• चीन के लिन डैन ने अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन को अलविदा कहा

  • लगातार दो बार ओलंपिक पुरूष एकल खिताब जीतने वाले एकमात्र बैडमिंटन खिलाड़ी

  • लिन ने सोशल मीडिया साईट वेइबो पर इसकी जानकारी दी

बीजिंग, 05 जुलाई (एजेंसी)। बैडमिंटन की दुनिया में प्रसिद्धि पाने वाले चीन के लिन डैन ने अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन को अलविदा कह सबको चौका दिया है । बता दे कि लिन लगातार दो बार ओलंपिक पुरूष एकल खिताब जीतने वाले एकमात्र बैडमिंटन खिलाड़ी है । इस बात की जानकारी लिन ने सोशल मीडिया साईट वेइबो पर दी। बता दे कि वेइबो ट्विटर की तरह की चीन की एप्प है । दो दशक के लंबे करियर में लिन ने बीजिंग ओलंपिक 2008 और लंदन ओलंपिक 2012 में स्वर्ण पदक जीत अपने देश का नाम रोशन किया ।

इस मामले की जानकारी देते हुए 36 वर्षीय डैन ने कहा कि 2000 से 2020 तक 20 साल बाद मैं राष्ट्रीय टीम को अलविदा कह रहा हूं। इसे कह पाना काफी मुश्किल है। उन्होंने आगे कहा कि इस उम्र में शरीर और चोटों का सिलसिला मुझे आगे खेलने की इजाजत नहीं देता। आने वाले समय में परिवार को ज्यादा वक्त दे पाऊंगा। एक नई प्रतिस्पर्धा के बारे में भी सोच रहा हूं।

उन्होंने कहा कि चार ओलंपिक खेलने के बाद मैने कभी इस दिन के बारे में नहीं सोचा था। मैने हरसंभव कोशिश की और मेहनत की ताकि अपने कैरियर को विस्तार दे सकूं।’ लिन डैन ने अपने सुनहरे कैरियर में दो ओलंपिक स्वर्ण के अलावा पांच विश्व चैम्पियनशिप खिताब और छह आल इंग्लैंड खिताब जीते। उन्होंने 666 एकल खिताब अपने नाम किये हैं। कैरियर के आखिरी दौर में वह फार्म के लिये जूझते रहे और विश्व रैंकिंग में 19वें स्थान पर आ गए। शि युकी और चेन लोंग जैसे हमवतन दिग्गज खिलाड़ियों के रहते उनका तोक्यो ओलंपिक के लिये क्वालीफाई करना मुश्किल था।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें