• इस बार रामलीला मंचन की अनुमति के नियम कड़े होने व कोरोना महामारी की वजह से ज्यादातर रामलीला समितियों ने मंचन नहीं करने का फैसला लिया था

  • सिर्फ चार जगह ही दशहरे पर रावण, कुंभकरण, मेघनाद और कोरोना महामारी के पुतले जलाए जाएंगे

  • पुतलों की ऊंचाई 20-25 फीट के बीच में होगी। पटाखों का इस्तेमाल नहीं करेंगे। उसकी जगह संगीत की आवाज से पटाखे फोड़ें जाएंगे

नई दिल्ली, 24 अक्टूबर (एजेंसी)। कोरोना के चलते राजधानी में रविवार को दशहरे के दिन सिर्फ चार जगहों पर पुतला दहन होगा। कोरोना से पहले हर वर्ष दशहरे के दिन 1200 जगहों पर पुतला दहन किया जाता था। इस बार रामलीला मंचन की अनुमति के नियम कड़े होने व कोरोना महामारी की वजह से ज्यादातर रामलीला समितियों ने मंचन नहीं करने का फैसला लिया था। सिर्फ चार जगह ही दशहरे पर रावण, कुंभकरण, मेघनाद और कोरोना महामारी के पुतले जलाए जाएंगे।

रामलीला समितियों ने 70 फीट से लेकर दस फीट के पुतले तैयार किए हैं। कहीं ग्रीन पटाखों का इस्तेमाल तो कहीं संगीत की आवाज से पटाखे फोड़ेंगे। हालांकि खबर लिखे जाने तक किसी मैदान में कोई पुतला नहीं लगा था। वहीं, कुछ समितियों ने पुतला दहन नहीं करने का निर्णय लिया है। उनके यहां सिर्फ लीला के मंचन का कार्यक्रम होगा।

शास्त्री पार्क में विष्णु अवतार रामलीला कमेटी द्वारा आयोजित रामलीला के चेयरमैन हरीश चौधरी ने बताया कि इस बार चार पुतले जलाएं जाएंगे। रावण के पुतले की ऊंचाई 70 फीट, कुंभकरण के पुतले की ऊंचाई 60 फीट और मेघनाद के पुतले की ऊंचाई 50 फीट होगी। जबकि 30 फीट ऊंचा चौथा पुतला कोरोना का जलाएंगे। प्रशासन से पुतला दहन करने की अनुमति मिल गई है। सुबह डीडीए ग्राउंड में पुतले खड़े कर दिए जाएंगे। पुतला दहन शाम छह से सात बजे के बीच होगा।

जीटीबी एंक्लेव में श्रीरामलीला समिति द्वारा आयोजित रामलीला के महासचिव हरीश रावत ने बताया कि चार पुतले जलाएंगे। जिसमें एक कोरोना का पुतला होगा। पुतलों की ऊंचाई 20-25 फीट के बीच में होगी। पटाखों का इस्तेमाल नहीं करेंगे। उसकी जगह संगीत की आवाज से पटाखे फोड़ें जाएंगे। प्रशासन को पुतला दहन के बारे में सूचित किया जा चुका है।

विनोद नगर के रास विहार में कामधेनु रामलीला समिति द्वारा आयोजित रामलीला के चेयरमैन कुलदीप भंडार ने बताया कि उनके यहां पर भी कोरोना महामारी को लेकर पुतला दहन किया जाएगा। रावण के पुतले का मुकुट कोरोना वायरस की तरह दिखने वाला होगा। तीनों पुतलों की ऊंचाई दस फीट के आसपास रहेगी। संगीत से पटाखों की आवाज करेंगे।

कड़कड़डूमा स्थित सीबीडी ग्राउंड में श्रीबालाजी रामलीला कमेटी के प्रधान रमेश शर्मा और महासचिव राम ने बताया कि शाम साढ़े चार बजे से दशहरे के कार्यक्रम का आयोजन शुरू हो जाएगा। रावण, कुंभकरण, मेघनाद के अलावा कोरोना महामारी का पुतला भी दहन करेंगे। 200 दर्शकों को कार्यक्रम में शामिल होने की अनुमति होगी।

गौतमपुरी स्थित रामलीला ग्राउंड में नव श्री सनातन धर्म रामलीला कमेटी के प्रधान संदीप जैन ने बताया कि कोरोना व प्रदूषण के चलते पुतला दहन नहीं करने का फैसला लिया गया है। सिर्फ लीला का मंचन होगा।

आईपेक्स भवन में श्रीरामलीला कमेटी इंद्रप्रस्थ के प्रधान सुरेंद बिंदल ने बताया कि दिल्ली में प्रदूषण काफी बढ़ रहा है। कोरोना महामारी के चलते लोगों को सामूहिक तौर पर एकत्रित नहीं कर सकते है। इसलिए पुतले का दहन नहीं होगा। उसकी जगह वर्चुअल पुतले का दहन किया जाएगा। यानि पिछले वर्ष की रामलीला के मंचन के पुतला दहन कार्यक्रम को दिखाया जाएगा। कमेटी के उपाध्यक्ष चंद्रभान बंसल के अनुसार पिछले वर्ष की रामलीला में मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित रहे राष्ट्रपति के संदेश को दिखाया जाएगा। उसके बाद तकनीक की मदद से पुतला दहन करेंगे।

पुतलों को तीर से करेंगे सिर्फ धराशायी

रामलीला मैदान के हनुमान वाटिका के पास श्रीराम जन्मोत्सव समिति हनुमान वाटिका के पास भी पुतले खड़े किए जाएंगे। पुतलों का दहन करने की जगह उनको तीर से धराशायी किया जाएगा।

लालकिला मैदान में नहीं कोई कार्यक्रम

हमेशा दशहरे के लिए आकर्षण का केंद्र रहने वाले लालकिला मैदान और रामलीला मैदान में दशहरे से जुड़ा कोई कार्यक्रम नहीं होगा। कोरोना के चलते यहां पर रामलीला का मंचन करने वाली समितियों ने लीला का मंचन भी नहीं किया है।

लालकिला मैदान की लवकुश रामलीला कमेटी के अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने बताया कि सार्वजनिक तौर पर दशहरे का कोई कार्यक्रम नहीं कर रहे है। ऐसा 32 साल बाद है कि लालकिला मैदान में कोई पुतला दहन नहीं हो रहा है। बीते वर्ष की रामलीला को यूट्यूब पर प्रसारित करके वर्चुअल पुतला दहन दिखाया जाएगा। दिल्ली में 800 से ज्यादा समितियों द्वारा लीला का मंचन करती है। जबकि दशहरे के दिन 1200 से ज्यादा जगहों पर पुतला दहन कार्यक्रम होते है। श्री धार्मिक लीला कमेटी के प्रचार मंत्री रवि जैन ने बताया कि लालकिला मैदान में दशहरे पर कोई कार्यक्रम नहीं कर रहे है।

नव श्री धार्मिक लीला कमेटी के महासचिव जगमोहन गोटेवाला ने बताया कि किशनगंज स्थित गऊशाला में भगवान राम के राज्याभिषेक का कार्यक्रम करेंगे। वहीं रामलीला मैदान की श्रीरामलीला कमेटी के महासचिव राजेश खन्ना का कहना था कि दशहर पर कमेटी द्वारा कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं किया जा रहा है।

 

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें