक ऐसा […]

लगभग इंटरनेट का इस्तेमाल सभी लोग करते है और जाने अनजाने तौर पर सभी साइबर क्राइम के तहत आते हैं। लेखन, फोटो, गीत-संगीत, सॉफ्टवेयर, विडियो, कार्टून, किताब, ई-बुक, वेबसाइट आदि क्रिएटिविटी करने वाले हर शख्स के पास हक होता है, कि वो अपनी क्रिएटिविटी को ऐसी सुरक्षा दे सकता है, […]

ममी(Mummy) बनाने की विधि प्राचीन मिस्र सभ्यता में बड़े पैमाने पर अपनायी जाती थी जिसमे मृत्यु के पश्चात शव(Dead Body) को केमिकल्स से संरक्षित करके रखा जाता था | मिस्त्र के अलावा और भी कई देश है जहाँ ममी बनायीं जाती थी जैसे इटली का कापूचिन कैटाकॉम्ब, जहाँ 8000 शवो […]

शोले जैसी ‘सिनेमेटिक मास्टरपीस’ पर किताबें लिखी गई, समाजशास्त्रीय अध्ययन हुए और शोले व इसके जैसी अन्य फिल्मों के गहरे अर्थ ढूंढ़े गए ताकि पता लग सके कैसे ये फिल्में ‘अपने समय के मिजाज’ का दर्पण हैं | एक रिसर्च इस विषय पर भी होनी चाहिए कि क्या वजह थी […]

All Post