साहेब, बीवी और गैंगस्टर 3 : पुरानी और बासी पेशकश

Saheb Biwi Aur Gangster Movie Review in Hindi

Saheb Biwi Aur Gangster Movie Review in Hindi साहेब, बीवी और गैंगस्टर (2011), साहेब, बीवी और गैंगस्टर रिटर्न्स (2013) और अब आप सबके सामने आई है साहेब, बीवी और गैंगस्टर 3। खुलासा डॉट इन में पढ़िए साहेब बीवी और गैंगस्टर थ्री का रिव्यू

जहाँ संजू फिल्म ने संजय दत्त की छवि को साफ़ करने का प्रयास किया है तो इस फिल्म में एक बार फिर साहेब, बीवी और गैंगस्टर में संजयदत्त गैंगस्टर की भूमिका में नज़र आये है। अब तक गैंगस्टर की भूमिका में सिर्फ और सिर्फ रणदीप हुड्डा ही जंचे है अन्यथा इरफ़ान खान और अब संजय दत्त बिलकुल निरर्थक नज़र आये हैं। खैर फिल्म तिग्मांशू धूलिया की है, फिर भी बकवास है और मुझे लगता है अब इस थीम पर इन्हें फुल स्टॉप लगा देना चाहिए।


फिल्म की कहानी रानी माधवी देवी को केंद्र में रखकर लिखी गयी है । उनके एक साहेब भी है, जिनका नाम आदित्य प्रताप सिंह हैं, जो अपने राजसी रुतबे और खोए प्यार को पाने में व्यस्त रहते है और कहानी में एक  गैंगस्टर भी है, जिसका नाम कबीर है। फिल्म की कहानी अपने पिछले दो भागों की तरह है, बीवी का दिल गैंगस्टर पर आ जाता है, जिसकी भनक साहेब को भी है और फिर शुरू होता है शह और मात का खेल | इस दौरान कहानी में कई किरदार आते है और जाते है और अंत फिल्म का वही जो होता आया है।

कद-काठी के हिसाब से संजय गैंगस्टर ही नज़र आते हैं, परन्तु अभिनय के मामले में वो मात खा जाते हैं और डायलॉग डिलीवरी में तो खासकर। चित्रागंदा सिंह स्क्रीन पर खूबसूरत नजर आती है तो सोहा अली खान को इस बार सिर्फ शो-पीस बनाकर रख दिया है। हां, नायिका के तौर पर माही गिल बाज़ी मार ले जाती है। आते जाते किरदारों में कबीर बेदी, नफीसा अली और दीपक तिजोरी प्रभावित करते हैं। मगर फिल्म की पूरी जिम्मेदारी जिम्मी शेरगिल अपने कन्धों पर सँभालते हुए नज़र आते हैं।

यदि कहानी की बात की जाए तो 2 लाइन की स्टोरी में इतने ट्विस्ट और टर्न डाले गए हैं कि कई बार आप भी चकमा खा जाते हैं और होनी वाली घटना का अंदाज़ा नहीं लगा पाते। परन्तु इस फिल्म पर बहुत काम होना बाकी था। डायरेक्टर तिग्मांशू चाहते तो फिल्म को दमदार बना सकते थे। फिल्म में दमदार पंच हैं। हालाँकि काफी लोगों को यह फिल्म खूब पसंद आ रही है, तो कई लोगों ने फिल्म को बकवास करार दिया है। देखा जाए तो पिछले दो भागो की तरह इस फिल्म में भी धोखा, वासना, हत्याएं और गोलियों की आवाज़ के सिवा कुछ ऐसा नहीं है, जो इसे खास बनाते हो ।

Saheb Biwi Aur Gangster 3 Movie Review: जानिए कैसी है Sanjay Dutt की ये Film

 

 

 

 


Read all Latest Post on फिल्म समीक्षा movie review in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें
Title: film review saheb biwi aur gangster 3 is a mess in Hindi  | In Category: फिल्म समीक्षा movie review

Next Post

अदम गोंडवी हिंदी गजल : चाँद है ज़ेरे-क़दम, सूरज खिलौना हो गया  

Tue Jul 31 , 2018
चाँद है ज़ेरे-क़दम. सूरज खिलौना हो गया हाँ, मगर इस दौर में क़िरदार बौना हो गया शहर के दंगों में जब भी मुफलिसों के घर जले कोठियों की लॉन का मंज़र सलोना हो गया ढो रहा है आदमी काँधे पे ख़ुद अपनी सलीब जिंदगी का फ़लसफ़ा जब बोझ ढोना हो […]
Adam Gondvi Hindi Gazal Chand hai jere kadam suraj khilaona ho gaya

All Post


Leave a Reply

error: खुलासा डॉट इन khulasaa.in, वेबसाइट पर प्रकाशित सभी लेख कॉपीराइट के अधीन हैं। यदि कोई संस्था या व्यक्ति, इसमें प्रकाशित किसी भी अंश ,लेख व चित्र का प्रयोग,नकल, पुनर्प्रकाशन, खुलासा डॉट इन khulasaa.in के संचालक के अनुमति के बिना करता है , तो यह गैरकानूनी व कॉपीराइट का उल्ल्ंघन है। यदि कोई व्यक्ति या संस्था करती हैं तो ऐसा करने वाला व्यक्ति या संस्था पर खुलासा डॉट इन कॉपी राइट एक्त के तहत वाद दायर कर सकती है जिसका सारे हर्जे खर्चे का उत्तरदायी भी नियम का उल्लघन करने वाला व्यक्ति होगा।