• मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में अब थमने लगा है कोरोना का प्रकोप

  • प्लाज्मा थेरेपी दिल्ली में कामयाब होने लगी है

  • धीरे धीरे घटने लगी है संक्रमितों की संख्या

नई दिल्ली, 26 अप्रैल (एजेंसी)। इकबाल ने लिखा है कि मजहब नही सिखाता आपस में बैर रखना, हिंदी है हम, वतन है हिंदुस्तान हमारा ।  मानो इकबाल की लिखी ये बात आज दिल्ली में सत्य होती नज़र आ रही है । जी है ऐसा ही कुछ कहना है दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल का ।  उन्होंने कहा कि आज सभी धर्मों के लोग अपना प्लाज्मा देकर एक-दूसरे की जान बचा रहे हैं, हिन्दू मुसलमान को और मुसलमान का प्लाज्मा हिन्दू को प्लाज्मा दे मानवता की जान बचायी जा रही है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने इस बात का ज़िक्र किया है ।

मुख्यमंत्री केजरीवाल का मानना है कि भगवान ने इंसानों को बनाते समय उनके बीच कोई दीवार व खाई नहीं पैदा की। यह सब हम लोगों ने ही पैदा किया है। अगर देश में सभी धर्मों के लोग एकजुट हो जाएं, तो पूरी दुनिया भारत के आगे झुकने को मजबूर हो जाएगी। हमें कोरोना से सबक लेना चाहिए। यदि आपके मन में किसी दूसरे धर्म के व्यक्ति के प्रति दुर्भावना आए, तो यह सोच लेना कि कल को उसका प्लाज्मा आपकी जिंदगी भी बचा सकता है। यह कहना है दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में लॉकडाउन का कड़ाई से पालन होने की वजह से कोरोना का प्रकोप अब थमने लगा है। उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार द्वारा प्लाज्मा थेरेपी से किए जा रहे गंभीर मरीजों के इलाज का परिणाम भी अब और उत्साह जनक आ रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में 7वें सप्ताह में 850 केस आए थे और 21 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 8वें सप्ताह में 622 नए केस आए और 9 लोगों की मौत हुई है। 7वें सप्ताह की अपेक्षा 8वें सप्ताह में कम मरीज आए हैं। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एलएनजेपी में कल आए एक मरीज की हालत बेहद नाजुक थी, लेकिन प्लाज्मा देने के बाद उनकी तबीयत में काफी सुधार आ रहा है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछला एक सप्ताह उसके पहले वाले सप्ताह से अच्छा गुजरा है। पिछले एक सप्ताह में, उसके पहले वाले ह ते से कम केस आए हैं। कम लोगों की मौत हुई और ज्यादा लोग ठीक होकर अपने घर गए हैं। कोरोना जब से शुरू हुआ, उसके 7वें सप्ताह में 850 केस आए थे। यह देख कर हम लोग एक बार के लिए घबरा गए थे। हमने स्वीकार भी किया था कि दिल्ली में कोरोना बहुत तेजी के साथ फैल रहा है। सातवें सप्ताह में 850 केस आए थे और 8वें सप्ताह में 622 केस आए हैं, जो पिछले सप्ताह से थोड़ा कम हुआ है। दुनिया भर के देशों में देखा गया है कि एक बार जब कोरोना बढऩा शुरू हो जाता है, तो बहुत तेजी से फैलता है। ह ता दर ह ता दोगुना, चौगुना, 16 गुना बढ़ता जाता है।

दिल्ली में 7वें सप्ताह में 21 लोगों की मौत हुई थी और पिछले सप्ताह (8वें सप्ताह) में 9 लोगों की मौत हुई। हमारा मकसद है कि एक भी व्यक्ति की मौत नहीं होनी चाहिए। 7वें सप्ताह में 260 लोग ठीक होकर घर गए थे। 8वें सप्ताह में 580 लोग ठीक होकर अपने घर गए थे। एक तरह से दोगुना से अधिक लोग ठीक होकर अपने घर गए थे। अगर हम यह देखें कि जितने लोग बीमार होकर अस्पताल में आए और जितने लोग ठीक होकर गए, तो एक तरह से कुल 566 लोग पिछले से पिछले सप्ताह (7वें) अस्पतालों में आए और पिछले सप्ताह (8वें) में केवल कुल 34 लोग आए थे। एक तरह से पिछला सप्ताह अच्छा रहा। हम सब लोग बड़ी कठिनाई के साथ लॉक डाउन का पालन कर रहे हैं। इसी तरह हम लॉक डाउन का पालन करते रहे, तो हमें उ मीद है कि शीघ्र ही इस बीमारी से हम सभी निजात पा सकते हैं।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें