• देश में कोराना से संक्रमित लोगों की संख्या पहुंची 114
  • 13 लोगों को ठीक होने पर अस्पताल से दी गई छुट्टी
  • ओडिशा में संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि
  • कोरोना वायरस से 135 देशों के 1,53,517 लोक संक्रमित
  • विश्व भर में अब तक 6000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी

नई दिल्ली, 16 मार्च (एजेंसी)। लद्दाख, ओडिशा, जम्मू-कश्मीर और केरल में सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमण का एक-एक नया मामला सामने आने के साथ ही देश में कुल संक्रमितों की संख्या 114 पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि इनमें से 13 लोगों को ठीक होने पर अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है जबकि दो लोगों की मौत हुई है।

उन्होंने बताया कि पूर्वी राज्य ओडिशा में संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि हुई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कई राज्यों ने संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लगभग बंदी की घोषणा कर दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कोरोना वायरस से मुकाबला करने में डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्य कर्मियों की कड़ी मेहनत एवं योगदान की सराहना की।

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिये समन्वित एवं एकजुट कदम उठाए जा रहे हैं और लोग स्वस्थ रहें, यह सुनिश्चित करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी । प्रधानमंत्री ने भारत द्वारा कोरोना वायरस से मुकाबला करने के विभिन्न आयामों को रेखांकित करने वाले विभिन्न लोगों को अपने ट्वीट में टैग भी किया। हैशटैग ‘इंडिया फाइट्स कोरोना’ से संबंधित ट्वीट में मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने में उठाये गए कदमों को लोगों द्वारा रेखांकित करने से उनका मनोबल बढ़़ता है ।

महाराष्ट्र सरकार के अधिकारी ने बताया कि चार और मरीजों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है और इसके साथ ही राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 37 हो गई है। ओडिशा के मामले की जानकारी देते हुए भुवनेश्वर में अधिकारी ने कहा कि संक्रमित व्यक्ति शोधकर्ता है और हाल में इटली से आया था। उल्लेखनीय है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक कोरोना वायरस से 135 देशों के 1,53,517 लोक संक्रमित हैं और 6000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

अधिकारी ने बताया कि 33 वर्षीय मरीज छह मार्च को इटली से दिल्ली लौटा था और 12 मार्च को ट्रेन से भुवनेश्वर पहुंचा था। कोरोना वायरस मामलों पर राज्य सरकार के प्रमुख प्रवक्ता सुब्रतो बागची ने संवाददाताओं को बताया कि मरीज को भुवनेश्वर स्थित कैपिटल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया, ‘‘ उसकी हालत स्थिर है और अबतक कोई गंभीर लक्षण उसमें सामने नहीं आए है।’’ बागची ने बताया कि बुखार और सिर दर्द की शिकायत लेकर वह 13 मार्च को डॉक्टर के पास गया और अगले दिन अस्पताल के पृथक वार्ड में भर्ती किया गया।उन्होंने बताया कि चूंकि यह व्यक्ति ट्रेन से दिल्ली से भुवनेश्वर पहुंचा इसलिए राज्य सरकार ने उसके संपर्क में आए लोगों का पता लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

बागची ने बताया कि उसके परिवार के सदस्यों को पृथक और निगरानी में रखा गया है। मध्य प्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार का भविष्य अधर में लटक गया है क्योंकि उम्मीद के अनुरूप विधानसभा के पटल पर शक्तिपरीक्षण नहीं हुआ और कोरोना वायरस के चलते सदन की कार्रवाई स्थगित कर दी। भाजपा विधायकों ने 22 विधायकों के पार्टी से इस्तीफे के बाद राज्यपाल लालजी टंडन के निर्देशानुसार शक्ति परीक्षण कराने की मांग की थी। हालांकि, प्रदेश के संसदीय कार्य मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने देश में कोरोना वायरस के खतरे तथा इस मामले में केन्द्र सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों का हवाला दिया। हंगामे के बीच ही विधानसभा अध्यक्ष एन पी प्रजापति ने व्यापक जनहित में 26 मार्च तक सदन की कार्यवाही स्थगित करने की घोषणा कर दी।

26 मार्च को राज्यसभा चुनाव के लिए मतदान होना है।मध्यप्र देश में राजनीतिक उठापटक जारी है, इस बीच देशभर में हजारों छात्रों को घरों तक सीमित कर दिया गया है और कर्मचारी घर से काम कर रहे हैं क्योंकि प्रशासन ने फ्लू जैसे लक्षण को फैलने से रोकने के लिए आपात योजना लागू की है। कई राज्यों में जिम, सिनेमा हॉल, स्विमिंगपुल और अन्य स्थानों को बंद कर दिया गया है। जम्मू-कश्मीर के लोकप्रिय पर्यटन स्थन पटनी टॉप रिसॉर्ट को भी 31 मार्च तक के लिए बंद करने आदेश दिया है। जिलाधिकारी पीयूष सिंगला ने सोमवार को जारी आदेश में कहा कि पटनी टॉप का होटल प्रबंधन प्राधिकरण यह सुनिश्चित करे कि निर्देशों का अनुपालन हो। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में 31 मार्च तक 50 से अधिक लोगों की मौजूदगी वाले धार्मिक, सामाजिक सांस्कृतिक कार्यक्रम और राजनीतिक बैठकें करने की अनुमति नहीं होगी।

उच्चतम न्यायालय ने देशभर के कारावासों में भीड़ और अवसंरचना को लेकर स्वत: संज्ञान लिया। न्यायालय में वकीलों, वादियों और अन्य की थर्मल जांच की जा रही है। प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे और न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव की पीठ ने सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में जेल महानिदेशकों और मुख्य सचिवों को नोटिस जारी किये।

न्यायालय ने इन सभी को 20 मार्च तक यह बताने का निर्देश दिया है कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर स्थिति से निबटने के लिये क्या कदम उठाये गये हैं।इस बीच, विदेश में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाने के प्रयास किए जा रहे हैं। कोरोना वायरस से प्रभावित ईरान से 53 लोगों को लेकर एअर इंडिया का एक विमान सोमवार की सुबह दिल्ली पहुंचा और यात्रियों को राजस्थान के जैसलमेर रवाना कर दिया गया जहां पर उन्हें सेना द्वारा स्थापित पृथक केंद्र में रखा जाएगा। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट किया, ‘‘ 53 भारतीयों (52 छात्रों और एक शिक्षक) का चौथा जत्था ईरान के तेहरान और शिराज से आ गया है। इसके साथ ही कुल 389 भारतीय अभी तक ईरान से भारत आ चुके हैं। ईरान में भारतीय दल और ईरानी अधिकारियों के प्रयासों की सराहना करता हूं।’’

कोरोना वायरस से सबसे बुरी तरह प्रभावित देशों में ईरान भी शामिल है, जहां पर 700 से अधिक लोगों की इस वायरस के संक्रमण से मौत हो चुकी है और करीब 14 हजार लोग संक्रमित हैं।कोरोना वायरस खतरे के मद्देनजर लोगों के एकत्रित होने पर लगे प्रतिबंध के बावजूद कोचीन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर सामूहिक स्वागत कार्यक्रम आयोजित करने के लिए पुलिस ने 79 लोगों के खिलाफ सोमवार को मामला दर्ज किया। ये लोग लोकप्रिय रियलिटी कार्यक्रम के प्रतिभागी का स्वागत करने के लिए एकत्र हुए थे। एक ब्रिटिश सहित दो लोगों को केरल में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। इसके साथ ही रविवार को राज्य में कुल मामलों की संख्या 21 हो गई है। इसके मद्देनजर केरल सरकार ने संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए ‘‘ कड़ी तोड़ो’’ नाम से पहल की है।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें