• सुपरनोवाज की टीम निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट पर 102 रन ही बना सकी
  • चोट इतनी ज्यादा खराब नहीं है लेकिन इस मैच से हमने काफी कुछ सीखा
  • इस लक्ष्य को हासिल करना इतना मुश्किल नहीं था

शारजाह। सुपरनोवाज की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने यहां महिला टी20 चैलेंज के फाइनल में ट्रेलब्लेजर्स से मिली हार के लिये साझेदारी नहीं बनने को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि लक्ष्य इतना बड़ा नहीं था कि इसे हासिल नहीं किया जा सकता था। ट्रेलब्लेजर्स की टीम कप्तान स्मृति मंधाना की अर्धशतकीय पारी के बावजूद आठ विकेट पर 118 रन ही बना सकी जिमसें राधा यादव ने पांच विकेट झटके जिन्हें ‘प्लेयर ऑफ द सीरीज’ चुना गया।

इसके जवाब में सुपरनोवाज की टीम निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट पर 102 रन ही बना सकी। हरमनप्रीत चोट के बावजूद क्रीज पर डटी रहीं और 30 रन बनाकर शीर्ष स्कोरर रहीं। लेकिन अपनी टीम को जीत तक नहीं पहुंचा सकी।

उन्होंने कहा, ‘‘चोट इतनी ज्यादा खराब नहीं है लेकिन इस मैच से हमने काफी कुछ सीखा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस लक्ष्य को हासिल करना इतना मुश्किल नहीं था, लेकिन हम कोई बड़ी साझेदारी नहीं बना सके। आपको कम से कम दो अच्छी भागीदारियां चाहिए थीं। यह बहुत मुश्किल हो गया क्योंकि मुझे क्षेत्ररक्षण करते हुए चोट लग गयी।

मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया लेकिन अंत में यह काफी नहीं था। ’’ कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन के कारण घर पर रहने के बारे में हरमनप्रीत ने कहा, ‘‘घर पर बैठना काफी कठिन था, जो हालात हैं हमें उसका सम्मान करना चाहिए। हमें सुरक्षित रहना चाहिए, भले ही हम खेल रहे हों या नहीं। ’’

राधा यादव (तीन मैचों में आठ विकेट) ने मैच के दौरान अपने पांच विकेट के बारे में कहा, ‘‘पांच विकेट लेकर अच्छा लगा लेकिन मैं खुश नहीं हूं क्योंकि हम हार गये। मैं पिच को देखकर काफी खुश थी क्योंकि यह स्पिन कर रही थी। योजना सरल चीजें करनी थीं, जहां तक संभव हो सामान्य रहने की थी। ’’

लॉकडाउन के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘लॉकडाउन काफी मुश्किल था, लेकिन मैंने अपनी गेंदबाजी में काफी सुधार किया। शायद यह दिख रहा है। मैं लगातार खेल रही थी इसलिये मुझे मैदान की इतनी कमी नहीं खली। ’’

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें