अपने फिगर के साथ साथ ब्यूटी पर भी दें विशेष ध्यान

फिगर के साथ साथ ब्यूटी पर भी दें विशेष ध्यान
  • यदि आप बढते हुए वजन कम करने की ठान चुकी है तो ऐसे में अपने फिगर के साथ-साथ ब्यूटी पर भी विशेष ध्यान दें
  • त्वचा की कोशिकाओं में प्रोटीन और प्रोटीन और फैट 2 तरह के मेट्रो एलिमेंट होते हैं, जिसे लाइपोप्रोटीन कहा जाता है
  • सूर्योदय से पहले रोज सुबह उठकर अपने मुंह में ढेर सारा पानी भर कर बंद आंखों पर 15-20 बार ठंडे पानी के छींटे मारें
  • मेंहदी के हेअर पैक में ऑलिव आइल और अंडे की सफेदी भी डालें
  • ऑइल मसाज के बाद कुछ स्किन लिफ्टिंग बॉडी पैक भी लगा सकती हैं

यदि आप बढते हुए वजन कम करने की ठान चुकी है तो ऐसे में अपने फिगर के साथ-साथ ब्यूटी पर भी विशेष ध्यान दें | ऐसा करने से आगे चलकर आपको कोई परेशानी नही होगी। जी हां, ये सच है कि यदि मोटी महिलाएं अगर छरहरी होने  की ठान लें, तो उनके इस संकल्प के आड़े कोई नहीं आ सकता। मोटापे से नाता टूटे, उससे पहले ब्यूटी से अपना रिश्ता जोड़ें। वजन चाहे व्यायाम, डाइटिंग या किसी सर्जरी की सहायता से कम करें, हर सूरत में त्वचा प्रभावित होगी। वजन कम करने की इस पूरी प्रक्रिया में कई बार त्वचा इतनी लटक जाती है कि कसावट की स्थिति में लाने में काफी समय लगता है। त्वचा का लटकना आगे चलकर ठीक हो पाएगा कि नहीं यह महिला की उम्र, वह कितने लंबे समय तक मोटी रही और उसने कितनी मात्रा में वजन कम किया जैसी बातों पर भी खासतौर से निर्भर करता है।

त्वचा की कोशिकाओं में प्रोटीन और प्रोटीन और फैट 2 तरह के मेट्रो एलिमेंट होते हैं, जिसे लाइपोप्रोटीन कहा जाता है। इससे त्वचा में लचक बनती है। जो महिलाएं वजन कंट्रोल की प्लानिंग कर रही है, वे अपनी कोशिकाओं में मौजूद फैट को नियंत्रित कर लेती हैं और पतली हो जाती हैं। लेकिन इससे शरीर में फैट और प्रोटीन का संतुलन बिगड़ जाता है। त्वचा की लचक कम हो जाती है, त्वचा में जल्दी झुर्रियां पड़ जाती हैं, त्वचा में जल्दी झुर्रियां पड़ जाती हैं। और त्वचा ढीली हो जाती है। इसलिए डॉक्टर बताते हैं कि जब भी वजन कम करें, तो अपनी डाइट पर पूरा ध्यान रखें। खाने में प्रोटीन कम न करें, लेकिन फैट और कार्बोहाइड्रेट पर नियंत्रण रख सकती हैं। किडनी में समस्या है, शरीर में यूरिक एसिड ज्यादा बन रहा है, तो उसे डॉक्टरी सलाह पर प्रोटीन की मात्रा कम लेनी चाहिए। वजन कम करनेवाली रही महिलाएं कुछ बातों पर गौर करें-


  • शरीर से चर्बी घटेगी, तो सबसे पहले गाल पिचकेंगे।
  • वक्ष, कूल्हे, बांहों और जांघों की त्वचा पर सफेद धारियां पड़ने लगेंगी और मांसपेशियां ढीली दिखने लगेंगी।
  • आंखों के आसपास की त्वचा पर झुर्रियां व काले घेरों की परेशानी होगी। इतना ही नहीं आंखों की रोशनी पर भी विपरीत प्रभाव पड़ सकता है।
  • हाथों व पैरों का गुदगुदापन कम हो जाएगा और उंगलियां सिकुड़ी-सी दिखाई देंगी।
  • सिर के बाल तेजी से झड़ेंगे।
  • त्वचा चमकहीन दिखाई देगी।

आंखों की देखभाल

आंखों की देखभाल
  • सूर्योदय से पहले रोज सुबह उठकर अपने मुंह में ढेर सारा पानी भर कर बंद आंखों पर 15-20 बार ठंडे पानी के छींटे मारें। इससे आंखों के आसपास पड़ने वाली झुर्रियां कम होंगी या देरी से पड़ेंगी।
  • कभी भी देर तक व्यायाम करने के बाद या गर्मी में बाहर से आने के बाद तुरंत ठंडे पानी से चेहरा और आंखें न धोएं। जब शरीर का पसीना सूखे, तब चेहरे व आंखों पर ठंडे पानी का इस्तेमाल करें।
  • दूर की किसी चीज को देर तक न देखें। पलकें तनाव में रहेंगी और झुर्रियां जल्दी पड़ेगी। पलके झपकाएं, आंखों को आराम मिलेगा।
  • तेज धूप में सनग्लास का इस्तेमाल करें।
  • कम रोशनी में पढ़ने-लिखने का काम न करें। इससे आंखों थकी और सुस्त दिखाई देंगी।
  • वजन कम करने से आंखों के नीचे काले घेरों की शिकायत भी आम है, इसके लिए रात को सोने से पहले अंडर आई जैल का इस्तेमाल करें। आलू का रस या खीरे के स्लाइस 15 मिनट तक आंखों पर लगाकर रखेंगी तो भी लाभ मिलेगा।
  • आंखों की सूजन से बचने के लिए टी बैग्स, गुलाबजल में डूबे रुई के फाहे भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

गाल व गरदन की कसावट

गाल व गरदन की कसावट
  • वजन कम होने का प्रभाव चेहरे पर पड़ता है। गालों और गरदन की कसावट बनी रहे इसके लिए 15 दिन के अंतराल पर फेशियल कराएं।
  • घर पर त्वचा के प्रकार के अनुसार पैक का प्रयोग कर सकती हैं। रूखी त्वचा वाली मोटी महिलाएं बादाम, दही और दूध से बने पैक का इस्तेमाल करें। सामान्य त्वचा वाली महिलाएं नीम व चंदनयुक्त फेस पैक इस्तेमाल कर सकती हैं।
  • हफ्ते में एक बार सरदियों के मौसम में ऑलिव ऑइल से गरदन से ऊपर की ओर ठोड़ी से कनपटी की ओर उंगलियों के ऊपर स्ट्रोक्स से चेहरे की मालिश करें। गर्मियों में तिल के तेल और बर्फ के पानी को बराबर मात्रा में मिलाकर मालिश करें।

बदन और झुर्रियां

बदन और झुर्रियां
  • बदन से चरबी छंटते ही झुर्रियों से बचने के लिए कंडीशनर का प्रयोग करें। एक बड़ा चम्मच शहद और 2 बड़े चम्मच क्रीम को मिलाकर 20 मिनट के लिए चेहरे या बदन पर लगाकर धो लें।
  • पतले होने के दौरान हो सकता है शरीर में कुछ हारमोन्स की गड़बड़ी भी हो और गालों पर पिगमेंटेशन हो। इसके लिए स्त्री रोग विशेषज्ञ से सलाह लें। घर आलू या खीरे का पैक भी नियमित लगाएं, ताकि बाहरी तौर पर त्वचा को नमीयुक्त व लचकदार बनाए रखें।
  • जांघों, बांहों और वक्षों की कसावट के लिए अरंडी और जैतून के तेल के बराबर की मात्रा में गरम करें और मालिश करें।
  • ऑइल मसाज के बाद कुछ स्किन लिफ्टिंग बॉडी पैक भी लगा सकती हैं, जैसे बादाम का पाउडर, दही, अंडे की सफेदी, शहद और गुलाब के फूलों के पेस्ट से तैयार बॉडी पैक।
  • कूल्हे और जांघों पर सफेद धारियों से बचने के लिए जैतून के तेल में विटामिन ई के कैप्सूल को तोड़ कर मिलाएं। इससे 20 मिनट तक कूल्हे और जांघों की मालिश करें।

बाल रहें खूबसूरत

बाल रहें खूबसूरत

शरीर में पौष्टिकता की कमी होते ही बाल तेजी से झड़ने लगते हैं। ऐसा हो, इसके लिए आयरन, प्रोटीन और विटामिन से भरपूर फल-सब्जियां खाएं। चुकन्दर का सलाद, पालक, आंवला, मछली, चैलाई व बथुआ खाएं, जो स्वस्थ बालों के लिए जरूरी हैं।

  • महीने में 2 बार हेअर पैक का इस्तेमाल करें। मेंहदी के हेअर पैक में ऑलिव आइल और अंडे की सफेदी भी डालें। बाल मुलायम रहेंगे।
  • हमेशा शैंपू के बाद बालों को कंडीशन करें।

Read all Latest Post on महिला जगत mahila jagat in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें
Title: attention for figure as well as beauty in Hindi  | In Category: महिला जगत mahila jagat

Next Post

बेमौसम आंधी-बारिश और ओलों ने खराब की फसल, किसानों को लगा झटका

Sun Mar 15 , 2020
आम की बौर और रवि की फसलों को भारी नुकसान 20 मार्च तक मौसम में तापमान बढ़ने की संभावना आम की फसल में फफूंद लगने की संभावना नई दिल्ली, 15 मार्च (एजेंसी)। मार्च में तीन दौर की हुयी भारी बरिश, ओलावृष्टि और तेज हवाओं से रबी फसलों को नुकसान हुआ […]
Loss of rabi and mango crops due to rain and hail, Farmers Disillusion

All Post