• स्वतंत्र पत्रकार मनदीप पुनिया को गिरफ्तार किया गया
  • उनके खिलाफ आईपीसी के सेक्शन 186, 323 और 353 के तहत आरोप दर्ज
  • पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी

नई दिल्ली 31 जनवरी (एजेंसी)। सूत्रों के अनुसार रविवार को सिंघु बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन स्थल पर तैनात पुलिसकर्मियों के साथ कथित तौर पर दुर्व्यवहार करने के आरोप में एक स्वतंत्र पत्रकार मनदीप पुनिया को गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि पत्रकार को एक दिन पहले हिरासत में लिया गया था।

स्वतंत्र पत्रकार मनदीप पुनिया को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर आज दोपहर म्यूनिसिपल मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया। इसके बाद उन्हें तिहाड़ जेल भेज दिया गया। उनके खिलाफ आईपीसी के सेक्शन 186, 323 और 353 के तहत आरोप दर्ज किए गए हैं।

यह भी पढ़ें : Rajkumar dialogue in hindi| राजकुमार डायलाग जो पढ़कर आप रह जाएंगे हैरान

सूत्रों की माने तो इससे पहले पुलिस ने कहा था कि उसने शुक्रवार को हुई हिंसा के बाद सीमा पर अवरोधक लगाए थे ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोई उसे पार न कर पाए। पुलिस ने आरोप लगाया था कि पत्रकार समेत कुछ लोगों ने अवरोधक हटाने की कोशिश की तथा पत्रकार ने वहां पुलिस कर्मियों के साथ दुर्व्यवहार भी किया। सिंघु बॉर्डर पर शुक्रवार को किसानों और स्थानीय निवासी होने का दावा करने वाले लोगों के बीच झड़प हो गई थी। इस दौरान दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर पथराव किया था। सिंघु बॉर्डर नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन का प्रमुख स्थल है। हिंसा में दिल्ली पुलिस के एसएचओ (अलीपुर) घायल हो गए थे। घटना के संबंध में एसएचओ पर हमला करने वाले व्यक्ति समेत कम से कम 44 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। हालाँकि दिल्ली में पुनिया की रिहाई  को लेकर पत्रकार सड़कों पर उतर चुके है ।

यह भी पढ़ें : बड़े घर की बेटी – प्रेमचंद | Bade Ghar ki beti Premchand

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पत्रकार की गिरफ्तारी पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि जो सच से डरते हैं, वे सच्चे पत्रकारों को गिरफ्तार करते हैं।

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि किसान आंदोलन कवर कर रहे पत्रकारों को गिरफ्तार किया जा रहा है, उनपर मुकदमें किए जा रहे हैं। कई जगहों पर इंटरनेट बंद कर दिया है। भाजपा सरकार किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है लेकिन वे भूल गए हैं कि जितना दबाओगे उससे ज्यादा आवाजें आपके अत्याचार के खिलाफ उठेंगी।

वहीँ अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा राज में आज आम आदमी ही नहीं पत्रकारों तक की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का गला घोंटकर उन्हें गिरफ़्तार भी किया जा रहा है, जो अति निंदनीय है। उप्र में भाजपा सरकार सच बोलने वाले पत्रकारों व राजनेताओें पर किए गए झूठे मुक़दमे तुरंत वापस ले।

मंदीप पुनिया का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है

यह भी पढ़ें : प्रेमचंद (Premchand Hindi Stories) की सारी कहानी पढ़ें एक जगह पर

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें