• पटना के शहरी क्षेत्र में अभी बंद का असर नहीं दिख रहा
  • समर्थकों ने जहानाबाद में रेल मार्ग अवरूद्ध कर दिया
  • अगर उद्योगपतियों के हाथों में खेती चली गई तो…

Patna, 27 सितंबर (एजेंसी)। कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों के आह्वान पर सोमवार को बुलाए गए भारत बंद का बिहार के भी कई इलाकों में असर देखा जा रहा है। बंद का समर्थन विपक्षी दलों के महागठबंधन में शामिल दलों ने भी किया है। विभिन्न इलाकों में बंद समर्थक सुबह से ही सड़कों पर उतर गए हैं, जिससे कई इलाकों में बंद का आवागमन पर असर दिख रहा है।

बिहार में महागठबंधन में शामिल राजद, कांग्रेस और वामदलों के नेता व कार्यकर्ता विभिन्न जिलों में सड़क पर उतर आए हैं। प्रदर्शनकारी सड़कों पर अगजनी कर मार्ग को अवरूद्ध कर दिया है। पटना के शहरी क्षेत्र में अभी बंद का असर नहीं दिख रहा है लेकिन कई निजी स्कूल बंद हैं। ग्रामीण इलाकों में बंद का असर सुबह से ही दिख रहा है।

भारत बंद करा रहे समर्थकों ने जहानाबाद में रेल मार्ग अवरूद्ध कर दिया है। बंद समर्थक सड़कों पर भी उतरे हैं। जबकि आरा में बंद समर्थक विभिन्न सड़कों पर उतर आए है। आरा के स्टेशन रोड को भी बंद समर्थक जाम कर दिया है। आंदोलनकारी केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। भोजपुर के पीरों में बड़ी संख्या में लोग सडकों पर बैठकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं।

आरा में सड़कों पर उतरे विधायक सुदामा प्रसाद ने कहा कि महंगाई सातवें आसमान पर है। यह तीन कृषि कानून का असर है। उन्होंने कहा कि किसान कानूनों के जरिए अगर उद्योगपतियों के हाथों में खेती चली गई तो खाद्य असुरक्षा पैदा हो जाएगी। उन्होंने कहा कि आज किसान कानून के खिलाफ भारत बंद है। लोग सडक पर उतर गए हैं।

वैशाली के भगवानपुर में भी राजद के कार्यकर्ता सडक जाम कर प्रदर्शन और नारेबाजी कर रहे हैं। मुजफ्फरपुर,, सहरसा, बेगूसराय, शेखुपरा में भी बंद समर्थक सड़कों पर उतर गए हैं।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें