रसमलाई (Rasmalai recipe) बनाने की विधि

Rasmalai recipe hindi | रसमलाई (Rasmalai recipe) बनाने की विधि

Rasmalai recipe hindi

4 लोगों के लिए

सामग्री:

  • छेना 250 ग्राम,
  • बेकिंग पाउडर चुटकी भर,
  • रबड़ी 500 ग्राम,
  • मैदा 2 बड़े चम्मच,
  • शक्कर 750 ग्राम,
  • पिस्ता 2 छोटे चम्मच

 


बनाने की विधि:

कुल चीनी में से 150 ग्राम चीनी को अलग निकालकर उसका पाउडर बना लें। छेने को अच्छी तरह गूंथ ले। मैदे को छानकर बेकिंग पाउडर के साथ अच्छी तरह मिलाएं। छेने को मैदे के साथ दोबारा गूंथ लें। इसके छोटे-छोटे टिक्के बनाकर बीच से दबाएं ताकि आकार थोड़ा चपटा हो जाए। एक चम्मच मैदे को एक कटोरी पानी में इस तरह घोलें कि घोल एकसार हो जाए।

रबड़ी में चीनी का पाउडर मिलाकर फ्रिज में ठंडा होने के लिए रख दें। इसके बाद बची हुई चीनी को आधा लीटर पानी में उबालें। अब इसी चाशनी में पहले से तैयार किया गया मैदे का घोल मिला दें। चाशनी जब उबलने लगे तब उसमें छेने के टिक्के डालकर पकाएं। इस बीच आंच तेज कर दें। चाशनी ज्यादा गाढ़ी न हो इसलिए उसमें थोड़ा थोड़ा पानी डालते रहें।

अगर छेने के टिक्कों में छोटे-छोटे छेद नजर आने लगें तो समझें कि टिक्के तैयार हैं। अब एक अन्य बर्तन में लगभग 1 लीटर पानी लें, इसी में चाशनी समेत सारे टिक्कों को डाल दें और ठंडा होने दें। रबड़ी को फ्रिज से निकालें। टिक्कों को हल्के हाथों से निचोड़कर एक-एक करके रबड़ी में डालें। इस बात का ध्यान रखें कि टिक्के टूटने न पाएं।

अब इसे दोबारा फ्रिज में रखकर ठंडा करें और ऊपर से बारीक कटा हुआ पिस्ता छिड़क दें। चाहें तो चांदी का वर्क भी लगा सकते हैं। बस, तैयार हो गई स्वादिष्ट रसमलाई।

 

वीडियो में देंखें Rasmalai Recipe in Hindi | हल्दीराम जैसी रसमलाई घर पर बनाये | How to make Rasmalai

 

कैसे बनाएं जाएकेदार लेमन पेपर फिश (Lemon pepper fish recipes )


Read all Latest Post on खाना खजाना khana khazana in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें
Title: rasmalai recipe hindi in Hindi  | In Category: खाना खजाना khana khazana

Next Post

अब शब्‍दों का विश्‍व बैंक बनाने की तैयारी : अनुराग

Sat May 21 , 2016
आधुनिक काल में हिन्‍दी के पहले शब्‍दकोश ‘समांतर कोश’(1996), ‘द हिंदी-इंग्लिश इंग्लिश-हिंदी थिसारस ऐंड डिक्शनरी’(2007) जैसे महाग्रंथ और ‘अरविंद लैक्सिकन’(2011) के रूप में इंटरनैट पर विश्‍व को हिन्‍दी-अंग्रेजी के शब्‍दों का सबसे बड़ा ऑनलाइन ख़ज़ाना देने वाले अरविंद कुमार अब ‘शब्दों का विश्‍व बैंक’ बनाने की तैयारी में जुटे हैं। […]
An endless road of words

All Post


Leave a Reply