• सीमाओं की दिन-रात रक्षा करने के लिए तत्पर तथा किसी भी स्थिति से मजबूती से निपटने के लिए तैयार
  • क्षेत्र में पडोसियों की बढती महत्वाकांक्षा से उत्पन्न खतरे और चुनौती से निपटने के लिए वायु सेना पूरी तरह तैयार
  • विभिन्न विमानों ने करतबबाजी और अपनी ताकत तथा जौहर का प्रदर्शन किया

हिंडन (गाजियाबाद) । वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया ने आज देश को आश्वस्त किया कि वायु सेना देश की हवाई सीमाओं की दिन-रात रक्षा करने के लिए तत्पर तथा किसी भी स्थिति से मजबूती से निपटने के लिए तैयार है। एयर चीफ मार्शल भदौरिया ने वायु सेना के 88 वें स्थापना दिवस पर यहां वायु सैनिकों को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें मौजूदा तथा भविष्य की चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए अपने आपको एक ऐसे बल के रूप में बदलना है जो हर तरह की चुनौती से पार पा सके। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में पडोसियों की बढती महत्वाकांक्षा से उत्पन्न खतरे और चुनौती से निपटने के लिए वायु सेना पूरी तरह तैयार है और पिछले दिनों जरूरत पड़ने पर बल ने तुरंत जरूरी कार्रवाई कर अपनी क्षमता तथा संचालन कुशलता का परिचय दिया है। उन्होंने कहा कि वह देश को आश्वस्त करना चाहते हैं कि वायु सेना किसी भी स्थिति और चुनौती का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार है।

वायु सेना प्रमुख ने कहा कि यह समय की जरूरत है कि वायु सेना हर तरह से मजबूत बने और चुनौतियों की कसौटियों पर खरी उतरे साथ ही यह आत्मनिर्भर भारत के लिए भी जरूरी है। इस मौके पर उन्होंने वायु सेना रणबांकुरों को उनकी बहादुरी तथा सेवा समर्पण और कर्तव्यपरायणता के लिए पदकों से सम्मानित भी किया। उनके संबोधन के बाद वायु सेना के विभिन्न विमानों ने करतबबाजी और अपनी ताकत तथा जौहर का प्रदर्शन किया।

इस मौके पर चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और थल सेना प्रमुख तथा नौसेना प्रमुख भी मौजूद थे। इससे पहले राष्ट्रपति तथा प्रधानमंत्री ने वायु सेना दिवस पर वायु सेना कर्मियों और उनके परिवारों को बधाई दी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने संदेश में कहा, “वायु सेना दिवस पर हम अपने वायु यौद्धाओं, वायु सेना के भूतपूर्व सैनिकों और उनके परिवारों को गौरव तथा सम्मान के साथ बधाई देते हैं। हमारी हवाई सीमाओं की सुरक्षा करने और आपदा के समय राहत और बचाव अभियानों में प्रशासन के सहयोग के लिए राष्ट्र वायु सेना के योगदान के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करता है।” आधुनिकीकरण की प्रक्रिया के तहत राफेल विमान तथा अपाचे और चिनूक हेलिकाप्टरों को वायु सेना में शामिल किये जाने से उसकी ताकत बढी है।

विश्वास है कि आने वाले समय में वायु सेना प्रतिबद्धता और प्रतिस्पर्धा के नये मानक स्थापित करेगी।” श्री मोदी ने कहा, “एयर फोर्स डे पर भारतीय वायुसेना के सभी वीर योद्धाओं को बहुत-बहुत बधाई। आप न सिर्फ देश के आसमान को सुरक्षित रखते हैं, बल्कि आपदा के समय मानवता की सेवा में भी अग्रणी भूमिका निभाते हैं। मां भारती की रक्षा के लिए आपका साहस, शौर्य और समर्पण हर किसी को प्रेरित करने वाला है।”

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें