• कोरोना के मरीजों के कमरों में वेंटिलेशन जरूरी

  • करीब 12:20 बजे यह संदिग्ध मरीज अपने कमरे की खुली खिड़की पर चढ़ गया

  • पुलिस को करीब 11084 लोगों के फोन नंबर दिए

  • घरों से बाहर निकलने पर 3763 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ

नई दिल्ली, 01 अप्रैल (एजेंसी)।  राजीव गांधी सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल में उस वक़्त अफरातफरी मच गयी जब निजामुद्दीन के तब्लीगी जमात में शामिल एक सदस्य ने अस्पताल की छठी मंजिल पर स्थित आइसोलेशन वार्ड के कमरे से दस मिनट तक कूदने का ड्रामा किया। इस दौरान अस्पताल के डॉक्टर और स्टाफ सब इक्कठा हो गए है और उन्होंने बार-बार उससे अंदर जाने की अपील की । इसी दौरान एक डॉक्टर उसके कमरे में पहुंचा तब जाकर वो खिड़की से अंदर चला गया।

मरीज अपने कमरे की खुली खिड़की पर चढ़ गया

सूत्रों के मुताबिक संदिग्ध मरीज को भर्ती किया गया था। चूँकि उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं लग रही है अत: उसे मनोचिकित्सक से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये काउंसिलिंग कराई गई । दोपहर करीब 12:20 बजे यह संदिग्ध मरीज अपने कमरे की खुली खिड़की पर चढ़ गया। जोर-जोर से बाहर निकालने के लिए चिल्लाने लगा और कूदने की धमकी देने लगा। उसकी आवाज सुनकर दूसरे ब्लॉक के कर्मचारी नीचे पहुंच गए। इसके बाद दमकल विभाग और कोरोना वार्ड में ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को इसकी सूचना दी गई।

कोरोना के मरीजों के कमरों में वेंटिलेशन जरूरी

इसके बाद डॉक्टर उसके कमरे में पहुंच गए। किसी तरह मान-मनौव्वल के बाद मरीज कमरे के अंदर दाखिल हो गया। लेकिन अस्पताल प्रशासन के लिए यह घटना एक चुनौती के रूप में सामने आई है। डॉक्टरों का कहना है कि हम लोग इलाज तो कर सकते हैं लेकिन दमकलकर्मी की तरह हम किसी को कूदने से बचा नहीं सकते हैं। डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना के मरीजों के कमरों में वेंटिलेशन जरूरी है। इस वजह से खिड़की को बंद नहीं किया जा सकता है। इस दौरान पूरे अस्‍पताल में अफरातफरी का महौल बन गया था

अभी तक कुल 112 लोगों की जांच में सभी पॉजिटिव आए

दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने तब्‍लीगी मरकज के बारे में अपडेट देते हुए कहा कि 536 लोगों को निकाल कर अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। 1810 लोगों को क्‍वारंटाइन में भेजा गया है। वहीं, अब तक कि स्‍थिति यह है कि मरकज से कुल 2346 लोगों को निकाला जा चुका है। केजरीवाल बुधवार को पीसी करते हुए मरकज में बारे में कई जानकारियां शेयर की। उन्‍होंने बताया कि अभी तक कुल 112 लोगों की जांच में सभी पॉजिटिव आए हैं। इसमें से एक वैंटिलेटर पर है जबकि दो लोग आक्‍सीजन सप्‍लाई पर हैं। 109 लोगों की हालत अभी स्थिर है।

पुलिस को करीब 11084 लोगों के फोन नंबर दिए

वहीं क्‍वारंटाइन मामले को लेकर केजरीवाल ने कहा कि हमने मंगलवार को पुलिस को करीब 11084 लोगों के फोन नंबर दिए थे वहीं बुधवार को 14345 लोगों के नंबर दिए हैं। ये नंबर उन लोगों के है जिन्‍हें होम क्‍वारंटाइन किया गया है। पुलिस से हमने मांग की है कि इन लोगों को ट्रैक करे कि यह क्‍वारंटाइन के नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं।

केजरीवाल ने कहा कि प्राइवेट कंपनी के कर्मियों को सैलरी देने में परेशानी नहीं हो इसके लिए हम दो कंपनी के ऑनर या फिर किसी भी दो लोगों को पास जारी कर रहे हैं, ताकि वह अपने दफ्तर जाकर सैलरी ट्रांसफर कर सके। यह पास सिर्फ दो दिनों के लिए बनेंगे। इधर, कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन के बावजूद बिना किसी कारण के घर से निकले लोगों के साथ दिल्‍ली पुलिस काफी सख्‍ती करती नजर आ रही है। मंगलवार को 3763 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया। सड़कों पर घूमते ये लोग पुलिस को घर से बाहर निकलने का कोई वाजिब कारण नहीं बता सके। वहीं लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर 239 एफआइआर दर्ज की गई।

घरों से बाहर निकलने पर 3763 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ

दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त जनसंपर्क अधिकारी एसीपी अनिल मित्तल ने बताया जी  लॉकडाउन के बावजूद घरों से बाहर निकलने पर 3763 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। इनमें बिना किसी जरूरी काम के घर से निकले 546 लोगों के वाहनों को जब्त कर लिया गया। सोमवार देर रात से लेकर मंगलवार शाम पांच बजे तक दिल्ली पुलिस ने सड़कों पर घूमते लोगों पर कार्रवाई की गयी। लोगों को उनके घरों में रहने की सलाह भी दी जा रही है, लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं हो रहे हैं।

दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को आवश्यक सेवा से जुड़े 1254 जरूरतमंद लोगों को मूवमेंट पास जारी किए। पास बनवाने वालों की भीड़ को देखते हुए अब ऑनलाइन पास भी जारी किए जा रहे हैं। सोमवार को दिल्ली पुलिस की तरफ से 2143 लोगों को मूवमेंट पास जारी किए गए थे।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें