• मास्क न पहनने पर इंदौर के संस्कार दरयानी से लगवाई उठक बैठक

  • हीरानगर पुलिस थाने के प्रभारी राजीव भदौरिया ने बताया कि उन्हें इस मामले की कोई जानकारी नहीं

  • संस्कार और उनके पिता रोज कोरोना पीड़ितों को खाना खिलाने का काम कर रहे है

इंदौर, 26 अप्रैल (एजेंसी)। कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए इंदौर में कर्फ्यू लागू किया हुआ है, परन्तु इस दौरान 20 वर्षीय युवक को लापरवाही करना पड़ा महंगा । सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमे एमआर-10 रोड पर पीले रंग की महंगी कार से जा रहे एक युवक को काली वर्दी पहने एक स्वयंसेवक ने रोका। रोके जाने का कारण कार की छत खोली होना व मास्क न पहना बताया जा रहा है। जबकि वीडियो में दिख रहा है कि युवक ने गाडी रोकने के बाद स्वयंसेवक को कर्फ्यू का पास दिखाने की कोशिश की जो कि गरीब लोगों को भोजन बांटने के लिये युवक के नाम पर खुद पुलिस ने जारी किया था।  नगर सुरक्षा समिति के स्वयंसेवक ने इस युवक से जबरन उठक-बैठक लगवाई। वहीं युवक का कहना है कि स्वयंसेवक ने उसके साथ बदसलूकी की ।

वीडियो में कर्फ्यू पास की बात सुनते ही युवक को झिड़कते हुए स्वयंसेवक कहता है कि उसे उसके पास से कोई मतलब नहीं है। इसके बाद स्वयंसेवक डंडा दिखाते हुए युवक से जबरन उठक-बैठक लगवाता नजर आता है। युवक को डांटना जारी रखते हुए स्वयंसेवक उससे यह भी पूछता सुनायी पड़ता है कि क्या उसे गाड़ी चलाते वक्त मास्क लगाने में शर्म आ रही थी? इस पर युवक जवाब देता है कि मास्क उसकी जेब में ही है। उठक-बैठक लगाने वाले युवक की पहचान 20 वर्षीय संस्कार दरयानी के रूप में हुई है। वह शहर के उद्योगपति दीपक दरयानी का बेटा है। घटना से जुड़ी सुपरकार उद्योगपति की कम्पनी के नाम से पंजीकृत है।

संस्कार ने कहा कि मेरा परिवार कर्फ्यू के दौरान सेवा कार्य करते हुए गरीब लोगों को भोजन मुहैया करा रहा है। घटना के वक्त मैं खाने के पैकेट बांटकर अपने घर जा रहा था। मैं गाड़ी चलाने का लाइसेंस और कर्फ्यू के आधिकारिक पास के साथ बाहर निकला था लेकिन नगर सुरक्षा समिति के स्वयंसेवक ने मेरी एक नहीं सुनी। उसने मेरे साथ बदसलूकी करते हुए अपशब्दों का इस्तेमाल भी किया। युवक ने कहा कि मैं अपने साथ हुए बर्ताव से बेहद दु:खी हूं। ऐसा बर्ताव आइंदा किसी के साथ भी नहीं होना चाहिये। युवक के पिता दीपक दरयानी ने आरोप लगाया कि एक अन्य घटना में नगर सुरक्षा समिति के स्वयंसेवकों ने उनके साथ भी उस समय बदसलूकी की जब वह अपनी कार से जा रहे थे। उद्योगपति ने बताया कि उन्होंने रविवार को हीरानगर थाने पहुंचकर नगर सुरक्षा समिति के स्वयंसेवकों के बुरे बर्ताव की पुलिस को मौखिक शिकायत की है।

हीरानगर पुलिस थाने के प्रभारी राजीव भदौरिया ने बताया कि मुझे सुपरकार चला रहे युवक के सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो की जानकारी मिली है लेकिन इस वीडियो के सत्यापन के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा। उन्होंने युवक और उसके पिता के आरोपों पर टिप्पणी किये बगैर कहा कि कोविड-19 को रोकने के लिए शहर में लागू कर्फ्यू के दौरान पुलिसकर्मियों के साथ नगर सुरक्षा समिति के कई स्वयंसेवक भी अलग-अलग स्थानों में ड्यूटी कर रहे हैं लेकिन आम लोगों के साथ किसी भी किस्म की बदसलूकी बिल्कुल भी विधिसम्मत नहीं है।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें