लोगों द्वारा डॉक्टर-नर्सों और पायलटों को घरों से निकालने का ज़िक्र किया अरविन्द केजरीवाल ने

Arvind Kejriwal mentioned about people expelling doctor-nurses and pilots from homes
  • दिन-ब-दिन कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है
  • देश के कई इलाकों में डॉक्टरों, नर्सों, पायलटों और एयरहोस्टेस के साथ स्थानीय लोग बुरा बर्ताव
  • डॉक्टर और नर्सें लगातार संक्रमितों के उपचार में लगे हुए हैं जिसके चलते इन्हें हीरोज का दर्जा
  • दिल्ली के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की

नई दिल्ली, 25 मार्च (एजेंसी)। दिन-ब-दिन कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। अब तक देश में 550 मामले सामने आ चुके है। इतने गंभीर माहौल में भी डॉक्टर और नर्सें लगातार संक्रमितों के उपचार में लगे हुए हैं जिसके चलते इन्हें हीरोज का दर्जा दिया जा रहा है। परन्तु देश के कई इलाकों में डॉक्टरों, नर्सों, पायलटों और एयरहोस्टेस के साथ स्थानीय लोग बुरा बर्ताव कर रहे है । जी हां, कई क्षेत्रों में कॉलोनीवाले और मकान मालिक इन्हें घर में नहीं घुसने दे रहे। इस ख़बरों की जानकारी मिलने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की कि इन घटनाओं को किसी तरह से रोका जाए। केजरीवाल की इस अपील के कुछ समय पश्चात ही गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि ऐसे लोगों पर सख्त एक्शन लिया जाए।

केजरीवाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दिल्लीवासियों से बात करते हुए प्रधानमंत्री से भी अपील की कि हमने अपने डॉक्टरों, नर्सों और अन्य स्टाफ के लिए तालियां बजाईं। लेकिन, अब मुझे जानकारी मिल रही है कि कुछ मकान मालिक इन लोगों को घरों से जबरदस्ती निकाल रहे हैं, क्योंकि इन लोगों कोरोना के मरीजों का इलाज किया है। कुछ लोग अपनी कॉलोनियों में पायलटों और एयर होस्टेस को नहीं घुसने दे रहे। क्योंकि ये लोग देश-विदेश से लौटे हैं। इन लोगों ने बिना थके हुए हम लोगों के लिए काम किया है। हमें अपनी मानसिकता बदलनी चाहिए।

दिल्ली, नोएडा, वारंगल, चेन्नई आदि जगहों से इस तरह की घटनाओं की सूचना

अमित शाह ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से बात की। शाह ने कहा कि डॉक्टरों की सुरक्षा सुनिश्चित करें और इनके साथ बुरा बर्ताव करने वालों पर सख्त एक्शन लिया जाए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा- दिल्ली, नोएडा, वारंगल, चेन्नई आदि जगहों से इस तरह की घटनाओं की सूचना मिल रही है। इन सबको सुनकर मैं बहुत दुखी हूं। लोग इन्फेक्शन के डर से डॉक्टरों-नर्सों को धमका रहे हैं। कृपया परेशान ना हों।

जो डॉक्टर किराए पर रह रहे हैं, उन्हें घर खाली करने के लिए कहा जा रहा है

दिल्ली के एक डॉक्टर ने कहा कि लॉकडाउन के चलते हमें ठहरने और खाने की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। पुलिस हमारे मेस में काम करने वाले वर्करों को रोक रही है। ये लोग हमारे लिए बाहर से खाना ला रहे हैं। एक अन्य ने कहा कि जो डॉक्टर किराए पर रह रहे हैं, उन्हें घर खाली करने के लिए कहा जा रहा है। लोगों को लग रहा है कि हमसे ही संक्रमण फैल जाएगा। डॉक्टरों ने कहा कि हम प्रधानमंत्री से अपील करते हैं कि हमारी समस्याओं को दूर करने के लिए कदम उठाएं।


Read all Latest Post on राष्ट्रीय national in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें
Title: arvind kejriwal mentioned about people expelling doctor nurses and pilots from homes in Hindi  | In Category: राष्ट्रीय national

Next Post

सामुदायिक स्तर पर पहुंचने से पहले ही रोकने के लिये स्वास्थ्य एजेंसियों को पूरी सतर्कता बरतने के निर्देश

Wed Mar 25 , 2020
सामुदायिक स्तर से पहले ही रोकने के लिये लोग लॉकडाउन का पालन करें एनएचएम के प्रबंध निदेशकों सहित अन्य शीर्ष अधिकारियों के साथ भी बैठक 2,023 परीक्षण एनसीडीसी की प्रयोगशालाओं में नई दिल्ली, 25 मार्च (एजेंसी)। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने स्वास्थ्य एजेंसियों को कोरोना वायरस के संक्रमण को सामुदायिक […]
Instructions to health agencies to take full caution to stop before reaching community level

All Post