• कांग्रेस आलाकमान को इस बयान के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी चाहिए

  • पूर्व सीएम द्वारा की गई घोर महिला-विरोधी अभद्र टिप्पणी अति-शर्मनाक और अति-निन्दनीय

  • उपचुनाव में अपना वोट एकतरफा तौर पर केवल बी.एस.पी. उम्मीदवारों को ही दें तो यह बेहतर होगा

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के राज्य की डबरा विधानसभा उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी.(भाजपा) उम्मीदवार इमरती देवी को लेकर विवादित बयान ‘आइटम-जलेबी’ कहने पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को कड़ी नाराजगी जताते हुए इसे महिला विरोधी और अति शर्मनाक है बताया और कहा कि कांग्रेस आलाकमान को इस बयान के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी चाहिए।

सुश्री मायावती ने आज ट्वीट कर लिखा, “मध्यप्रदेश में ग्वालियर की डाबरा रिजर्व विधानसभा सीट पर उपचुनाव लड़ रही दलित महिला के बारे में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सीएम द्वारा की गई घोर महिला-विरोधी अभद्र टिप्पणी अति-शर्मनाक और अति-निन्दनीय। इसका संज्ञान लेकर कांग्रेस आलाकमान को सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी चाहिए।”

उन्होंने आगे लिखा, “ साथ ही, कांग्रेस पार्टी को इसका सबक सिखाने तथा आगे महिला अपमान करने से रोकने आदि के लिए भी खासकर दलित समाज के लोगों से अपील है कि वे एम.पी. में विधानसभा की सभी 28 सीटों पर हो रहे उपचुनाव में अपना वोट एकतरफा तौर पर केवल बी.एस.पी. उम्मीदवारों को ही दें तो यह बेहतर होगा। “

श्री कमलनाथ ने रविवार को ग्वालियर जिले के डबरा दौरे में एक जनसभा को संबोधित करते हुए इमरती देवी को लेकर यह बयान दिया। भाजपा की प्रत्याशी इमरती देवी पर तंज कसते हुए कांग्रेस नेता ने कहा ,” आप तो उसे मुझसे ज्यादा पहचानते हैं, आपको मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था।

ये क्या आइटम है। इतना कहकर कमलनाथ मुस्कुराए , तो जनता ने भी तालियां बजाते हुए ठहाके लगाने शुरू कर दिए। कमलनाथ ने इमरती देवी को जलेबी भी कहा था।”

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें